सऊदी युवराज की भारत यात्रा के ख़िलाफ़ विरोध-प्रदर्शन : रिपोर्ट

सऊदी युवराज की भारत यात्रा के ख़िलाफ़ विरोध-प्रदर्शन : रिपोर्ट

Posted by


सऊदी युवराज की भारत यात्रा के ख़िलाफ़ विरोध-प्रदर्शन आरंभ, “कश्मीर में मारे गए जवानों का ज़ख़्म अभी ताज़ा है मोदी साहब, आतंकवाद के अन्नदाता को देश में न आने दो”

सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान पाकिस्तान दौरे के बाद भारत यात्रा पर जा रहे हैं। इस बीच जहां पाकिस्तान में लगातार उनकी यात्रा के विरोध में धरने- प्रदर्शन हो रहे हैं वहीं भारत में भी बिन सलमान की यात्रा का विरोध आरंभ हो गया है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, यमन युद्ध, सऊदी अरब के वरिष्ठ धर्मगुरू आयतुल्लाह बाक़िर निम्र की हत्या, अपने ही देश के वरिष्ठ पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या, सऊदी अरब के मुसलमानों का लगातार जनसंहार, मिना में मारे गए हज़ारों हजियों और इस समय इराक़, सीरिया और क्षेत्र के अलग-अलग देशों और इलाक़ों में पहले तकफ़ीरी आतंकवादियों का समर्थन करने वाले सऊदी युवराज इस समय दक्षिणी एशिया के दौरे पर हैं। उनके दौरे का जहां दक्षिणी एशिया के देशों की सरकारें स्वागत कर रही हैं वहीं इन देशों की जनता लगातार विरोध कर रही है।

इस समय मोहम्मद बिन सलमान पाकिस्तान के दौरे पर हैं और उसके बाद वह भारत की यात्रा पर आने वाले हैं। पाकिस्तान में हज़ारों की संख्या में लोग बिन सलमान की यात्रा के विरोध में सड़कों पर निकले हुए हैं। वे लोग सऊदी युवराज की पाकिस्तान यात्रा को अपने देश के लिए अपमानजनक बता रहे हैं। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि “यह शर्म की बात है कि आज पाकिस्तान सरकार एक हत्यारे के स्वागत के लिए पलकें बिछाए हुए है” प्रदर्शन कर रहे लोग हाथों में यमन के मासूम बच्चों की फ़ोटो लिए हुए हैं और मांग कर रहे हैं कि जितनी जल्दी हो बिन सलमान को पाकिस्तान से वापस भेजा जाए।

दूसरी ओर पाकिस्तान के बाद सऊदी युवराज भारत की यात्रा पर जाने वाले हैं। बिन सलमान की भारत यात्रा का भी बड़े पैमाने पर विरोध हो रहा है। सऊदी युवराज के दौरे पर हो रहे विरोध-प्रदर्शनों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया है। भारत की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर रविवार को हज़ारों की संख्या में लोगों ने बिन सलमान की भारत यात्रा के विरोध में धरना-प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने भारत सरकार से मांग की है कि देश के नागरिकों को नाराज़ करके किसी ऐसे व्यक्ति को देश की धरती पर पैर न रखने दें जो इंसानियत का दुश्मन है।

प्रदर्शन में शामिल एक समाजिक कार्यक्रता ने कहा कि कश्मीर में जो आतंकवादी हमला हुआ है और उसमें हमारे देश के 40 से अधिक जवानों ने अपनी जान गंवाई है उसकी असली ज़िम्मेदार आले सऊद सरकार है। उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया में तकफ़ीरी आतंकवाद जो फूला-फला है उसका मुख्य कारण सऊदी अरब द्वारा की गई इन गुटों को वित्तीय सहायता है। इस समाजिक कार्यक्रता ने देश की सरकार से प्रश्न किया कि, एक ओर तो हम आतंकवाद से मुक़ाबले की बात करते हैं और दूसरी ओर आतंकवाद को जन्म देने वाले लोगों की स्वागत करते हैं? उन्होंने मोदी सरकार से मांग की, “कश्मीर में मारे गए जवानों का ज़ख़्म अभी ताज़ा है मोदी साहब, आतंकवाद के अन्नदाता को देश में न आने दो।

सोर्स : पारस टुडे हिंदी