गिरफ्तारी के बाद नवेद चौधरी को कोर्ट ले जाता पुलिसकर्मी ।

गिरफ्तारी के बाद नवेद चौधरी को कोर्ट ले जाता पुलिसकर्मी ।

दिल्ली वक्फ सम्पत्ति विरोध प्रदर्शन मामले में सच्चाई का नवेद हुआ बुलन्द

Posted by

दिल्ली (इस्माईल खान) – देश की राजधानी दिल्ली में लंबे समय से सत्ता के नशे में चूर आम आदमी पार्टी के कुछ कथित जिम्मेदारों द्वारा वक्फ सम्पत्तियों पर कब्ज़ा किया जाकर सत्ता की ताकत का दुरुपयोग किया जा रहा है ।

जीत के बाद बाहर आकर जश्न मनाते नवेद चौधरी और उनकी टीम ।

 

वक्फ सम्पत्तियों को इन नाजायज़ कब्ज़े धारियों से मुक्त करवाने के लिए दिल्ली का एक एनजीओ “वक्फ की आज़ादी” प्रयासरत है । उक्त एनजीओ के साबिक़ सदर जनाब नवेद चौधरी एवं उनकी टीम के द्वारा लगातार किये जा रहे विरोध से ऐसे कब्जेदारों की आंखों में चुभन होने लगी है। नावेद चौधरी और उनकी टीम द्वारा इस हेतु अनेकों बार दिल्ली के मुख्यमंत्री से भी संपर्क करने की कोशिश की गई, किंतु जब मुख्यमंत्री कार्यालय से सकारात्मक उत्तर न मिले तो नवेद चौधरी एवं उनकी टीम ने कुछ साथियों संग दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बीते 23फरवरी को शाहीन बाग ओखला में विरोध स्वरूप काले झंडे दिखाए । विरोध प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से नवेद चौधरी (सामाजिक कार्यवाकर्ता), एस एम नुरुल्लाह (राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल दिल्ली स्टेट अध्यक्ष), शहज़ाद अली (राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल दिल्ली स्टेट उपाध्यक्ष) थे, जिसके बाद शहज़ाद अली के साथ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा मार पीट की गई ।

आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा की गई मारपीट का वीडियो हुआ था वायरल….
शहजाद अली के साथ हुई मारपीट का विडीयो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद लोगों ने इस विषय मे तीखी प्रतिक्रिया भी व्यक्त की थीं, उक्त मारपीट के बाद उन्हें होलीफेमिली हॉस्पिटल में भर्ती करवाना पड़ा था, साथ ही नवेद चौधरी और एस एम नुरुल्लाह को गिरफ्तार कर पूरी रात लॉकअप में बंद रखा गया
। गौरतलब है कि दिल्ली में अब तक लाल मस्जिद क़ब्रिस्तान, उत्तम नगर क़ब्रिस्तान, तिकोना पार्क क़ब्रिस्तान, तुगलकाबाद क़ब्रिस्तान, माता सुंदरी रोड क़ब्रिस्तान पर क़ब्ज़ा हो चुका है ।
पिछले साल उत्तम नगर क़ब्रिस्तान की वजाह से इस टीम पर आम आदमी पार्टी ने एक मुकदमा भी दर्ज करवा रखा है

गिरफ्तारी के बाद नवेद चौधरी को कोर्ट ले जाता पुलिसकर्मी ।

आम आदमी पार्टी द्वारा दर्ज झूठा मुकदमा हुआ खत्म…
आज तारीख पर गए नवेद चौधरी और नुरुल्लाह के वकील एच आर खान द्वारा केस पर बहस की गई और मजिस्ट्रेट ने मुकदमें को अंडरटेकिंग कर केस को खत्म कर दिया जो कि सच की जीत के साथ ही न्याय व्यवस्था की भी जीत है एवं निश्चित ही दिल्ली के वक्फ के दलालों की हार है ।