साहित्य

पता नहीं वो कौन थे कम से कम मेरे पिता नहीं थे!!नॉट माई बाइयोलॉजिकल फ़ादर!!

पता नहीं वो कौन थे कम से कम मेरे पिता नहीं थे!!नॉट माई बाइयोलॉजिकल फ़ादर!!

20th June 2018 at 3:43 am 0 comments

Neelam Samnani Chawla नॉट माई बाइयोलॉजिकल फादर ****************************** पता नहीं वो कौन थे कम से कम मेरे पिता नहीं थे ना ही मेने उनके साथ सालो बिताए की उन्हे पिता के रूप में देखो| पर किसी से जुड़ने के लिए हज़ारो सालो का रिश्ता होना ज़रूरी है क्या ? ज़रूरी […]

Read more ›
एक सुनार की हिक़ायत

एक सुनार की हिक़ायत

18th June 2018 at 3:15 am 0 comments

Sikander Khanjada Khan ============== एक नेक फ़ित़रत और पाक औ़रत का शोह़र सुनार था उसके घर में पानी भरने के लिए शख्स मुक़र्रर था ! जो तीस बरस से उसके घर आकर पानी भरा करता था मगर कभी उसने इस नेक औरत की तरफ ऑख उठाकर भी नही देखा था […]

Read more ›
मैं तो मरकर भी मेरी जान तुझे चाहूंगा!

मैं तो मरकर भी मेरी जान तुझे चाहूंगा!

13th June 2018 at 6:55 am 0 comments

Dhruv Gupt =============== मैं तो मरकर भी मेरी जान तुझे चाहूंगा ! भारतीय उपमहाद्वीप के महानतम गायकों में एक ‘शहंशाह-ए-ग़ज़ल’ मेहदी हसन ने अपनी भारी, गंभीर आवाज़ में मोहब्बत और दर्द को जो गहराई दी थी, वह ग़ज़ल गायिकी के इतिहास की एक दुर्लभ घटना थी। मेहदी हसन को सुनना […]

Read more ›
हमने देखा है सियासत के हाथो पिसता ये निज़ाम,,,,प्रताप

हमने देखा है सियासत के हाथो पिसता ये निज़ाम,,,,प्रताप

13th June 2018 at 2:56 am 0 comments

Vikram Partap Jp ============ दरिया देखे होंगें तूने समुन्दर नही देखा होगा रोशन करे यो चिराग वो बवंडर नही देखा होगा शोंक से देखें होगे तूने बुलंद ज़मींदोज़ महल तूने हम फकीरो का हसता खंडहर नही देखा होगा हमने देखा है सियासत के हाथो पिसता ये निज़ाम तुम मिटे हो […]

Read more ›
#देवदासी_का_मर्म : जिस्म फ़रोशी को बढ़ावा देती ”औरत” की दिल दहला देने वाली कहानी!

#देवदासी_का_मर्म : जिस्म फ़रोशी को बढ़ावा देती ”औरत” की दिल दहला देने वाली कहानी!

13th June 2018 at 1:48 am 0 comments

नीलोफर अनवर =========== #देवदासी_का_मर्म_मेरी_कलम_से वेष्या व्रत्ति ( जिस्म फरोशी ) को बढ़ावा देती औरत समाज की दिल दहला देने वाली कहानी यूँ तो मुझे आप सब #देवदासी के नाम से पुकारते हैं जिसका अर्थ #देवता_की_दासी यानी ….. #ईश्वर_की_सेवा_करने_वाली_पत्नी होता है… पर यह सच से कोसों दूर है। कुछ ऐसे जैसे […]

Read more ›
👍💐👍सभ्यता के दूसरे अंग ‘समता’ पर विचार करें👍💐👍

👍💐👍सभ्यता के दूसरे अंग ‘समता’ पर विचार करें👍💐👍

12th June 2018 at 6:34 am 0 comments

तो इस विषय में इस्लाम ने सभी अन्य सभ्यताओं को बहुत पीछे छोड़ दिया है। वे सिद्धांत जिनका श्रेय अब कार्ल मार्क्स और रूसो को दिया जा रहा है वास्तव में अरब में जन्मे। मुहम्मद सल्ल. के सिवा संसार में और कौन धर्म-प्रणेता हुआ है जिसने ख़ुदा के सिवा किसी […]

Read more ›
एक दिन जब दूर होगे तुम….

एक दिन जब दूर होगे तुम….

12th June 2018 at 6:26 am 0 comments

Sandhy A ============== पानी की आवाज़ घेरे रहती हैं मुझे आजकल , जैसे किसी गहरे अँधेरे जंगल में रास्ता भटक गयी हूँ और कहीं दूर बह रहा है एक झरना …आवाज़ की ऒर बही चली जाती हूँ …मेरे कदम के साथ एक जोड़ी और भी क़दमों की आवाज़ सुनाई देती […]

Read more ›
एक सपना : मां और कड़ी

एक सपना : मां और कड़ी

12th June 2018 at 4:58 am 0 comments

Satya Patel ============== संभव है कि मुझसे फेसबुक पर और जीवन में जुड़े कुछ मित्रों ने मेरे द्वारा कही कहानी- लाल छींट वाली लूगड़ी का सपना, पढ़ी होगी ! कुछ ने नहीं भी पढ़ी होगी ! क्योंकि रोजमर्रा के जीवन में मुझसे से जुड़े ऐसे अनेक साथी है, जो यह […]

Read more ›
अगर 100 साल तक भाजपा का शासन रहा तो कुछ इस तरह की धार्मिक कहानियों का जन्म होगा

अगर 100 साल तक भाजपा का शासन रहा तो कुछ इस तरह की धार्मिक कहानियों का जन्म होगा

10th June 2018 at 1:31 am 0 comments

आज से १०० साल तक अगर भाजपा का शासन बना रहा तो कुछ इस तरह की धार्मिक कहानियों का जन्म होगा – सूत जी बोले – हे मुनियों, मैं आपसे तीनों लोकों में विख्यात श्री नरेन्द्र मोदी जी और उनके क्रपापात्र अमित शाह का माहात्म्य फिर से कहता हूँ……ध्यान लगाकर […]

Read more ›
मैं इस कुत्ते को भीगी बिल्ली बना सकता हूँ

मैं इस कुत्ते को भीगी बिल्ली बना सकता हूँ

9th June 2018 at 7:21 am 0 comments

Rathod Dharmesh ================ एक बादशाह अपने कुत्ते के साथ नाव में यात्रा कर रहा था । उस नाव में अन्य यात्रियों के साथ एक दार्शनिक भी था । कुत्ते ने कभी नौका में सफर नहीं किया था, इसलिए वह अपने को सहज महसूस नहीं कर पा रहा था । वह […]

Read more ›