खँडवा – न रणनीति न आमजन का साथ, कांग्रेसी बोले “करेंगे नोटबन्दी से हुई अव्यवस्थाओं का विरोध”।

खंडवा(इस्माइल खान) – नोटबन्दी को लेकर जहाँ आमजन परेशान है वहीँ कांग्रेस पार्टी इसके 50 दिन गुजर जाने के बाद अब आंदोलन करने का मन बना रही है ।

400x400_IMAGE62114705

आलाकमान से मिले आदेश के तहत कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को प्रदेश के सभी जिलों में प्रेस वार्ता की । शहर के गांधी भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता में कांग्रेसी नेता आमजन को नोटबन्दी से हुई परेशानियों को लेकर न कोई रणनीति बता पाए, न ही आम आदमी के पार्टी के साथ आने का विश्वास दिला पाए । पार्टी के जिला प्रभारी तोताराम महाजन ने आलाकमान से प्राप्त 7 पेज के प्रेस नोट को पढ़कर पत्रकारों को आगामी आंदोलन के बारे में जानकारी दी तो वहीँ इतने दिन तक कांग्रेस के निष्क्रिय होने के सवाल पर बगलें झांकते दिखे । “उन्होंने बताया कि 6 जनवरी को पार्टी जिला मुख्यालय पर धरना देगी जिसके पश्चात 8 जनवरी को महिला कांग्रेस द्वारा थाली रैली निकालकर जिला कलेक्टर को ज्ञापन दिया जायेगा ।”

वरिष्ठ कांग्रेसी परमजीत सिंह नारंग ने कहा कि “कांग्रेस का विरोध नोटबन्दी से ना होकर इस दौरान हुई अव्यवस्थाओं के लिए है, जिनसे देश में हाहाकार मचा हुआ है । हमारे साथ ही साथ कोई भी ये तक नहीं समझ पाया कि ये कैसे अच्छे दिन हैं ।”

कांग्रेस नेता रिंकू सोनकर पत्रकारों के लिए कुर्सी उठाते दिखे…
पत्रकार वार्ता में अव्यवस्थाओं की बानगी का आलम ये रहा की कांग्रेस नेता रिंकू सोनकर का पत्रकारों के लिए बैठक व्यवस्था ठीक न होने के कारण उनके लिए स्वयं ही कुर्सियां लगाते दिखाई देने की खबरें हैं, तो वहीँ कार्यकर्त्ता और मंच पर बैठे वरिष्ठ कांग्रेसी लगभग पूरे समय ही हंसी मजाक करते दिखे,जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है की पार्टी अपने आगामी आन्दोलनों के लिए कितनी गंभीर है ।

पत्रकार वार्ता में उपस्थित जिलाध्यक्ष ओंकार पटेल के साथ ही पूर्व जिलाध्यक्ष अजय ओझा, वरिष्ठ कांग्रेसी सुनील सकरगाये, आलोक रावत, रिंकू सोनकर, कुंदन मालवीय, अशोक केल्दे, नारायण तोमर सहित कुछेक ही कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे ।

Share

Leave a Reply

%d bloggers like this: