धर्म

युगपरिवर्तन और श्रीमद्भगवद्गीता का जीवन-सन्देश

युगपरिवर्तन और श्रीमद्भगवद्गीता का जीवन-सन्देश

15th July 2018 at 9:48 pm 0 comments

‎Girish Choubey Govardhan‎ वाया मुदित मिश्र विपश्यी ================== [९७-१] युगपरिवर्तन और श्रीमद्भगवद्गीता का जीवन-सन्देश (श्लोक ३.३ का विस्तृत विवेचन) :- श्रीभगवानुवाच – (जनार्दन केशव श्रीकृष्ण ने कहा)- लोकेऽस्मिन्द्विविधा निष्ठा पुरा प्रोक्ता मयानघ | ज्ञानयोगेन साङ्ख्यानां कर्मयोगेन योगिनाम् || ||३.३|| अन्वय और शब्दार्थ – लोके = लोक में; अस्मिन् = इस; […]

Read more ›
धर्म के दस लक्षण ___________

धर्म के दस लक्षण ___________

15th July 2018 at 9:45 pm 0 comments

‎Krishna Kumar‎ वाया श्रुति-दर्शन ============== धर्म के दस लक्षण ___________ धृति: क्षमा दमोऽस्तेयं शौचमिन्द्रियनिग्रह: । धीर्विद्या सत्यमक्रोधो दशकं धर्मलक्षणम् ॥ ६।९२ ॥ अर्थात् धृति, क्षमा, दम, अस्तेय, शौच, इन्द्रियनिग्रह, धी, विद्या, सत्य और अक्रोध – ये धर्म के दश लक्षण हैं । आइये, इनको हम एक-एक करके समझते हैं । […]

Read more ›
मौत के बाद क़ब्र में होने वाले सवाल – जवाब

मौत के बाद क़ब्र में होने वाले सवाल – जवाब

15th July 2018 at 5:37 am 0 comments

क़ब्र में सवाल जवाब का होना सभी शियों का अक़ीदा है, लेकिन कैसे और किस समय सवाल जवाब होंगे इस बारे में उलमा ने अलग अलग बातें बयान की हैं, पैग़म्बर स.अ. से हदीस नक़्ल हुई है जिसमें आपने फ़रमाया कि अल्लाह के दो फ़रिश्ते हैं जिनका नाम मुन्किर और […]

Read more ›
मुसलमानों के आपसी मतभेद को लेकर पैग़म्बर स.अ. की फ़िक्र

मुसलमानों के आपसी मतभेद को लेकर पैग़म्बर स.अ. की फ़िक्र

15th July 2018 at 5:20 am 0 comments

पैग़म्बर स.अ. ने अपने बाद मुसलमानों में मतभेद और किसी तरह की फूट न हो इसीलिए अपने जीवन ही में उसका हल बता दिया था, और एकता और आपसी भाई चारे के सबसे बेहतरीन नुस्ख़े की ओर इशारा करते हुए मुसलमानों को क़ुर्आन और अहलेबैत अ.स. से हमेशा जुड़े रहने […]

Read more ›
दुआ के क़ुबूल होने की शर्तें

दुआ के क़ुबूल होने की शर्तें

15th July 2018 at 5:12 am 0 comments

अल्लाह से किए गए अहद और पैमान पर अमल करना, ईमान, नेक अमल और अमानतदारी भी दुआ के क़ुबूल होने की शर्तों में से है, क्योंकि जो शख़्स अल्लाह से किए गए अहद और पैमान को नहीं निभा सकता उसे अल्लाह के दुआ की क़ुबूल करने के वादे से उम्मीद […]

Read more ›
शायद आप भी यही चाहते हों!

शायद आप भी यही चाहते हों!

15th July 2018 at 5:04 am 0 comments

इस तरह शरीयत ने हमारा काम आसान कर दिया, अब यहां एक चीज़ पर ध्यान देना ज़रूरी है वह यह कि अगर आप गोश्त ख़रीद रहे हैं और आप को यह नहीं मालूम कि यह इस्लामी तरीक़े से ज़िबह हुआ है या नहीं (यानी अल्लाह का नाम लेकर और क़िबले […]

Read more ›
अल्लाह ने खाने पीने की चीज़ों के आलावा सिर्फ़ पांच चीज़ें हराम क़रार दी हैं, वह चीज़ें क्या हैं जान लीजिये : वीडियो

अल्लाह ने खाने पीने की चीज़ों के आलावा सिर्फ़ पांच चीज़ें हराम क़रार दी हैं, वह चीज़ें क्या हैं जान लीजिये : वीडियो

8th July 2018 at 3:55 pm 0 comments

अल्लाह ने खाने पीने की चीज़ों के आलावा सिर्फ़ पांच चीज़ें हराम क़रार दी हैं, वह चीज़ें क्या हैं जान लीजिये – अल्लाहताला कहते हैं मैने बदकारी को हराम क़रार दिया है – अल्लाहताला कहते हैं मैने हक़तल्फ़ी हराम क़रार दिया है – अल्लाहताला कहते हैं मैने किसी की जान, […]

Read more ›
औरत चाहे तो अपने घर को जन्नत बना सकती है

औरत चाहे तो अपने घर को जन्नत बना सकती है

7th July 2018 at 1:42 am 0 comments

Khalid Aijaz ============= गर बीवी हो ऐसी तो शौहर पागल पन की हद तक मुहब्बत क्यूँ ना करे ? एक तजुरबे कार उमर याफ़ता बा वक़ार टैलेंटेड ख़ातुन का इंटरव्यु जिन्होंने अपने शौहर के साथ पचास साल का अरसा पुर सुकुन तरीक़े से हंसी खुशी गुज़ारा । ख़ातुन से पूछा […]

Read more ›
यहूदियों का ज़वाल और उरूज में उम्मते मुस्लिम के लिए इबरत

यहूदियों का ज़वाल और उरूज में उम्मते मुस्लिम के लिए इबरत

6th July 2018 at 10:27 pm 0 comments

यहूदी यानी बनी इसराईल, ये नबियों की औलादें हैं. ये वो क़ौम है जिसको अल्लाह ने तमाम जहान वालों पर फ़ज़ीलत दी थी. मगर इन्होंने बार बार अल्लाह की नाफ़रमानियाँ कीं, नबियों का क़त्ल किया, अल्लाह के अहकामात की ख़िलाफ़वरज़ी की, अल्लाह के दीन में फ़िरक़े बनाये, बातिल से याराने […]

Read more ›
इस्लाम क्या है और मुस्लिम किसे कहते है : संशित परिचय

इस्लाम क्या है और मुस्लिम किसे कहते है : संशित परिचय

6th July 2018 at 10:25 pm 0 comments

#_इस्लाम_क्या_है_? “..सम्पूर्ण प्रशंशा उस एक सत्य इश्वर (अल्लाह) के लिए है जो सारे संसार का रचियेता और पालनकर्ता है, और इश्वर की शांति और कृपा हो उसके अंतिम संदेष्ठा मुहम्मद सलाल्लाहो अलैहि वसल्लम पर|..” इस्लाम धर्म एक ऐसा धर्म है जिसके बारे में खुद मुसलमानों को और गैरमुसलमानो को सबसे […]

Read more ›