इतिहास

दुनिया का सबसे विशाल और ऊँचा द्वार फ़तेहपुर सिकरी का “बुलंद दरवाज़ा”

दुनिया का सबसे विशाल और ऊँचा द्वार फ़तेहपुर सिकरी का “बुलंद दरवाज़ा”

22nd October 2017 at 5:29 am 0 comments

बुलंद दरवाजा दुनिया का सबसे विशाल और ऊँचा द्वार है और साथ ही मुग़ल वास्तुकला का सबसे बेहतर उदाहरण है। इसे देखकर ही हमें अकबर के साम्राज्य की महानता का अंदाज हो जाता है। बुलंद दरवाजा का निर्माण 1601 AD में अकबर ने गुजरात पर मिली अपनी जीत की ख़ुशी […]

Read more ›
मुमताज़ महल का इतिहास!

मुमताज़ महल का इतिहास!

22nd October 2017 at 5:22 am 0 comments

मुमताज़ महल मुग़ल महारानी और मुग़ल शासक शाहजहाँ की मुख्य पत्नी भी थी. मुमताज की ही याद में उनके पति शाहजहाँ ने आगरा में ताजमहल का निर्माण किया था. मुमताज़ महल / Mumtaz Mahal का जन्म अरजुमंद बानू बेगम के नाम से आगरा के एक पर्शियन परीवार में अब्दुल हसन […]

Read more ›
ताजमहल का इतिहास!

ताजमहल का इतिहास!

22nd October 2017 at 5:20 am 0 comments

इश्क एक इबादत है तो ताजमहल उस इबादत की जानदार तस्वीर, मोहब्बत की इस अजिमोशान ईमारत को देखकर लोग आज भी प्यार पर भरोसा करते है, क्योकि इस प्यार में समर्पण, त्याग, ख़ुशी और वो सबकुछ है जो इश्क को मुकम्मल जहा देता है। प्यार की मिसाल माना जाने वाला […]

Read more ›
हज़रत निज़ामुद्दीन के बिना दिल्ली का कोई अस्तित्व ही नहीं है!

हज़रत निज़ामुद्दीन के बिना दिल्ली का कोई अस्तित्व ही नहीं है!

22nd October 2017 at 5:18 am 0 comments

अगर दिल्ली के बारे में कहा जाए तो यहाँ पश्चिम में बसे महान सूफी संत हजरत निजामुद्दीन औलिया की जो मशहूर दरगाह है वो किसी इन्सान के शरीर में दिल की मानिंद है ! अगर दिल काम करना बंद तो इन्सान का शरीर ही बेकार हो जाता है ऐसी ही […]

Read more ›
भगत सिंह मुस्कुराये और कहा….!!!

भगत सिंह मुस्कुराये और कहा….!!!

22nd October 2017 at 5:06 am 0 comments

भगत सिंह ने जब असेम्बली पर बम मारा तो अंग्रेज़ हुकूमत की तरफ़ से उन पर मुकदमा चलाया गया, भगत सिंह जब पेशी पर अदालत मे हाज़िर हुए तो भरी कोर्ट मे अंग्रेज़ जज ने उनसे सुवाल किया कि “भगत सिंह तुमने हमारे लोगों पर बम मारा जब की हमें […]

Read more ›
लाल किले का निर्माण मुग़ल बादशाह शाहजहाँ के ने नहीं किया था बल्कि…!!!

लाल किले का निर्माण मुग़ल बादशाह शाहजहाँ के ने नहीं किया था बल्कि…!!!

22nd October 2017 at 4:54 am 0 comments

Khan Junaidullah ============ आप केवल अनुमान लगा सकते हो कि बाबरी मस्जिद के विरूद्ध साक्ष्य किस तरह से बनाये गये होंगे नानक, कबीर, रविदास, अंबेडकर, भगत सिंह, इतिहास, साहित्य, संस्कृति पर ( चोरों की तरह) कब्ज़ा करने की संघि कोशिसें लगातार जारी हैं, दोखिये ऐतिहासिक दिल्ली के लाल किले के […]

Read more ›
21 अक्तूबर का इतिहास : 21 अक्तूबर 1833 को स्वीडन के रसायनशास्त्री और डाइनामाइट के आविष्कारक अलफ़्रेड नोबल का जन्म हुआ था!

21 अक्तूबर का इतिहास : 21 अक्तूबर 1833 को स्वीडन के रसायनशास्त्री और डाइनामाइट के आविष्कारक अलफ़्रेड नोबल का जन्म हुआ था!

21st October 2017 at 10:08 pm 0 comments

21 अकतूबर सन 1945 ईसवी को फ़्रांस में महिलाओं को पहली बार वोट डालने का अधिकार दिया गया। 21 अकतूबर सन 1948 ईसवी को संयुक्त राष्ट्र संघ ने परमाणु हथियारों को नष्ट करने के लिए रूस के प्रस्ताव को रद्द कर दिया। 21 अकतूबर सन 1950 ईसवी को चीनी सेनाओं […]

Read more ›
टीपू सुल्तान, भगत सिंह, गाँधी और नेहरु से बड़ा फ्रीडम फ़ाेईटर है : लिंगायत समुदाय के धर्मगुरु प्रकाश स्वामी!

टीपू सुल्तान, भगत सिंह, गाँधी और नेहरु से बड़ा फ्रीडम फ़ाेईटर है : लिंगायत समुदाय के धर्मगुरु प्रकाश स्वामी!

21st October 2017 at 9:55 pm 0 comments

फाइटर बता दिया है Matloo Bali Ali ============= बेंगलुरु- जहाँ एक तरफ भाजपा ने टीपू सुल्तान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है वही दूसरी तरफ कर्नाटक में लिंगायत समुदाय के बड़े धर्म गुरु जानाना प्रकाश स्वामी ने टीपू सुल्तान का महिमामंडन करते हुए मैसूर के अंतिम शासक टीपू सुल्तान को […]

Read more ›
भारत का इतिहास पार्ट 3 : पाषाण युग – 70000 से 3300 ई.पू!!!

भारत का इतिहास पार्ट 3 : पाषाण युग – 70000 से 3300 ई.पू!!!

21st October 2017 at 6:54 am 0 comments

1 7000 ई.पू. राजस्थान (सांभर) में पौधे बोने के प्रथम साक्ष्य। 2 6000 ई.पू. मेहरगढ़ (सिंध-बलूचिस्तान सीमा), बुर्ज़होम (कश्मीर) में भारत के प्राचीनतम आवास, कृषि तथा पशुपालन के अवशेष। 3 5000–4000 ई.पू. बागोर (भीलवाड़ा) तथा आदमगढ़ (होशंगाबाद) के निकट आखेटकों द्वारा भेड़-बकरी पालन के प्रथम अवशेष। 4 4000–3000 ई.पू. खेतिहारों-पशुपालकों […]

Read more ›
आर्य भारत में कब और कहाँ से आये !!!

आर्य भारत में कब और कहाँ से आये !!!

21st October 2017 at 6:13 am 0 comments

आर्य – एक खोजपूर्ण लेख आर्य कौन है ? क्या इन्होने भारत पर कब्जा किया ? महर्षि दयानन्द सरस्वती ने कहा है – जो श्रेष्ठ स्वभाव, धर्मात्मा, परोपकारी, सत्य-विद्या आदि गुणयुक्त और आर्यावर्त (aryavart) देश में सब दिन से रहने वाले हैं उनको आर्य कहते है। मनुष्य, पशु, पक्षी, वृक्ष […]

Read more ›