ब्लॉग

2019 चुनाव तैयारी की सबसे अहम बैठक आज हुई जब नरेंद्र मोदी व पीयूष गोयल ने 30 बड़े पूँजीपतियों के साथ पूरे 3 घंटे बिताए!

2019 चुनाव तैयारी की सबसे अहम बैठक आज हुई जब नरेंद्र मोदी व पीयूष गोयल ने 30 बड़े पूँजीपतियों के साथ पूरे 3 घंटे बिताए!

27th June 2018 at 2:12 pm 0 comments

– Mukesh Aseem 2019 चुनाव तैयारी की सबसे अहम बैठक आज हुई जब नरेंद्र मोदी व पीयूष गोयल ने 30 बड़े पूँजीपतियों के साथ पूरे 3 घंटे बिताए, पहले 45 मिनट सामूहिक, फिर कुछ के साथ अकेले-अकेले। आम लोगों के लिए मन की बात सुनाने के बजाय मोदी ने शुरू […]

Read more ›
संघी लोग बहुत भले हैं, मामले को समझिए 🌎

संघी लोग बहुत भले हैं, मामले को समझिए 🌎

27th June 2018 at 1:15 pm 0 comments

Satyendra PS ============= संघी लोग बहुत विनम्र गांधीवादी होते हैं। अंग्रेजों ने अच्छे से कूट दिया तो उस समय माफीनामा लिखे। इतना ही नहीं, भारत विभाजन हो गया, उसके लिए भी अंग्रेजों को नहीं, गांधी नेहरू को दोषी बताते हैं। अंग्रेजों को पूजते हैं। गांधीकी हत्या हुई तो सरदार पटेल […]

Read more ›
#Justice_For_Sanskriti_पूरे देश मे “आफ़तकाल” है और मोदीजी आपातकाल का रोना रो रहे हैं!

#Justice_For_Sanskriti_पूरे देश मे “आफ़तकाल” है और मोदीजी आपातकाल का रोना रो रहे हैं!

27th June 2018 at 12:48 pm 0 comments

Mohammad Arif Dagia ============ पूरे देश मे ” आफ़तकाल ” चल रहा है , और मोदीजी आपातकाल का रोना रो रहे हैं। बलिया की बेटी संस्कृति राय की लखनऊ में निर्मम हत्या के बाद उनकी बहन अब पढ़ने बाहर नही जाना चाहती है क्योंकि उसे खौफ है कि उसके साथ […]

Read more ›
आरएसएस प्रमुख देवरस ने आपातकाल में इंदिरा गांधी को कई पत्र लिख कर माफ़ी मांगी थी

आरएसएस प्रमुख देवरस ने आपातकाल में इंदिरा गांधी को कई पत्र लिख कर माफ़ी मांगी थी

27th June 2018 at 5:47 am 0 comments

साभार : पंकज चतुर्वेदी ======== खुफिया ब्यूरो (आईबी) के पूर्व प्रमुख टीवी राजेश्वर सिक्किम और उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रहे. उनकी पुस्तक है – क्रुसियल इ यर्स . २०१५ में इंडिया टुडे टी वी के कर्ण थापर शो में उन्होंने बताया था कि संघ के प्रमुख बाला साहेब देवरस ने […]

Read more ›
बुरे फंसे सीरियाई विद्रोही, अमरीका ने दिया धोखा

बुरे फंसे सीरियाई विद्रोही, अमरीका ने दिया धोखा

26th June 2018 at 11:40 pm 0 comments

सीरिया के राष्ट्रपति बश्शार असद ने दक्षिण पश्चिमी सीरिया के इलाक़ों दरआ, क़ुनैतरा और हूरान में विद्रोही चरमपंथी संगठनों के सामने दो विकल्प रखे हैं तीसरा कोई रास्ता नहीं है। रशा टुडे से विस्तृत बातचीत में बश्शार असद ने कहा कि यह चरमपंथी संगठन या तो शांति का रास्ता स्वीकार […]

Read more ›
शराब और गोरक्षा : शराब पर 20 % गोरक्षा ”कर”

शराब और गोरक्षा : शराब पर 20 % गोरक्षा ”कर”

26th June 2018 at 5:17 am 0 comments

‎Ajay Tiwari‎ ——————-//🔴// मेरे मित्र कर्मेंदु शिशिर कहते हैं दैनन्दिन राजनीति पर मत लिखो। उनका कहना मानकर लगभग बंद कर दिया। लेकिन माहौल ऐसा है कि कभी-कभी हँसी रोकना असंभव हो जाता है। अब देखिए, राजस्थान सरकार ने अनोखा क़दम उठाया है—शराब पर २०% गोरक्षा कर लगाया है! अब वहाँ […]

Read more ›
बीमारी, ग़रीबी और विकास : बदहाली के सरकारी आंकड़े

बीमारी, ग़रीबी और विकास : बदहाली के सरकारी आंकड़े

26th June 2018 at 3:52 am 0 comments

भारत में, इंडिया स्पेंड 2018 की रिपोर्ट के अनुसार हर साल 3 करोड़ 90 लाख लोग बीमारी पर हुए खर्च की वजह से गरीबी रेखा से नीचे चले जाते हैं, यानी अंदाज़ कीजिये कि भारत में बीमारी और गरीबी कितने समन्वय के साथ काम कर रही है। स्वास्थ्य सुविधा के […]

Read more ›
#गाँव_के_ग़रीबों_से : जातिभेद और भेदग्रस्त जातियाँ

#गाँव_के_ग़रीबों_से : जातिभेद और भेदग्रस्त जातियाँ

25th June 2018 at 3:35 pm 0 comments

लेखांश \ सव्यसाची • जातिभेद और भेदग्रस्त जातियाँ #गाँव_के_ग़रीबों_से कुछ लोगों का मानना है कि बच्चे के जन्म से ही उसकी जाति तय हो जाती है लेकिन ये सही नहीं है । क्योंकि : समाज में जाति जन्म से नहीं, पैसे से तय होती है, और पैसे के साथ यह […]

Read more ›
#अपनी_बात _25 जून : भिवानी में माहौल एक तरह से “आपात्कालीन” था

#अपनी_बात _25 जून : भिवानी में माहौल एक तरह से “आपात्कालीन” था

25th June 2018 at 3:32 pm 0 comments

Pradeep Kasni =============== देश का नहीं पता, हमारे भिवानी में तो 1975 की आपात्काल की औपचारिक और क़ानूनसम्मत घोषणा से पहले ही माहौल एक तरह से “आपात्कालीन” था। स्थानीय जनता की नज़रों के ऐन सामने साफ़ दीखता हुआ नहीं, पर कुछ लोगों के अपने अनुभव के अन्तराँगन में एकदम साक्षात्। […]

Read more ›
आप लोग बाहर के है मामला नही समझते,,,दलाली करते रहिये और गंगा जमनी तहज़ीब बचाते रहिये

आप लोग बाहर के है मामला नही समझते,,,दलाली करते रहिये और गंगा जमनी तहज़ीब बचाते रहिये

25th June 2018 at 2:35 am 0 comments

कोई भी राष्ट्रवाद अपने भीतर के नागरिकों के समूह की निष्ठां पर शक़ करे, वह राष्ट्रवाद नहीं नौटंकी है, कोई प्लान है जनता के एक बड़े तबक़े को ख़त्म करने का, उससे उसकी नागरिकता छीन लेने के लिए, राष्ट्रवाद आतंकवाद है, एक दुकान है राष्ट्रवाद, फ़र्ज़ी देशभक्ति और राष्ट्रवाद से […]

Read more ›