धर्म

आयतें और निशानियां : क्योंकि तुम सिर्फ़ नसीहत करने वाले हो : पार्ट 1

आयतें और निशानियां : क्योंकि तुम सिर्फ़ नसीहत करने वाले हो : पार्ट 1

5th June 2018 at 3:46 am 0 comments

दुनिया और उसकी प्रकृति की ओर एक गतिशील नज़र डालने के बाद ही हम इस दुनिया की सच्चाई को पहचान सकते हैं। दुनिया का सबसे अच्छा और सबसे सुंदर ज्ञान ईश्वर को पहचानना है। ईश्वर की उपासना से मनुष्य को वह स्थिति प्राप्त होती है जहाँ से वह अधिक सूक्ष्मता, […]

Read more ›
इस्लाम बहुत ही शान्ति का धर्म है : ईसाई से मुस्लिम बनी यूक्रेन की बहन ऐला

इस्लाम बहुत ही शान्ति का धर्म है : ईसाई से मुस्लिम बनी यूक्रेन की बहन ऐला

5th June 2018 at 1:21 am 0 comments

Sikandar Kayamkhani ============= मैं हर इंसान जो इस्लाम में आना चाहतें है, उनसे कहना चाहती हूँ कि वो किसी से डरें नही, इस्लाम बहुत ही शान्ति का धर्म है : यूक्रेन की बहन ऐला “मैं हर इंसान जो भी इस्लाम में आने की सोचते है पर आते नही है दुनिया […]

Read more ›
मैंने यहूदी, हिन्दू, जैन और सबके बाद इस्लाम धर्म को पढ़ा और मैं मुसलमान हो गई, एक कट्टर कैथोलिक टीचर

मैंने यहूदी, हिन्दू, जैन और सबके बाद इस्लाम धर्म को पढ़ा और मैं मुसलमान हो गई, एक कट्टर कैथोलिक टीचर

4th June 2018 at 4:26 pm 0 comments

Sikander Kaymkhani =============== “मैंने यहूदी, हिन्दू, जैन और सबके बाद इस्लाम धर्म को पढ़ा और मैं मुसलमान हो गई उसके बाद मेरा जीवन मानो एकदम से बदल गया” – एक कट्टर कैथोलिक टीचर अल्लाह ता’ला कहते है की अगर तुम एक छोटे बच्चे को पाल रही हो, तब भी तुमने […]

Read more ›
तिरुपति बालाजी की कथा : सबसे अमीर हो कर भी ग़रीब है तिरुपति

तिरुपति बालाजी की कथा : सबसे अमीर हो कर भी ग़रीब है तिरुपति

4th June 2018 at 5:48 am 0 comments

‎Raj Babbar‎ ============== तिरुपति बालाजी की कथा: सबसे अमीर हो कर भी गरीब है तिरुपति बाला अगर धन के आधार परदेखा जाए तो वर्तमान में सबसे धनवान भगवान बालाजी हैं। एक आंकड़े के अनुसार बालाजी मंद‌िर ट्रस्ट के खजाने में 50 हजार करोड़ से अध‌िक की संपत्त‌िहै। लेक‌िन इतने धनवान […]

Read more ›
एक सहाबिया रज़ियल्लाहु अन्हा का इश्क़े रसुल ﷺ

एक सहाबिया रज़ियल्लाहु अन्हा का इश्क़े रसुल ﷺ

4th June 2018 at 5:40 am 0 comments

Anees Ansari =============== जंग ए औहद के दौरान मदीना मुनव्वरा में ख़बर फैल गई कि हुजूरे अकरम ﷺ शहीद हो गए | इस ख़बर के फैलते ही मदीने में कोहराम मच गया | औरतें रोती हुआ घरों से बाहर निकल आयीं | एक अन्सारी औरत ने कहा जब तक इसकी […]

Read more ›
अल्लाह तआला ने जंगे बद्र के दिन का नाम “यौमुल फुरक़ान” रखा

अल्लाह तआला ने जंगे बद्र के दिन का नाम “यौमुल फुरक़ान” रखा

4th June 2018 at 5:36 am 0 comments

हज़ारों आए थे बूजहल, तेरी हिकमत पर नबी صلی اللّٰہ تعالیٰ علیہ واٰلہٖ وسلّم के तीन सौ तेरह ने कर दिया खामोश जंग ए बद्र 17 रमज़ान 2 हिजरी को हुई. जिसमें मुसलमानों की तादाद 313 और काफिरों की तादाद 1000 होने के बावजूद अल्लाह ने मुसलमानों को फतह अता […]

Read more ›
इस्लाम में आने के बाद मैं एक बच्चे की तरह महसूस कर रही हूँ : सिस्टर ग्रेटा अब रहीमा

इस्लाम में आने के बाद मैं एक बच्चे की तरह महसूस कर रही हूँ : सिस्टर ग्रेटा अब रहीमा

4th June 2018 at 3:43 am 0 comments

Sikander Kaymkhani =============== “इस्लाम में आने के बाद, मैं एक बच्चे की तरह महसूस कर रही हूँ क्योंकि मेरे गुनाह जा चुके हैं, अल्हम्दुलिल्लाह” – सिस्टर ग्रेटा अब रहीमा “मैंने लोगों को देखा है जो गलत काम करते है और फिर भी वह स्वर्ग जाने की उम्मीद करते है। कम […]

Read more ›
महान मुग़ल शासक ओरंगज़ेब का इन्साफ़

महान मुग़ल शासक ओरंगज़ेब का इन्साफ़

4th June 2018 at 3:39 am 0 comments

Sikander Kaymkhani ================== औरंगज़ेब काशी बनारस की एक ऐतिहासिक मस्जिद (धनेडा की मस्जिद) यह एक ऐसा इतिहास है जिसे पन्नो से तो हटा दिया गया है लेकिन निष्पक्ष इन्सान और हक़ परस्त लोगों के दिलो से (चाहे वो किसी भी कौम का इन्सान हो) मिटाया नहीं जा सकता, और क़यामत […]

Read more ›
सतयुग की चर्चा

सतयुग की चर्चा

4th June 2018 at 2:54 am 0 comments

Shekhar Verma =============== महासतिपट्टान सुत विपश्यना साधना पर निर्भर करता है। इस साधना में साक्षीभाव-तटस्थभाव रखना बहुत जरूरी है। भोक्ताभाव जरा भी न हो, कर्ताभाव भी नहीं। इन दोनों से यदि सचमुच छुटकारा पाना हो तो उसे यथाभूत देखना होगा, तो कुदरत अपना काम करेगी, धर्म अपना काम करेगा। अच्छी […]

Read more ›
हिन्दुओं की दुर्दशा के कारण, एक हिन्दू से सुनिए

हिन्दुओं की दुर्दशा के कारण, एक हिन्दू से सुनिए

4th June 2018 at 2:44 am 0 comments

Sharma Vir‎ ============= =================== मित्रों, इस पोस्ट को ठण्ढे दिमाग से पढिए । मैं जो कुछ लिख रहा हूँ, वह मेरा कुछ नहीं । देश की आजादी से पहले एक महान् हिन्दू कार्यकर्त्ता लिख गए । मैं तो केवल उसे आपके सामने रख रहा हूँ, जिससे जो कमियाँ हों, उन्हें […]

Read more ›