साहित्य

अरे पगली ! बस तू भी ना !

अरे पगली ! बस तू भी ना !

7th January 2018 at 1:15 am 0 comments

Tbassum Siddiqui —————– पत्नी :– सुनो जी मुझे पाँच हज़ार रुपये दे दो पति :– नहीं है ! . . पत्नी :– तो चार हज़ार दे दो पति :– नही हैं ! . . पत्नी :– अच्छा, आज के बाद मुझे छूना भी मत, बात भी मत करना ! मेरी […]

Read more ›
*सुंदर पंक्तियां *- तो फिर .. उदासियों का .. हिसाब क्या रखें .. !!

*सुंदर पंक्तियां *- तो फिर .. उदासियों का .. हिसाब क्या रखें .. !!

7th January 2018 at 12:56 am 0 comments

Chaitali Khattar – Kanpur ================ *सुंदर पंक्तियां -* *समय की .. इस अनवरत बहती धारा में ..* *अपने चंद सालों का .. हिसाब क्या रखें .. !!* *जिंदगी ने .. दिया है जब इतना .. बेशुमार यहाँ ..* *तो फिर .. जो नहीं मिला उसका हिसाब क्या रखें .. !!* […]

Read more ›
लफ़्ज़ खो आए हैं मानी अपने, बात कह दें ख़मोशियां शायद!

लफ़्ज़ खो आए हैं मानी अपने, बात कह दें ख़मोशियां शायद!

6th January 2018 at 6:23 pm 0 comments

Dhruv Gupt ============= कुछ हवा में हैं तल्खियां शायद आंधियों में हो कुछ बयां शायद लफ़्ज़ खो आए हैं मानी अपने बात कह दें ख़मोशियां शायद अभी ज़िस्मों की आंच बाकी है आज उजड़ा है आशियां शायद उस जगह हर कोई अकेला है जिस जगह हैं बुलंदियां शायद बच्चे उलझे […]

Read more ›
आज की दुनिया की हक़ीक़त_एक मरा हुआ आदमी, एक ज़िंदा आदमी को मार रहा है!

आज की दुनिया की हक़ीक़त_एक मरा हुआ आदमी, एक ज़िंदा आदमी को मार रहा है!

6th January 2018 at 12:54 am 0 comments

RP विशाल ============== एक मरा हुआ आदमी एक ज़िंदा आदमी को मार रहा है। चीख़ रहे हैं दोनों ही- एक मारने की उत्तेजना में दूसरा मरने के ख़ौफ़ में। वह आदमी जो मार रहा है पहले ही अपने को मार चुका है। और उसके माथे पर सवार है भूत कि […]

Read more ›
श्रद्धांजलि 😢🙏जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए…बहुत याद आओगी Rashmita 😢

श्रद्धांजलि 😢🙏जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए…बहुत याद आओगी Rashmita 😢

5th January 2018 at 11:45 pm 0 comments

Pinky Rajpurohit ================== लिखते हुए हाथ कांप रहे हैं, रष्मीता और मेरी दोस्ती की शुरुआत न्यूज़ नेशन के शुरुआती दिनों के वक़्त हुई थी ट्रेनिंग के दौरान मेरी रूममेट भी रही। एक महीने एक साथ और न्यूज़ नेशन के दिनों की रिपोर्टिंग…. इस बीच ऑफिस में बताया गया कि रष्मीता […]

Read more ›
भयंकर शायरी…रोक दो मेरे जनाजे को अब  मुझमे जान आ रही हैं..

भयंकर शायरी…रोक दो मेरे जनाजे को अब मुझमे जान आ रही हैं..

3rd January 2018 at 4:08 pm 0 comments

Chaitali Khattar _ Kanpur =============== भयंकर शायरी रोक दो मेरे जनाजे को अब मुझमे जान आ रही हैं.. आगे से थोडा राईट ले लो दारु की दूकान आ रही हैं | “बोतल छुपा दो कफ़न में मेरे, शमशान में पिया करूंगा, जब खुदा मांगेगा हिसाब, तो पैग बना कर दिया […]

Read more ›
चले गये शायर अनवर जलालपुरी, मुख्यमंत्री ने किया दुःख व्यक्त, सोशल मीडिया पर लोगों ने दिया ख़िराज-ए-अक़ीदत

चले गये शायर अनवर जलालपुरी, मुख्यमंत्री ने किया दुःख व्यक्त, सोशल मीडिया पर लोगों ने दिया ख़िराज-ए-अक़ीदत

3rd January 2018 at 1:21 am 0 comments

लखनऊ।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने मशहूर शायर श्री अनवर जलालपुरी के निधन पर दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति हार्दिक संवेदना भी व्यक्त की। उल्लेखनीय है कि श्री अनवर जलालपुरी द्वारा लिखी गयी पुस्तक ‘उर्दू […]

Read more ›
दुआ_कोई ग़म न हो किसी को, कोई आह भर न निकले_’कमला सिंह “ज़ीनत”

दुआ_कोई ग़म न हो किसी को, कोई आह भर न निकले_’कमला सिंह “ज़ीनत”

3rd January 2018 at 1:09 am 0 comments

दुआ ________ यही मख़मली हो रौनक यही शरबती फिजा़यें यही गुनगुनी शोआयें यही नरगिसी अदायें कोई ग़म न हो किसी को कोई आह भर न निकले कोई चीख़ता न जाये कोई रतजगा न पाये खिली धूप उतरे आँगन हर इक छत पे शबनमी हो किसी को न ज़ख़्म उतरे सभी […]

Read more ›
सीमुर्ग़ की कहानी – पार्ट 1

सीमुर्ग़ की कहानी – पार्ट 1

31st December 2017 at 4:33 am 0 comments

प्राचीन काल की बात है कि एक निर्धन और ग़रीब आदमी था कि जो अपने बीवी बच्चों के साथ रहता था। यह व्यक्ति कोई काम धाम नहीं करता था और इधर उधर आवारा फिरता रहता था, यहां तक कि उसकी पत्नी ने एक दिन उससे कहा, जाओ कोई काम धाम […]

Read more ›
मलिक मुहम्मद और लंगड़े दैत्य की कहानी : पार्ट 3

मलिक मुहम्मद और लंगड़े दैत्य की कहानी : पार्ट 3

31st December 2017 at 4:30 am 0 comments

हमने आपको यह बताया था कि पुराने ज़माने में एक राजा था जिसके साथ बेटे थे। ६ बेटे एक बीवी से और एक बैटा दूसरी बीवी से था जिसका नाम मलिक मो हम्मद था। राजा ने अपने बेटों से कहा था कि जो भी उसके लिए सोने के पिंजड़े में […]

Read more ›