इस्राईल के हाथों फ़िलिस्तीनियों के नरसंहार पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में निंदा प्रस्ताव पारित

इस्राईल के हाथों फ़िलिस्तीनियों के नरसंहार पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में निंदा प्रस्ताव पारित

Posted by

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में इस्राईल के हाथों वापसी मार्च में भाग लेने वाले फ़िलिस्तीनियों के हो रहे नरसंहार के ख़िलाफ़ एक निंदा प्रस्ताव पारित हुआ है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, जेनेवा में मानवाधिकार परिषद द्वारा जारी किए गए प्रस्ताव में गज़्ज़ा में इस्राईल द्वारा किए जार रहे अत्याचारों के ख़िलाफ़ हो रहे विरोध-प्रदर्शनों और फ़िलिस्तीनी जनता द्वारा किए जा रहे वापसी मार्च के दमन के लिए ज़ायोनी शासन के ज़रिए की जा रही दमनात्मक कार्यवाहियों की कड़े शब्दों में निंदा की गई है। प्रस्ताव में इस्राईली सैनिकों द्वारा फ़िलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों के विरुद्ध की जा रही अत्याचारपूर्ण कार्यवाहियों को ग़ैर-क़ानूनी, हिंसात्मक और घातक क़रार दिया गया है।

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में पारित प्रस्ताव में अंतर्राष्ट्रीय क़ानून का उल्लंघन करने वाले सभी इस्राईली अधिकारियों के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्यवाही की बात कही गई है।

उल्लेखनीय है कि इस प्रस्ताव को इस्लामी सहयोग संगठन की ओर से पाकिस्तान ने पेश किया था। प्रस्ताव 23 वोटों से पारित हो गया, जबकि इसके विरोध में 8 वोट पड़े और 15 देशों ने वोटिंग में भाग नहीं लिया। इस्राईल विरोधी प्रस्ताव ऐसी स्थिति में पास हुआ है जब इस प्रस्ताव का ज़ायोनी शासन के सबसे बड़े समर्थक अमेरिका और ब्रिटेन ने खुलकर विरोध कर रहे थे।