आपातकाल लागू करने की घोषणा के बाद, ट्रम्प को अदालत में खींचा

आपातकाल लागू करने की घोषणा के बाद, ट्रम्प को अदालत में खींचा

Posted by

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प को देश में आपातकाल लागू करने की घोषणा के बाद जटिल स्थिति का सामना है और उन्हें अपने फ़ैसले पर अदालती कार्यवाही का सामना करना पड़ सकता है।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने संकेत किया है कि उनका प्रशासन इस मुक़द्दमे पर सुप्रिम कोर्ट में सफलता से बचाव कर लेगा। वाइट हाऊस की ओर से जारी बयान में अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की ओर से दक्षिणी सीमाओं पर आपातकाल लागू करने की घोषणा के एक घंटे बाद ही अमरीकी सिविल लेबरटीज़ यूनियन ने इस फ़ैसले के विरुद्ध अदालत जाने की घोषणा की थी।

इस बयान में कहा गया था कि दक्षिणी सीमा पर सीमा सुरक्षा और मानवीय संकट की वर्तमान स्थिति के दृष्टिगत नेश्नल सिक्युरिटी को ख़तरा है जिसकी वजह से आपातकाल लागू कर दिया गया है।

इस फ़ैसले के बाद अमरीकी सिविल लेबरटीज़ ने डिस्ट्रिक्ट कोलंबिया की अदालत में मुक़द्दमा दर्ज कराते हुए इस बयान को स्थगित करने की मांग की थी।

अदालतसे मांग की थी कि वह डोनल्ड ट्रम्प और अमरीकी रक्षा मंत्रालय को इस बयान से बाज़ रखे और दीवार निर्माण के लिए विशेष रक़म कहीं और ख़र्च न हो जाए।