धर्म

ख़ौफ़े खुदावंदी से रोना एक मंदूब फ़ेअ़ल है!

ख़ौफ़े खुदावंदी से रोना एक मंदूब फ़ेअ़ल है!

19th October 2017 at 1:30 am 0 comments

Sikander Kaymkhani ================ #अल्लाह_के_ज़िक्र_और_ख़ौफ़_के_सबब_गिरिया_ओ ज़ारी ख़ौफ़े खुदावंदी से रोना एक मंदूब फेअ़ल है और ये किताब और सुन्नत दोनों से साबित है। चुनांचे अल्लाह سبحانه وتعالیٰ फ़रमाता हैः اَفَمِنْ هٰذَا الْحَدِيْثِ تَعْجَبُوْنَۙ (*) وَ تَضْحَكُوْنَ وَ لَا تَبْكُوْنَۙ अब क्या तुम इस कलाम पर ताज्जुब करते हो? और हंसते हो […]

Read more ›
#ख़िलवत_और_जिलवत_में_ख़ौफ़_ए_ईलाही!

#ख़िलवत_और_जिलवत_में_ख़ौफ़_ए_ईलाही!

19th October 2017 at 1:17 am 0 comments

Sikander Kaymkhani ============ #खिलवत_और_जिलवत_में_ख़ौफ़_ए_ईलाही FEAR of GOD अल्लाह रब्बुलइज़्ज़त की ख़शीयत (डर) का होना फ़र्ज़ है, और किताब और सुन्नत इस पर दलील हैं, चुनांचे अल्लाह سبحانه وتعالیٰ ने कु़रान मजीद में इसका ज़िक्र फ़रमायाः وَ اِيَّايَ فَاتَّقُوْنِ और मुझ से ही डरो। (तर्जुमा मआनिये क़ुरआने करीम: बक़रह -41) وَ […]

Read more ›
#ईस्लाम_मतलब_शांति_अमन!

#ईस्लाम_मतलब_शांति_अमन!

18th October 2017 at 2:27 am 0 comments

Sikander Kaymkhani ================ इस्लाम का मतलब है शांति और मानवता से प्यार करना लेकिन इन दिनों तो दुनिया में इस्लाम को लेकर बहुत सारी गलत धारणाएं हैं। इस्लाम एक ऐसा धर्म है, जिसे लोगों ने सही समझा नहीं है, क्यों कि उन्हें इसकी मूल बातें पता नहीं हैं। इस्लाम अन्य […]

Read more ›
महिलाओं के लिए प्रेरणा….#हज़रत ख़दीजा रजि. : VIDEO

महिलाओं के लिए प्रेरणा….#हज़रत ख़दीजा रजि. : VIDEO

18th October 2017 at 1:38 am 0 comments

‎Sikander Kaymkhani‎ ====== . इस्लाम धर्म में हज़रत खदीजा (रज़ि.) का नाम बहुत आदर से लिया जाता है। वे महान पैगम्बर हजरत मुहम्मद (सल्ल.) की पत्नी थीं। उनके बारे में ऐसी अनेक बातें हैं जो आज भी सबके लिए प्रेरणादायक कही जा सकती हैं,खासतौर से महिलाओं के लिए। जानिए हज़रत […]

Read more ›
#जितना ज़्यादा इस्लाम का दुष्प्रचार किया #इस्लाम, उतनी ही तेज़ी से फैलता चला गया!

#जितना ज़्यादा इस्लाम का दुष्प्रचार किया #इस्लाम, उतनी ही तेज़ी से फैलता चला गया!

16th October 2017 at 11:38 pm 0 comments

#इस्लाम_का_दुष्प्रचार #इस्लाम_फैलने_की_वजह_बना. वो ईश्वर तब भी उतना ही महान था जब एक भी मुसलमान नहीं था और आज भी उतना ही महान है जब एक तिहाई दुनिया में मुसलमान है इंसान उसकी इबादत करे या ना करे उसकी शान में कमी आने वाली नहीं है नुक्सान उस इंसान को हे […]

Read more ›
क़यामत और पुलसरात क्या चीज़ है ???

क़यामत और पुलसरात क्या चीज़ है ???

16th October 2017 at 5:12 am 0 comments

Khalid Aijaz ============== क़यामत … जब अल्लाह हर ज़िन्दा चीज़ पे मौत तारी करने का हुक्म देगा, अल्लाह अपने फ़रिश्ते इसराफ़ील अलैहिस्सलाम से सूर फूकने को कहेगा, सूर को पहली मर्तबा फूकने पर ज़मीनो-आसमान की हर चीज़ तबाह हो जाएगी, हर मखलूक़ मौत के घाट उतर जाएगी, सिवाय उनके जिन्हे […]

Read more ›
*दूध भी मांसाहार है इससे कामवासना बढती है…*ओशो मत*

*दूध भी मांसाहार है इससे कामवासना बढती है…*ओशो मत*

15th October 2017 at 8:56 am 0 comments

ओशो मत समीक्षा–डा मुमुक्षु आर्य ================= वेद को छोड जो अन्यत्र परिश्रम करता है ऋषियों ने उसे मूढ कहा है…पतंजलि का अष्टांग योग ही सर्वागींण है,सम्पूर्ण है ,वेदानुकूल है…शेष सब मात्र मन की एकाग्रता को बढाने के लिये प्रारम्भिक प्रक्रियाऐं हैं… सब दर्शन शास्त्रों का निचोड महर्षि दयानंद ने बडी […]

Read more ›
*पिता के वीर्य और माता के गर्भ के बिना जन्मे पौराणिक पात्रों की सोलह पौराणिक कथाएं*

*पिता के वीर्य और माता के गर्भ के बिना जन्मे पौराणिक पात्रों की सोलह पौराणिक कथाएं*

15th October 2017 at 8:48 am 0 comments

Mudit Mishra ===================· पिता के वीर्य और माता के गर्भ के बिना जन्मे पौराणिक पात्रों की सोलह पौराणिक कथाएं हमारे हिन्दू धर्म ग्रंथो वाल्मीकि रामायण, महाभारत आदि में कई ऐसे पात्रों का वर्णन है जिनका जन्म बिना माँ के गर्भ और पिता के वीर्य के हुआ था। 1. धृतराष्ट्र, पाण्डु […]

Read more ›
इस्लाम के विषय में महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर : मुसलमान काबा की पूजा करते हैं!

इस्लाम के विषय में महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर : मुसलमान काबा की पूजा करते हैं!

15th October 2017 at 8:39 am 0 comments

Khan Junaidullah =================== इस्लाम के विषय में महत्वपूर्ण प्रश्न और उनके उत्तर  मुसलमान काबा की पूजा करते हैं। पार्ट -१ प्रश्नः यद्यपि इस्लाम में मूर्ति पूजा वर्जित है परन्तु मुसलमान काबे की पूजा क्यों करते हैं? और अपनी नमाज़ों के दौरान उसके सामने क्यों झुकते हैं? उत्तरः काबा हमारे लिये […]

Read more ›
ऐसा था ‘सुल्तान महमूद गज़नवी’ का इन्साफ़!

ऐसा था ‘सुल्तान महमूद गज़नवी’ का इन्साफ़!

15th October 2017 at 12:01 am 0 comments

एक मर्तबा सुल्तान महमूद गजनवी से एक बुढ़िया ने कहा कि हुज़ूर आपका नालायक भतीजा रात को मेरे घर मे घुस जाता है मेरे घर मे जवान बेटी है, अब इसके आगे मै कुछ नही कह सकती । सुल्तान ने कहा कि अब वो तेरे घर आए तो तू मुझे […]

Read more ›