क्या देश में नियम, क़ानून, न्यायपालिका, चुनाव आयोग, सब ख़त्म हो चुका है?

क्या देश में नियम, क़ानून, न्यायपालिका, चुनाव आयोग, सब ख़त्म हो चुका है?

Posted by

Ashutosh Kumar

सपने भी कुछ लोगों को बड़ी तरतीब से आते हैं. ऐसे लोगों से मुझे रश्क होता है.
मुझे तो आम लोगों की तरह ऊंटपटांग सपने ही आते हैं .

एक हंसोड़ लडका अक्सर मिलता है, जिसका चेहरा रोहित वेमुला से मिलता है. वो हर वक़्त मुझे चिढाने के मूड में रहता है. उसका साथ देने हर समय जो स्त्री तैयार खडी मिलती हैं, उसका चेहरा गौरी लंकेश से मिलता है . मेरी हकबकाहट देख कर दोनों खूब हंसते हैं.

वहीं कहीं हेमंत करकरे चले आते हैं. उनके सीने पर गोलियों के जख्म अभी भी ताज़ा लगते हैं. उन ज़ख्मोंसे ताज़ा खून रिस रहा होता है. वे भी हंसते हुए पूछते हैं, ‘अब तो पता चल गया न , मेरा बुलेटप्रूफ जैकेट किसने छुपाया है? तुम्ही ने श्राप दिया था न कि जंग के मैदान में मेरी मौत होगी?’

मैं इन सब संदिग्ध लोगों से बच कर भागना चाहता हूँ. लेकिन मैदान के दूसरे छोर पर देखता हूँ कि दाभोलकर, पानसरे और कलबुर्गी जैसे चेहरों वाले तमाम लोग रास्ता रोके खड़े हैं. उसी भीड़ में अखलाक़ और ज़ुनैद के हमशक्ल भी कई हैं. सबसे आगे नजीब की मां खडी है.

‘भागे कहाँ जा रहे हो ? पहले बताओ, नज़ीब कहाँ है? तुमने दस दस स्टैटस चेंपे, जिन पर दो हज़ार लाइकें आईं, लेकिन और क्या किया? सारी क्रांति फेसबुक पर होगी ?”

आगे पीछे के रास्ते बंद हैं, लेकिन सामने सडक पर एक मैनहोल खुला हुआ है. घबरा कर भीतर झांकता हूँ. भीतर अन्धेरा नहीं, जगमग रौशनी है. खूब सारे गुलाब खिले हुए हैं.लाल, गुलाबी, पीले, काले, और जाने किस किस रंग के.

उन्ही गुलाबों के बीच वे सब सफ़ाई मजदूर ताश खेल रहे हैं, जिनकी तस्वीरें अख़बारों में छपी थी कि मैनहोल की सफाई करते मारे गए थे. बहुत सारे बच्चे हैं, जिनका दिमागी बुखार ठीक हो गया है. बहुत सारी नन्ही बच्चियां हैं, जो बिलकुल सहमी हुई नहीं हैं.

मैं उतरने को ही होता हूँ कि बाहर खडी भीड़ मुझे जकड़ लेती है. कहती है, रुको , हमारे साथ एक सेल्फ़ी हो जाए. और चिंता मत करो. हम अपना इंसाफ़ ख़ुद वसूल लेंगे.

Er Vijay Gupta

04 महीने भी ना टिक सकी पीडब्लूडी की बनाई सड़क…

सरकार के दावें सडकों को गड्ढामुक्त करने के, और करोड़ों रूपये पानी की तरह बहाये जा रहे हैं सड़कों की मरम्मत पर I लेकिन क्या निर्माण की गुडवत्ता पर भी ध्यान है अधिकारियों का ?

जी हां, यह सीसी सड़क मायावती कॉलोनी, इंदिरा नगर की मुख्य सड़क करीब 500 मीटर लम्बी और करीब 18 लाख के खर्चे से पीडब्लूडी विभाग द्वारा मात्र 04 महीने पहले ही बनाई गयी है, बनते समय भी इस सड़क के बारे में विजय गुप्ता, सामाजिक कार्यकर्ता ने कई सवाल उठाये थे, लेकिन ठेकेदार एवं पीडब्लूडी विभाग ने सभी शिकायतों को अनसुना कर सड़क निर्माण जारी रखा था, जो आज मात्र 04 माह बाद सभी के सामने है, सड़क पूरी तरह उखड चुकी है, सड़क निर्माण के समय मनमानी करते हुए सीवर लाइन के चैम्बर्स सड़क लेवल तक उठाये ही नहीं गए थे और बाद में उन गड्ढों को मलबे से पाट दिया गया था I गुणवत्ता तो आज आप सबके सामने है ही I

अब दुबारा सड़क निर्माण कार्य शुरू हो रहा है, पीडब्लूडी विभाग के सहायक अभियन्ता श्री सुनील प्रकाश का कहना है कि सीसी सड़क बनने के बाद उस पर करीब एक हफ्ते ट्रैफिक नहीं चलना चाहिए, लेकिन यहाँ सड़क निर्माण के बाद अधिक ट्रैफिक होने के कारण यह सड़क बोल गयी I 04 माह पूर्व इस सड़क निर्माण का शुभारम्भ कैबिनेट मंत्री श्री आशुतोष टंडन जी द्वारा किया गया था I

अब कल से करीब 03″ मोटी सीसी लेयर इस सड़क पर दुबारा बिछाई जायेगी, देखना है वह कितने दिन चलती है ? क्या यही है भ्रष्टाचार मुक्त सरकार ?
विजय गुप्ता,
(सामाजिक कार्यकर्ता)

https://www.youtube.com/watch?v=2a2Gl2flzdc

Sanjay Singh AAP

Verified account

@SanjayAzadSln

क्या इस देश में नियम क़ानून न्यायपालिका चुनाव आयोग सब ख़त्म हो चुका है? जो बाबरी गिराने से लेकर शहीद हेमंत करकरे का सर्वनाश करने का खुलेआम बयान दे रही है उसको मोदी जी सभ्य शालीन और प्रताड़ित महिला बता रहे हैं , लेकिन अफ़सोस है कि चुनाव आयोग से लेकर सारी संस्थाएँ नतमस्तक हैं।


NBT Hindi News

Verified account

@NavbharatTimes

बाबरी ढांचे पर चढ़कर तोड़ा, अब वहीं राम मंदिर बनाएंगे: साध्वी प्रज्ञा

Sanghamitra

@AudaciousQuest_

You have changed your name to loot the country Ajay Bisht. That saffron robe, that ‘monk’ designation. You are exposed. UP has rejected you. You are kamal ki phool ki bhayankar bhul. Wait till 23rd May. The nation will show you your place.
#MyIndiaStrongerIndia


बेरोजगार पप्पू सिंह

@Pappu30003

मैं उस पापी को वोट कैसे दूं
जिसने तमाम गुप्त सूचनाएं उपलब्ध होने के बावजूद भी मेरे देश के 44
जवानों को मरवा दिया

बेबाक पत्रकार

@VoiceofmyBharat

मालेगांव की आतंकी प्रज्ञा सिंह का कहना है कि ‘अयोध्या जाकर बाबरी मस्जिद गिराने पर उसे गर्व है’।

ऐसे ही लोकतंत्र के गाल पर मारे गए तमाचे को गर्व की बात बताना और फिर बाद में कहना कि मुझे अधिकारी उल्टा कराकर बेल्ट से मारते थे 👍

Bhanu Mishra

@bhanumishra99

आगरा से बनारस जा रही बस का सैफ़ई के पास हुआ हादसा……
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव जी पहुँचे हॉस्पिटल और जाना घायलों का हाल ।
और घायलों को हर संभव मदद करने का भरोसा दिया।