धर्म

आयतें और निशानियां : क्योंकि तुम सिर्फ़ नसीहत करने वाले हो : पार्ट 2

आयतें और निशानियां : क्योंकि तुम सिर्फ़ नसीहत करने वाले हो : पार्ट 2

8th June 2018 at 2:29 am 0 comments

चमकता सूरज प्रकाश और जीवन का स्रोत है और इस चीज़ को दिन में भली- भांति देखा जा सकता है। गर्मी और सफाई का यह स्रोत किसी प्रकार के संकोच के बिना हमारी ज़मीन को प्रकाशित किये हुए है और अपने प्रकाश से हमें जीवन प्रदान किये हुए है। आसमान […]

Read more ›
#ईश्वरीय वाणी पार्ट 35 : सूरए मरियम : : पवित्र क़ुरआन अज्ञानता और अंधकार से मुक्ति दिलाता है!

#ईश्वरीय वाणी पार्ट 35 : सूरए मरियम : : पवित्र क़ुरआन अज्ञानता और अंधकार से मुक्ति दिलाता है!

8th June 2018 at 2:26 am 0 comments

वह अर्थात ईश्वर वही है जिसने दो समुद्रों को एक दूसरे से मिलाकर रखा है, एक का पानी मीठा और दूसरे का खारा और उन दोनों के मध्य एक दीवार बना दिया है कि एक दूसरे से मिश्रित न हों।“ पवित्र कुरआन की इस आयत में उसकी महानता की अदभुत […]

Read more ›
#मस्जिद और इबादत part 26_इस्लाम में मस्जिद की अहमियत!!”हस्सान मस्जिद” मोरक्को!!

#मस्जिद और इबादत part 26_इस्लाम में मस्जिद की अहमियत!!”हस्सान मस्जिद” मोरक्को!!

8th June 2018 at 2:22 am 0 comments

मस्जिद की मुख्य उपयोगिता इबादत व उपासना है लेकिन राजनैतिक, सांस्कृतिक, प्रशिक्षण, सैन्य व न्यायिक इत्यादि मामलों में भी इसकी उपयोगिता है और रोचक बात यह है कि इन सभी गतिविधियों का ध्रुव मस्जिद का इमाम होता है। जैसा कि पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल लाहो अलैहि व आलेही व सल्लम के […]

Read more ›
#इस्लाम और मानवाधिकार : पार्ट 32

#इस्लाम और मानवाधिकार : पार्ट 32

8th June 2018 at 2:14 am 0 comments

मीडिया की आज़ादी का अर्थ, असीमित आज़ादी नहीं है। मीडिया को हर प्रकार की बात प्रसारित करने का अधिकार नहीं है, इसिलए कि मानसिक स्वास्थ्य और सामाजिक व्यवस्था और शांति को प्राथमिकता हासिल है। समाज के सुधार और उसे भटकाने में मीडिया की बहुत अहम भूमिका होती है। ईरान की […]

Read more ›
#इस्लाम ने मनुष्य को ज़िम्मेदार इन्सान बनाया : अल्लाह के ख़ास बन्दे पार्ट 12

#इस्लाम ने मनुष्य को ज़िम्मेदार इन्सान बनाया : अल्लाह के ख़ास बन्दे पार्ट 12

8th June 2018 at 2:06 am 0 comments

हज़रत फ़ातेमा ज़हरा न केवल मुसलमानों के लिए बल्कि संसार की सभी महिलाओं के लिए आदर्श हैं। उनकी विशेषताओं में से एक विशेषता यह थी कि पैग़म्बरे इस्लाम (स) आपका बहुत सम्मान किया करते थे। इस बारे में उनके बहुत से कथन पाए जाते हैं जिनका उल्लेख शिया और सुन्नी […]

Read more ›
★शबे क़द्र की रात का महत्व★

★शबे क़द्र की रात का महत्व★

6th June 2018 at 9:59 pm 0 comments

Sikander Kaymkhani =============== ★Shabe Qadr aur Iski Hakikat शबे क़द्र और इस की रात का महत्व★ रमज़ान महीने में एक रात ऐसी भी आती है, जो हज़ार महीने की रात से बेहतर है। जिसे शबे क़द्र कहा जाता है। शबे क़द्र का अर्थ होता हैः “सर्वश्रेष्ट रात”, ऊंचे स्थान वाली […]

Read more ›
एक दफ़ा हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम बारिश की दुआ माँगने के लिए निकले

एक दफ़ा हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम बारिश की दुआ माँगने के लिए निकले

6th June 2018 at 4:47 am 0 comments

Anees Husain Ansari ================ नौजवान मर्द और लड़के गौर करें.. • एक दफ़ा हज़रत ईसा अलैहिस्सलाम बारिश की दुआ माँगने के लिए निकले । जब आप (अलैहिस्सलाम) सहरा में पहुँचे तो ऐलान फ़रमाया कि मेरे साथ ऐसा शख़्स ना आए जिसने कोई गुनाह क़िया हो, ये सुनकर सिवाए एक शख़्स […]

Read more ›
आज यूरोप में सब कुछ है लेकिन ज़हनी सुकून नहीं

आज यूरोप में सब कुछ है लेकिन ज़हनी सुकून नहीं

6th June 2018 at 12:52 am 0 comments

Salman Siddiqui ================= लड़कियां ये तहरीर पढ़ लें शायद कोई लड़की खुदकुशी करने से बच जाये !! मर्द औरत की आज़ादी नहीं बल्कि औरत तक पहुंचने की आज़ादी चाहता है !! !! आजकल औरत की आज़ादी के दिलफरेब नारे बहुत लग रहे हैं यूरोप की नक्काली की जा रही है […]

Read more ›
बैतुल मक़्दिस का महत्व

बैतुल मक़्दिस का महत्व

6th June 2018 at 12:29 am 0 comments

Sikander Kaymkhani ============== अल्हम्दुलिल्लाह हर प्रकार की प्रशंसा और स्तुति केवल अल्लाह के लिए योग्य है। सर्व प्रथम : बैतुल मक़्दिस का महत्व : आप इस बात को जान लें – अल्लाह तआला आप पर दया करे – कि बैतुल मक़्दिस के फज़ाइल बहुत अधिक हैं जिन में से कुछ […]

Read more ›
राधे_राधे_नाम_प्रिय_क्यो_हैं

राधे_राधे_नाम_प्रिय_क्यो_हैं

5th June 2018 at 5:39 am 0 comments

‎Raj Babbar ============ श्री राधा रानी जी के महल में एक तोता था, उस तोते से ऱाधा रानी जी रोज सुबह- शाम “हरे कृष्ण हरे कृष्ण” कहॉ करती थी | वह तोता भी राधा रानी से यह सुनकर सारा दिन बस “हरे कृष्ण हरे कृष्ण” ही रटते रहता था | […]

Read more ›