#ChhattisgarhElections : 1 लाख लोगों की राय से कांग्रेस ने जारी किया ‘छत्तीसगढ़ के लिए 36 लक्ष्य’ का घोषणा पत्र

Posted by

नई दिल्ली।छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणा पत्र कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल और वरिष्ठ नेताओं के साथ जारी किया. राहुल गांधी ने इस मौके पर कहा कि ये घोषणापत्र ऐतिहासिक है और इसके जरिए छत्तीसगढ़ के लोगों को फायदा पहुंचाने की कोशिश की जाएगी.

राजनांदगांव में राहुल गांधी ने घोषणा पत्र जारी कर दिया है जिसे ‘जन घोषणा पत्र’ नाम दिया गया है. घोषणा पत्र में सभी के लिए फूड फॉर ऑल, हेल्थ फॉर ऑल सहित शिक्षाकर्मियों और युवाओं के लिए भी बहुत कुछ है. इस घोषणा पत्र को तैयार करने में करीब 1 लाख लोगों से राय ली गयी है.

कांग्रेस के जन घोषणापत्र पर राहुल गांधी ने कहा कि इतिहास में पहली बार इतने लोगों से राय ली गई है. पहली बार किसी राज्य में इतने लोगो से बात कर घोषणापत्र तैयार किया गया है. इससे पहले कांग्रेस ने गुजरात और कर्नाटक में ऐसा प्रयास किया गया था लेकिन इतने गहराई में जाकर, इतने लोगो से बात कर भारत में पहली बार किसी पार्टी ने चुनावी घोषणापत्र तयार किया है.

छत्तीसगढ़ के लिए 36 लक्ष्य
राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव को बधाई दी. उन्होंने घोषणापत्र के बारे में बताया कि राज्य के 80 हजार लोगों से और अलग अलग विषयों के जानकारों से मिलकर घोषणापत्र तैयार किया गया है. कांग्रेस की सरकार आई तो छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी होगी. टीएस सिंहदेव ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लिए 36 लक्ष्य रखे गए हैं और इनमें युवाओं, महिलाओं, एससी-एसटी की बेहतरी के लिए प्लान सोचे गए हैं.

बड़े एलान
इसके अलावा बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने, किसानों का कर्ज माफ करने और बिजली बिल आधे करने का वादा इस घोषणापत्र में किया गया है. इसके अलावा राज्य में एक लाख लोगों को नौकरी देने का वादा भी कांग्रेस के घोषणापत्र में है.

कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में 2500 रुपये धान का समर्थन मूल्य पर खरीदने का वादा किया है. वहीं शिक्षाकर्मियों और मीडियाकर्मियों की मांगों को भी घोषणा पत्र में शामिल किया गया है. मीडियाकर्मियों, वकीलों और डाक्टरों को पूर्ण सुरक्षा का भी वादा किया गया है. शिक्षाकर्मियों के पूर्ण संविलियन का वादा किया गया है. आंगनबाड़ी सेंटर को प्राइमरी क्लास में बदलने की भी तैयारी की गयी है.

एक साल में नौकरी नहीं मिलने पर 2500 रुपये के स्टाइपेंड की भी व्यवस्था कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में की है. किसानों का कर्जा माफ और बिजली बिल हाफ करने का वादा कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किया है. पूर्ण शराबबंदी का भी वादा किया गया है.

हर परिवार को 1 किलो चावल 35 रुपये किलो मिलेगा, इसमें कार्ड की विविधता भी खत्म कर दी गयी है. तेंदूपत्ता का 4000 रुपये प्रति मानक बोरा खरीदी का वादा किया गया है. चिटफंड कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करने और नीलामी कर लोगों के पैसे वापस कराये जाने का वादा भी मेनिफेस्टो में है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि आज तक बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां बंद कमरों में बैठकर घोषणापत्र बना लेते थे लेकिन इस बार कांग्रेस ने जनता की आवाज को इस घोषणापत्र में शामिल किया है. यह सिर्फ घोषणापत्र नही है, यह सभी वर्गों की आवाज है. छत्तीसगढ़ की जनता हमारे घोषणापत्र को समर्थन देगी क्योंकि बीजेपी का मेनिफेस्टो अब भी बंद कमरों में बनता है.

अर्बन नक्सलवाद पर राहुल गांधी ने नहीं दिया जवाब
अर्बन नक्सलवाद के प्रश्न पर राहुल गांधी ने जवाब नहीं दिया और कहा कि नरेंद्र मोदी नेशनल सिक्योरिटी की बात करते है, लेकिन वे राफेल पर क्यों नही उत्तर देते, नेशनल सिक्युरिटी के इस बड़े मुद्दे पर पीएम चुप क्यों है. सीआरपीएफ और बीएसएफ के जवानों को आप क्यों नही बताते कि रक्षा बजट कहां गया

ANI

Verified account

@ANI
#ChhattisgarhAssemblyElections2018 : Congress President Rahul Gandhi releases party’s manifesto in Rajnandgaon.