इतिहास

मुझे गर्व है मेरे दादा पर जो कर्म सिंह चौहान राजपूत से क़ायम ख़ान बने : सिंकन्दर क़ायमख़ानी

मुझे गर्व है मेरे दादा पर जो कर्म सिंह चौहान राजपूत से क़ायम ख़ान बने : सिंकन्दर क़ायमख़ानी

14th June 2019 at 3:56 am 0 comments

جنيد الله خان ================ में सिंकन्दर कायमखानी मुझे गर्व है मेरे दादा कायम खान पर जो कर्म सिंह चौहान राजपूत से कायम खान बने अपनी स्वेच्छा से और उन्हें देखकर उनके दो बड़े भाई भी ईस्लाम में दाखिल हुए और उनके तीन भाई राजपूत ही रहे आज मुझ तक 23 […]

Read more ›
वे क़िले थे जो फ़्रान्स ने अपनी इटली, स्विट्सरलैंड, व जर्मन सीमा पर बनाए थे

वे क़िले थे जो फ़्रान्स ने अपनी इटली, स्विट्सरलैंड, व जर्मन सीमा पर बनाए थे

9th June 2019 at 12:56 am 0 comments

Anand Rajadhyaksha ============= The Maginot Line Maginot Line वे क़िले थे जो फ़्रान्स ने अपनी इटली, स्विट्सरलैंड, व जर्मनी से लगती सीमा पर बनाए थे। किलो के बीच के गैप में टैंकरोधी खम्बे गाड़े गए थे। किलो में तोपे थी, सुसज्जित सैनिक थे, उनके लिए airconditioned बैरक थी, व उन […]

Read more ›
भारतीय इतिहास के राजवंशो का क्रमवार इतिहास, जानिये!must read!

भारतीय इतिहास के राजवंशो का क्रमवार इतिहास, जानिये!must read!

8th June 2019 at 5:08 pm 0 comments

भारत प्राचीन समय से ही बहुत विशाल देश है, यह देश विश्व की महान परम्परों को अपने अंदर संजोये हुए है, विश्वभर से लोग पलायन कर भारत आते थे, यह देश एक ओर हिमालय की विशाल पर्वतशालाओं से घिरा हुआ था तो दूसरी ओर असीमित समुद्र भारत के महत्व को […]

Read more ›
नीरा आर्य की कहानी!

नीरा आर्य की कहानी!

3rd June 2019 at 11:17 am 0 comments

Narnaund नारनौंद वाया रफ़ीक चौहान एडवोकेट, करनाल, हरियाणा – India Speaks =============== नीरा आर्य की कहानी। जेल में जब स्तन काटे गए ! आज मै उनकी आत्मकथा पढ रहा था तो मुझे लगा कि आप सब के बीच इसको रखुं । नीरा आर्य (1902 – 1998) की संघर्ष पूर्ण जीवनी: […]

Read more ›
#युरोप_से_प्रभावितर_लोग_ज़रूर_सोचे

#युरोप_से_प्रभावितर_लोग_ज़रूर_सोचे

3rd June 2019 at 1:35 am 0 comments

My country mera desh इस तसवीर मे युरोपी फौज एक अफ्रीकी को पकड़ कर बान्ध कर यूरोप के एक इन्सानी चिड़ियाघर रवाना कर रही हैं ० 1900 तक युरोप मे बाकाएदा इन्सानी चिड़ियाघर मौजूद थे – और यही युरोप पूरी दुनिया मे इनसानियत और हुकूके इन्सानी की बात करता हैं […]

Read more ›
अंग्रेजों को बैन करनी पड़ी थी बहादुर शाह ज़फ़र की लिखी ये ग़ज़ल

अंग्रेजों को बैन करनी पड़ी थी बहादुर शाह ज़फ़र की लिखी ये ग़ज़ल

3rd June 2019 at 1:25 am 0 comments

My country mera desh बिहार के बक्सर में युद्ध चल रहा था. इधर 40 हज़ार की फ़ौज थी और उधर बमुश्किल 7-8 हज़ार लड़ाके रहे होंगे. इनके पास 140 तोपें थीं और ईस्ट इंडिया कंपनी के पास सिर्फ 30. इधर मुग़ल सम्राट शाह आलम, अवध के नवाब शुजाउद्दौला और बंगाल […]

Read more ›
बेल्जियम का इन्सानी चिड़ियाघर जिस मे एक अफ्रीकन गुड़िया गोरो के लिये तफ़रीह का सामान!

बेल्जियम का इन्सानी चिड़ियाघर जिस मे एक अफ्रीकन गुड़िया गोरो के लिये तफ़रीह का सामान!

3rd June 2019 at 1:18 am 0 comments

My country mera desh 1958 गोरो मेे कितनी इनसानियत थी इसका अन्दाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है के अमरीका और यूरोप मे एक वक्त मे इनसानों को पिंजरो मे बन्द करके इनपर #टिकट लगा के दिखाया जाता था और लोग जोक दर जोक देखने आते थे और इन […]

Read more ›
सिपहसालार “रूकनुद्दीन बैबरस” की दास्तान….वह ह़सब, नस़ब और वस़ाएल का मोह़ताज नहीं!

सिपहसालार “रूकनुद्दीन बैबरस” की दास्तान….वह ह़सब, नस़ब और वस़ाएल का मोह़ताज नहीं!

2nd June 2019 at 2:47 am 0 comments

जिस तरह मूसा (अ०स०) की परवरिश ज़ालिम फिरऔन के मह़ल में हुई थी , लगभग उसी तरह उसकी भी परवरिश वह़शी मंगोलों के बीच में हुई थी , तीरंदाज़ी तलवार बाज़ी की महारत भी उसने मंगोलों से ही सीखी थी , वह एक “ग़ुलाम” लेकिन क़पचाक़ तुर्क था.. कहते हैं […]

Read more ›
#भारत का इतिहास पार्ट 87 : ग्रेट मुग़ल्स (1526–1857 ई) पार्ट 5 : महान मुग़ल सम्राट ”मिर्ज़ा साहब उद्दीन बेग़ मुहम्मद ख़ान ख़ुर्रम”शाहजहाँ”

#भारत का इतिहास पार्ट 87 : ग्रेट मुग़ल्स (1526–1857 ई) पार्ट 5 : महान मुग़ल सम्राट ”मिर्ज़ा साहब उद्दीन बेग़ मुहम्मद ख़ान ख़ुर्रम”शाहजहाँ”

21st May 2019 at 1:55 am 0 comments

शाहजहाँ ============= पूरा नाम- मिर्ज़ा साहब उद्दीन बेग़ मुहम्मद ख़ान ख़ुर्रम अन्य नाम -ख़ुर्रम जन्म 5 -जनवरी, सन् 1592 जन्म भूमि -लाहौर मृत्यु तिथि -22 जनवरी, सन् 1666 मृत्यु स्थान -आगरा पिता/माता -जहाँगीर, जगत गोसाई (जोधाबाई) पति/पत्नी -अर्जुमन्द बानो (मुमताज) संतान -दारा शिकोह, शुज़ा, मुराद, औरंगज़ेब, जहाँआरा, रोशनआरा, गौहनआरा उपाधि […]

Read more ›
15 मई, वह दिन जब फ़लस्तीनियो ने अपनी ज़मीन पर जबरन बसाए गए इजराज़यल के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई

15 मई, वह दिन जब फ़लस्तीनियो ने अपनी ज़मीन पर जबरन बसाए गए इजराज़यल के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई

15th May 2019 at 8:57 pm 0 comments

Wasim Akram Tyagi ========== 15 मई! दुनिया के इतिहास का वह दिन जब फ़लस्तीनियो ने अपनी ज़मीन पर जबरन बसाए गए इजरायल के ख़िलाफ आवाज़ उठाई। पूरी दुनिया के इंसाफ पसंद लोग 15 मई को “यौम ए नकबा” के रूप मे मनाते हैं। फ़लस्तीनियों की त्रासदी की शुरूआत भी उसी […]

Read more ›