धर्म

इस्लाम और मानवाधिकार : पार्ट 7

इस्लाम और मानवाधिकार : पार्ट 7

17th November 2017 at 4:41 am 0 comments

पूरे इतिहास में इंसान अपनी प्रतिष्ठा को हासिल करने के लिए मानवाधिकार की प्राप्ति में लगा रहा लेकिन दूसरे विश्व युद्ध के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना से मानवाधिकार से संबंधित बहुत ज़्यादा नियम अंतर्राष्ट्रीय समुदाय तक पहुंचे और क़ानूनी दृष्टि से सरकारों को इन अधिकारों की प्राप्ति के […]

Read more ›
जन्नत में कौन जाएगा? यहुदी_ईसाई या मुसलमान ?

जन्नत में कौन जाएगा? यहुदी_ईसाई या मुसलमान ?

17th November 2017 at 4:16 am 0 comments

Salman Siddiqui‎ ========== सन् 1863 में मिस्र में अलवी खानदान के पांचवें शासक इस्माइल पाशा खदीवी का दौरे हुकूमत था ये तरक्की और इंफ्रास्ट्रक्चर का शुरुआती ज़माना था स्वेज नहर भी इसी दौर में तामीर की गई ब्रिटेन और फ्रांस ने मिलकर ऐसे हालात पैदा किये की सन् 1879 में […]

Read more ›
जिब्राल्टर_यह वही जगह है जहां से तारिक_बिन_ज़ियाद ने यूरप पर हमला करके खूबसूरत दौर का आगाज़ किया था!

जिब्राल्टर_यह वही जगह है जहां से तारिक_बिन_ज़ियाद ने यूरप पर हमला करके खूबसूरत दौर का आगाज़ किया था!

15th November 2017 at 8:52 pm 0 comments

Salman Siddiqui =============== जिब्राल्टर यह वही जगह है जहां से तारिक बिन जियाद ने यूरप पर हमला करके एक नए खूबसूरत दौर का आगाज किया उसका असली नाम जबल अल तारिक था जो बाद में यूरोपी अफ्रीकी और अरबी जवानों के मिक्सिंग की वजह से जिब्राल्टर बन गया मौजूदा हालात […]

Read more ›
हजरत मोहम्मद सल्लाहो अल्लेही व सल्लम के #पांच_महत्वपूर्ण उपदेश

हजरत मोहम्मद सल्लाहो अल्लेही व सल्लम के #पांच_महत्वपूर्ण उपदेश

15th November 2017 at 3:01 am 0 comments

by सिकन्दर कायमखानी खानजादा ============= #पांच_उपदेश विश्वन नायक हजरत मोहम्मद सल्लाहो अल्लेही व सल्लम के पाच महत्वपूर्ण प्रवचन हज़रत अबु हुरैरा रज़ियल्लाहु अन्हु का बयान है कि एक दिन अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने अपने साथियों को संबोधित करते हुए कहा कि कौन है जो मुझ से […]

Read more ›
यह सारी दौलत एक गिलास पानी के बराबर भी नहीं!

यह सारी दौलत एक गिलास पानी के बराबर भी नहीं!

15th November 2017 at 2:54 am 0 comments

‎Salman Siddiqui‎ =============== एक बादशाह ने अपनी अवाम पर जुल्मों सितम करके बहुत खजाना सोने-चांदी इकट्ठा कर लिया था और शहर से बाहर जंगल में एक खुफिया ठिकाना बनाकर सारा खजाना वहां छुपा रखा था और उस खजाने की दो चाभियाँ थी एक चाभी बादशाह के पास और दूसरी चाबी […]

Read more ›
“तिरुपति मंदिर”_बौद्ध मत बज्रयान से शैव,वैष्णव, शाक्त पंथ का उदय

“तिरुपति मंदिर”_बौद्ध मत बज्रयान से शैव,वैष्णव, शाक्त पंथ का उदय

15th November 2017 at 2:41 am 0 comments

Suryansh Mulnivashi ============= बौद्ध मत बज्रयान से शैव,वैष्णव, शाक्त पंथ का उदय-10 “तिरुपति मंदिर” 788 ईस्वी में जन्मे शंकराचार्य को “अद्वैत वाद” के संस्थापक के रुप में जाना जाता है। यह सिद्धान्त “ब्रह्म सत्य जगत मिथ्या” पर टिका है। इस जातक कथा में “ब्रह्मा की उत्पत्ति” होती है। उसके पहले […]

Read more ›
#जैसी_संगत_वैसी_रंगत

#जैसी_संगत_वैसी_रंगत

15th November 2017 at 2:09 am 0 comments

by सिकन्दर कायमखानी खानजादा ============ दोस्ती एक व्यक्ति की प्राकृतिक और सामाजिक आवश्यकता है, एक व्यक्ति अपने मित्रों से दिल की बातें शियर कर पाता है, उनके के साथ बेहतर समय गुज़ार पाता है और उनकी संगत से बहुत कुछ सीखता भी है। एक समय था कि दोस्ती मिल कर […]

Read more ›
#अहंकार_घमण्ड_फ़ख़्र_गुमान_से_बचें

#अहंकार_घमण्ड_फ़ख़्र_गुमान_से_बचें

14th November 2017 at 4:43 am 0 comments

by सिकन्दर कायमखानी खानजादा =============== मुस्नद अहमद की रिवायत है हज़रत सुहैब रज़ियल्लाहु अन्हु से वर्णित है कि अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम जब नमाज़ से फारिग़ होते तो धीरे से कुछ बोलते, जिसे हम समझ नहीं पाते थे और न आप हमें बताते थे। एक दिन अल्लाह […]

Read more ›
#कुरआन_ने_1400_सौ_साल_पहले_साबित_किया_चींटी_बोलती है_विज्ञान_से_भी_साबित_हुआ!

#कुरआन_ने_1400_सौ_साल_पहले_साबित_किया_चींटी_बोलती है_विज्ञान_से_भी_साबित_हुआ!

13th November 2017 at 10:03 pm 0 comments

by सिकन्दर कायमखानी खानजादा ============== #कुरआन_से_साबित_है_1400_सो_साल_पहले_चींटी_बोलती_है_साबित_हुआ_विज्ञान_से #कुरआन_की_80%बाते_100%सत्य_सिद्ध_हो_चुकी_है 20%#बाते_जो_परलोक_से_मुताबिक_ओर_भविष्य_से_¢_तालुक_रखती_है_संशय_शक_की_गुंजाइश_भी_नही_उन_बातो_को_नकारा_नही_जा_सकता अल्लाह के संदेष्टाओं में से एक संदेष्टा सुलैमान अलै. थे, अल्लाह ने चमत्कार के रूप में जिन्नात, इंसानों और पशु पक्षियों को उनके अधीन कर रखा था, वह पक्षियों की बोलियाँ भी समझ लेते थे। एक दिन की बात है, इंसानों जिन्नातों […]

Read more ›
इस्लाम जीवन के हर क्षेत्र में फ़िजूलख़र्ची से रोकता है!

इस्लाम जीवन के हर क्षेत्र में फ़िजूलख़र्ची से रोकता है!

13th November 2017 at 9:57 pm 0 comments

Sikander Kaymkhani ============== #फुजूलखर्ची_को_लगाम_दीजिए इस्लाम जीवन के हर क्षेत्र में मध्यम और संतुलन की शिक्षा देता है, किसी चीज़ के उपयोग में एक ओर कंजूसी से मना करता है तो दूसरी ओर फुजूलखर्ची से रोकता है और हर हालत में संतुलन अपनाने पर बल देता है। क़ुरआन ने कहा: “खाओ […]

Read more ›