देश

अंधविश्वास का भूत : अमीर बनने का लालच देकर दो महिलाओं की बलि चढ़ायी!

भारत के राज्य केरल में दो महिलाओं की बलि चढ़ाने का मामला चर्चा में है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि केरल के पथनमथिट्टा ज़िले के एलनथूर गांव में काला जादू के चलते दो महिलाओं की अपहरण के बाद कथित रूप से बलि चढ़ा दी गई। एक दंपत्ति समेत मामले के तीन आरोपियों ने आर्थिक समृद्धि लाने के लिए यह अपराध किया।

पुलिस ने बताया कि जिन महिलाओं की हत्या की गई, वे सड़क पर लॉटरी टिकट बेच कर अपनी आजीविका चलाती थीं। आरोपियों ने अपनी आर्थिक तंगी दूर करने और समृद्धि प्राप्त करने के लिए कथित तौर पर उनकी बलि दे दी।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान एलंथूर के रहने वाले आरोग्यसाधक और मालिश करने वाला भगवाल सिंह, उसकी पत्नी लैला तथा पेरुंबवूर से रशीद उर्फ मोहम्मद शफ़ के तौर पर हुई है। संदेह है कि एजेंट रशीद ही इन महिलाओं को दंपति के घर ले गया था, जहां कथित रूप से उनकी बलि चढ़ाई गई। अदालत ने कहा कि तीनों 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में रहेंगे।

अदालत को सौंपी गई रिमांड रिपोर्ट में पुलिस ने कहा कि हत्याएं देवी को खुश करने और आर्थिक समृद्धि के लिए की गई थीं। शफी ने महिलाओं को सेक्स वर्क के लिए 10-10 लाख रुपये का लालच दिया था, इसमें कहा गया है कि दोनों पीड़ितों को सिर काटने से पहले प्रताड़ित किया गया था।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि मामले की दूसरी आरोपी लैला ने रोजली का सिर कलम किया था, जबकि पद्मम की हत्या शफी ने की थी, रोजली की हत्या के बाद उसके स्तन काट दिए गए थे। पथनमथिट्टा के एलंथूर गांव में आरोपी भगवाल सिंह के घर के पास गड्ढों में दफनाने से पहले दोनों महिलाओं के शरीर को कई टुकड़ों में काट दिया गया था।

मुख्यमंत्री ने हत्याओं पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि मानसिक रूप से बीमार लोग ही इस तरह के अपराध कर सकते हैं।

विधानसभा में विपक्ष के नेता वीडी सतीशन ने कहा कि इस तरह की घटना से सभ्य समाज का हिस्सा होने पर गर्व करने वाले सभी लोगों का सिर शर्म से झुक जाएगा।