पांच माह से इंसाफ़ के लिए लड़ रहा है ”असद ख़ान”,,,दाड़ी बढ़ाने पर कॉलेज ने निकाल दिया!

खरगोन। दाड़ी रखने पर सेंधवा के अरिहन्त मेडिकल कॉलेज द्वारा गलत तरीके से निकाला गया मुस्लिम छात्र असद खान इंसाफ के लिए लड़ रहा है। असद खान ने कहा कि अगर उसे इंसाफ ना मिला तो वो अपनी जान भी दे सकता है। छात्र ने बताया की सम्पूर्ण दस्तावेजों के साथ बार बार अधिकारियों के चक्कर लगाने के बाद भी उसकी सुनवाई नहीं की जा रही हे उसे कुछ भी जानकारी नहीं दी जा रही हर बार उसे बहाना करके टाल दिया जाता हे।

tj
उक्त मुस्लिम छात्र को दाड़ी रखने पर अरिहन्त मेडिकल कॉलेज के प्रबंधक/प्राचार्य डॉ एम. के. जैन द्वारा गलत तरीके से पाँच माह पूर्व कॉलेज से निकाल दिया गया था। छात्र द्वारा इसकी शिकायत दिनांक 30/08/2016 आवेदन क्रमांक 323269 पर जिला कलेक्टर महोदय बड़वानी से की गई। उसके बाद उक्त प्रकरण को कलेक्टर द्वारा सेंधवा एस.डी.एम. को जाँच हेतु भेजा गया था उसके बाद उक्त छात्र लगातार दो महीने तक सेंधवा एस.डी.एम. कार्यालय के चक्कर लगाता रहा लेकिन वहां कुछ भी निराकरण नहीं निकला।

यहां से निराशा हाथ लगते देख छात्र ने बड़वानी कलेक्टर को दिनांक 04/10/2016 को फिर आवेदन दे कर इन्साफ की गुहार लगाई लेकिन छात्र को इन्साफ नहीं मिला उसके बाद भी उक्त छात्र ने क़ानून और न्याय पालिका पर अपने विश्वास को कायम रखते हुए एक बार फिर बड़वानी जिला कलेक्टर को दिनांक 18/10/2016 को आवेदन दिया, फिर उसके अगले महीने 22/11/2016 को और फिर उसके अगले महीने 06/12/2016 को बार बार लगातार चार महीने तक कई आवेदन देकर उक्त मामले में इन्साफ की गुहार लगाई लेकिन हर बार उक्त मुस्लिम छात्र को मायूसी ही हाथ लगी और हर बार उसे यह कह कर टाल दिया जाता की अभी सेंधवा एस. डी. एम. द्वारा प्रतिवेदन बन कर नहीं आया और अभी जांच चल रही है।

By : नेशनल दस्तक ब्यूरो

Share

Leave a Reply

%d bloggers like this: