बीजेपी ने आतंकी धमाकों और हत्या की आरोपी प्रज्ञा सिंह को बनाया अपना उम्मीदवार

बीजेपी ने आतंकी धमाकों और हत्या की आरोपी प्रज्ञा सिंह को बनाया अपना उम्मीदवार

Posted by

मालेगांव धमाके में साध्वी प्रज्ञा, असीमानंद और कर्नल पुरोहि‍त का नाम सामने आने के बाद भारत की जांच एजेंसियों ने हिन्दू आतंकवादियों के एक गुट का भांडा फोड़ा था। इस धमाके के बाद कई अन्य धमाकों एवं साज़िशों में भी इसी गुट के होने की बात सामने आई थी।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, भारत के महाराष्ट्र राज्य के नासिक ज़िले के मालेगांब इलाक़े में हुए एक आतंकी धमाके 40 लोगों की मौत हुई थी जबकि दर्जनों घायल भी हुए थे। इस हमले के कई आरोपियों में एक हैं साध्वी प्रज्ञा जिनपर इस आतंकी हमले में शामिल होने के कई सबूत थे और भारत की कई जांच एजेंसियों ने भी उन्हें आतंकी क़रार दिया था। इन सबके बावजूद खुद को भारत की राष्ट्रवादी पार्टी कहने वाले दल भारतीय जनता पार्टी ने ऐसी आतंकी को इस देश की सबसे बड़ी जनतांत्रिक संस्था संसद में पहुंचाने के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है।

भारत के मध्य प्रदेश राज्य की भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी के टिकट पर साध्वी प्रज्ञा सिंह का नाम घोषि‍त कर द‍िया गया है। इससे पहले आतंकी धमाके आरएसएस नेता सुनील जोशी की हत्या की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ने बीजेपी ज्वॉइन की। साध्वी को मध्य प्रदेश राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में बीजेपी की सदस्यता दिलाई गई। एक निजी टीवी चैनल से बात करते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि यदि संगठन का आदेश होगा तो वह ‘धर्मयुद्ध’ लड़ने के लिए तैयार हैं। इससे पहले उन्होंने कहा था कि अभी तक मैं किंगमेकर की भूमिका में थी लेकिन अब यदि संगठन के आदेश पर किंग बनना पड़े तो वह इसके लिए तैयार हैं।

इस बीच भारतीय जनता पार्टी ने आतंकी धमाके की आरोपी को चुनावी मैदान में उतार कर एक नई राजनीति की पहल की है। इस संबंध में कई भारतीय टीकीकार कहते हैं कि मुझे तो यह समझ में नहीं आता कि देश की अधिकतर पार्टियां इस देश के युवाओं के भरोसे चलती हैं, अगर युवा इन पार्टियों के लिए अपना ख़ून पसीना न बहाएं तो यह सभी राजनीतिक पार्टियां सड़क पर आ जाएंगी, लेकिन इन सबके बावजूद राजनीतिक पार्टियां चुनाव आते ही युवाओं को भूलकर ऐसे लोगों को टिकट देती हैं जो या तो उद्योगपती होते हैं या फिल्मी सितारे या माफ़िया, बदमाश लेकिन अब तो बीजेपी ने दो क़दम आगे बढ़कर आतंकी धमाके की एक आरोपी को टिकट देकर भारतीय राजनीति को दाग़दार करने का प्रयास किया है।