धर्म

#AlAqsa_फ़लस्तीन नबियों की सर ज़मीन!

#AlAqsa_फ़लस्तीन नबियों की सर ज़मीन!

23rd December 2017 at 9:17 pm 0 comments

फ़लस्तीन नबियों की सर ज़मीन जिसको यहूदी इस्राईली रियासतों में तब्दील करने की कोशिशों में पिछले 125 साल से मस्रूफ़ है।मगर फ़लस्तीन जो न कभी इन यहूदियों का वतन था और न है । 1300 सदी क़ब्ल मसीह में यहूदी पहली दफ़ा इस इलाक़े के मक़ामी क़बाईल को क़त्ल करके […]

Read more ›
1909 में ‘उमर यमाओका’ हज करने वाले पहले जपानी!

1909 में ‘उमर यमाओका’ हज करने वाले पहले जपानी!

23rd December 2017 at 7:58 pm 0 comments

1850 ई. में पैदा हुए कटारो यमाओका ने मुम्बई हिन्दुस्तान मे इस्लाम क़बुल किया और अपना नाम उमर यमाओका रखा… फिर टोकियो की जामा मसजिद के पहले ईमाम अब्दुर रशीद इब्राहीम के साथ 1909 मे हज करने के लिए मक्का गए… इसके बाद यमाओका बहुत सारे मुसलिम मुल्क के दौरे […]

Read more ›
हाजी उमर रियोची मिटा : पहला व्यक्ती जिसने जापानी भाषा मे कुरान का अनुवाद किया ✊

हाजी उमर रियोची मिटा : पहला व्यक्ती जिसने जापानी भाषा मे कुरान का अनुवाद किया ✊

23rd December 2017 at 7:55 pm 0 comments

रियोची मिटा का जन्म 19 दिसंबर 1892, यामागुची, जापान के एक सुमुरई ख़ानदान मे हुआ.. यामागुची कामर्शयल कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद चीन चले गए.. और वहीं उन्हे इस्लाम के बारे मे जानने को मिला और उन्होने 1920 मे एक लेख “चीन मे इस्लाम” के नाम से जापानी मैगज़ीन […]

Read more ›
या ख़ुदा!क्या तुम मुझ पर एक एहसान करोगे बेटा ?

या ख़ुदा!क्या तुम मुझ पर एक एहसान करोगे बेटा ?

23rd December 2017 at 7:10 pm 0 comments

12 मई 1972 की तारीख़ और जुमा का दिन था; मै अपने पत्रकार साथी ‘सैद तेरज़ियोगलु’ के साथ इस्राईली गाईड़ की मदद से पवित्र अल अक़्सा मस्जिद की ज़ियारत कर रहा था। तब ही मैने मस्जिद ए अक़्सा के आहते के सबसे ऊपर वाली सीढ़ी पर एक शख़्स को देखा, […]

Read more ›
“अबाबीलों” का……कंकर खाने का नंबर कहीं हमारा तो नहीं ??

“अबाबीलों” का……कंकर खाने का नंबर कहीं हमारा तो नहीं ??

23rd December 2017 at 6:56 pm 0 comments

आबादी 150-करोड़ ! दुनिया भर में 56-ममालिक जिनमें अधिकतर दुनिया के अमीरतरीन , उनमें भी कुछ सबसे अधिक हथियार खरीदने वाले.! इंतज़ार कर रहे हैं “अबाबीलों” का…. दिल लरज़ जाता है कि… कहीं कंकर खाने का नंबर हमारा तो नहीं ?? जबके ये पहली जंग ए अज़ीम में सलतनत उस्मानीया […]

Read more ›
तावीज़ और गंडे की हकीकत : तावीज़ क्या है ?

तावीज़ और गंडे की हकीकत : तावीज़ क्या है ?

23rd December 2017 at 6:11 pm 0 comments

Sikander Kaymkhani ============== तावीज़ और गंडे की हकीकत तावीज़ क्या है ? किसी बीमारी से बचने के लिए या कुछ खास हासिल करने की ग़रज़ से गले या बदन के किसी हिस्से में लटकाए जाने वाली शय को ही तावीज़ कहते हैं.इसको तमीमा भी कहते हैं. तावीज़ लटकाने वालों का […]

Read more ›
सीरिया के अलेप्पो शहर के बीच कभी शान से खड़ी रहा करती थी ‘Umayyad मस्जिद’

सीरिया के अलेप्पो शहर के बीच कभी शान से खड़ी रहा करती थी ‘Umayyad मस्जिद’

23rd December 2017 at 1:52 am 0 comments

आपको एक ऐसी प्राचीन मस्जिद के बारे में बताने जा रहे है जो सीरिया के अलेप्पो शहर के बीच कभी शान से खड़ी रहा करती थी लेकिन कुछ साल पहले विध्वंसक युद्ध के बाद सीज़फ़ायर होने पर मलबे में तब्दील हो गई है। किसी समय शानदार रही Umayyad मस्जिद, जिसे […]

Read more ›
🌿🌿🌿 ऐ अल्लाह के बन्दों अल्लाह से डरो 🌿🌿🌿

🌿🌿🌿 ऐ अल्लाह के बन्दों अल्लाह से डरो 🌿🌿🌿

23rd December 2017 at 1:17 am 0 comments

Khalid Aijaz ============== 🌿🌿🌿 ऐ अल्लाह के बन्दों अल्लाह से डरो 🌿🌿🌿 और नेकी में कमाल तलब करने की कोशिश करो ख़्वाहिशातो से ताल्लुक़ ख़त्म कर देने और लज़्ज़तों को तोड़ देने वाली मौत से पहले हुस्ने अमल का सरमाया फ़राहम कर लो, दुनियाँ की नेमते हमेशा रहने वाली नहीं […]

Read more ›
*सुबह के स्नान को धर्म शास्त्र में चार उपनाम दिए है!

*सुबह के स्नान को धर्म शास्त्र में चार उपनाम दिए है!

23rd December 2017 at 1:09 am 0 comments

Krishan Kumar Dusad ==================== *सुबह के स्नान को धर्म शास्त्र में चार उपनाम दिए है ।* 1 मुनि स्नान । जो सुबह 4 से 5 के बिच किया जाता है ।🙏🏻 2 देव स्नान । जो सुबह 5 से 6 के बिच किया जाता है । 🙏🏻3 मानव स्नान । […]

Read more ›
रामसेतु” बनाम “रामायण” _ तार्किक विश्लेषण

रामसेतु” बनाम “रामायण” _ तार्किक विश्लेषण

23rd December 2017 at 1:06 am 0 comments

Krishna Chandra Verma ================ “रामसेतु” बनाम “रामायण” (सतथ्य तार्किक विश्लेषण) *********************** भारत से मात्र 31किमी की दूरी पर स्थित है सिंहल द्वीप, जिसे सन 1972 से, ‘सीलोन’ की बजाय लंका और 1978 से, ‘श्रीलंका’ कहा जाने लगा। श्रीलंका और भारत के बीच जो मूँगे की चट्टानों की श्रंखला है, उसे […]

Read more ›