धर्म

#इस्लाम ने मनुष्य को ज़िम्मेदार इन्सान बनाया : अल्लाह के ख़ास बन्दे पार्ट 9

#इस्लाम ने मनुष्य को ज़िम्मेदार इन्सान बनाया : अल्लाह के ख़ास बन्दे पार्ट 9

2nd May 2018 at 2:53 pm 0 comments

पैग़म्बरे इस्लाम के अनुसार पवित्र क़ुरआन के दो स्वरूप हैं एक विदित व दूसरा आंतरिक, इसीलिए यह किताब बहुत अधिक प्रभावी रही है। पवित्र क़ुरआन के संदेश ने अनेकेश्वरवादियों को ईमान, नैतिकता और भलाई का निमंत्रण देकर उनका निरस्त्रीकरण कर दिया जबकि पवित्र क़ुरआन की मंत्रमुग्ध करने देने वाली आयतों […]

Read more ›
पवित्र क़ुरआन पार्ट 30_हिंदी अनुवाद ‘सूरए अर रूम’

पवित्र क़ुरआन पार्ट 30_हिंदी अनुवाद ‘सूरए अर रूम’

2nd May 2018 at 2:50 pm 0 comments

30 सूरए अर रूम ============== सूरए अर रूम मक्के में नाजि़ल हुआ और इसकी साठ (60) आयतें हैं ख़ुदा के नाम से (शुरु करता हूँ) जो बड़ा मेहरबान निहायत रहम वाला हैं अलिफ़ लाम मीम (1) (यहाँ से) बहुत क़रीब के मुल्क में रोमी (नसारा एहले फ़ारस आतिश परस्तों से) […]

Read more ›
सम्पूर्ण महाभारत पार्ट 1 : महाभारत आदि पर्व अध्याय 1 श्लोक 1-11 प्रथम (1)

सम्पूर्ण महाभारत पार्ट 1 : महाभारत आदि पर्व अध्याय 1 श्लोक 1-11 प्रथम (1)

2nd May 2018 at 2:18 pm 0 comments

महाभारत आदि पर्व अध्याय 1 श्लोक 1-11 प्रथम (1) ================ अध्‍याय आदि पर्व (अनुक्रमणिका पर्व) महाभारत: आदिपर्व: प्रथम अध्याय: श्लोक 1-11 का हिन्दी अनुवाद वेदव्यास ब‍दरिकाश्रम निवासी प्रसिद्ध ऋषि श्री नारायण तथा श्री नर[1], उनकी लीला प्रकट करने वाली भगवती सरस्‍वती और उसके वक्‍ता महर्षि वेदव्‍यास को नमस्‍कार कर आसुरी […]

Read more ›
जिनकी नाक चपटी है, या जो अंधे या लूले हैं, वे ईश्वर के पूजास्थल में प्रवेश नहीं कर सकते

जिनकी नाक चपटी है, या जो अंधे या लूले हैं, वे ईश्वर के पूजास्थल में प्रवेश नहीं कर सकते

2nd May 2018 at 2:06 pm 0 comments

स्वास्तिका शर्मा =================== #ईश्वरीय_चुटकुलें — सनातन की वैदिक साहित्यिक लेखन का अर्थ का अनर्थ करके माजक उड़ाने वाले और धार्मिक मान्यताओं का उपहास उड़ाने वाले सभी मतों के कुछ ईश्वरीय चुटकुले रोजाना डालूँगा आज से, आज ईसाई समुदाय के ईश्वरीय चुटकुलों का आनंद लीजिये — -एक खेत में एक साथ […]

Read more ›
रूमी और उनके गुरू शम्स तबरेज़

रूमी और उनके गुरू शम्स तबरेज़

2nd May 2018 at 2:00 pm 0 comments

Das Baghotia =============== रूमी और उनके गुरू शम्स तबरेज़ वेदो मे प्रमाण है कि पूर्ण परमात्मा तीन प्रकार से लीला करता है — १. कही पर भी प्रकट होकर –अच्छी आत्माओ को ज्ञान उपदेश हेतु अपने तीसरे मुक्ति धाम से बिजली की सी गति से चलकर आते है २. बालक […]

Read more ›
#स्त्रियों_के_इस्लामी_विधान_और_अज्ञानियो_की आपत्ति!

#स्त्रियों_के_इस्लामी_विधान_और_अज्ञानियो_की आपत्ति!

1st May 2018 at 8:35 pm 0 comments

सिकंदर खान कायमखानी ============= अम्मी आइशा रज़ि. की ये दोनों और ऐसी ही दूसरी रिवायतें लेकर कुछ गैर मुस्लिम इस्लाम का मज़ाक उड़ाया करते हैं, नबी सल्ल. का अपमान किया करते हैं, क्योंकि उन अज्ञानियों को इन बातों मे अश्लीलता नजर आती है, और वे लोग इन बातों को हदीस […]

Read more ›
इस्लाम में मजदूर दिवस!! मजदूर का पसीना सुखने से पहले उसे उसकी मजदूरी दे दी जाए

इस्लाम में मजदूर दिवस!! मजदूर का पसीना सुखने से पहले उसे उसकी मजदूरी दे दी जाए

1st May 2018 at 8:28 pm 0 comments

सलमान सिद्दीकी ================== एक मई का दिन तो हर साल आता है, लोग एक दूसरे को मजदूर दिवस की बधाई देते हैं, परंतु क्या इस्लाम में मजदूर दिवस के मानी यही है ? आइए आपको बताते हैं इस मजदूर दिवस का इतिहास और इस्लाम में मजदूरों का महत्व, और क्या […]

Read more ›
अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस और इस्लाम!!“जो अपने हाथ से कमा कर खाते हैं वह सबसे पवित्र रोज़ी है”

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस और इस्लाम!!“जो अपने हाथ से कमा कर खाते हैं वह सबसे पवित्र रोज़ी है”

1st May 2018 at 8:22 pm 0 comments

सलमान सिद्दीकी‎ =================== मजदूर जिनके परिश्रम से दुनिया में रंगीनियां हैं, वे मजदूर जिनके सहारे हम ऐश और इशरत की जींदगी गुज़ार रहे हैं, वह मजदूर जो खून पसीना एक करके हम तक आहार पहुंचा रहे हैं, लेकिन अजीब विडंबना है कि आज भी मजदूरों का यह तबका बहुत दुखद […]

Read more ›
क्या श्रीराम शूद्र विरोधी थे, क्या उन्होने शंबूक का वध किया था ?

क्या श्रीराम शूद्र विरोधी थे, क्या उन्होने शंबूक का वध किया था ?

1st May 2018 at 4:14 pm 0 comments

Jatin Divecha ====================== श्रीराम जी पर लगाए जाने आरोप कितने सही हैं? क्या श्रीराम जी शूद्र विरोधी थे? क्या उन्होने शंबूक का वध किया था ? क्या उन्होने गर्भवती सीता को छोड़ दिया था? क्या उनका या उनके भाइयों का लवकुश से युद्ध हुआ था? क्या सीता जी धरती मे […]

Read more ›
संसार में मानव काया में यदि जन्म मिला है तो उसका कुछ प्रयोजन अवश्य ही है

संसार में मानव काया में यदि जन्म मिला है तो उसका कुछ प्रयोजन अवश्य ही है

1st May 2018 at 1:31 pm 0 comments

देववाणी संस्कृत ================== . चरैवेति चरैवेति–१ संसार में मानव काया में यदि जन्म मिला है तो उसका कुछ प्रयोजन अवश्य ही है, अन्यथा पशु-पक्षी ही बने होते । हम उन अरबों-खरबों जीवों में से अनूठे और श्रेष्ठ हैं जिनको नियति ने इस दिव्य रथ पर बिठाया है । कितना सुन्दर […]

Read more ›