दुनिया

अगर इस प्रकार का युद्ध होता है तो अधिक से अधिक आधे घंटे के अंदर नाटो खत्म हो जायेगा

यूरोपीय संघ की विदेश नीति आयुक्त जोसेफ़ बोरेल ने यूरोप को राजनीतिक आज़ादी का पालना करार देते हुए कहा है कि अगर यूक्रेन पर एटमी हमला हुआ तो रूस पर भारी हमला होगा।

समाचार एजेन्सी फार्स की रिपोर्ट के अनुसार जोसेफ़ बोरेल ने दावा किया कि अगर रूस ने यूक्रेन पर परमाणु हमला किया तो उसे पश्चिम के कड़े जवाब का सामना होगा और रूसी सेना खत्म हो जायेगी।

उन्होंने कहा कि यह बात स्पष्ट हो जानी चाहिये कि यूक्रेन के समर्थक लोग, यूरोपीय संघ, अमेरिका और नाटो भी खोखला दावा नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि यूक्रेन पर परमाणु हमला किया गया तो उसका न केवल एटमी जवाब दिया जायेगा बल्कि एसा करारा जवाब दिया जायेगा कि रूसी सेना खत्म हो जायेगी।

यूरोपीय संघ की विदेश नीति के आयुक्त जोसेफ़ बोरेल ने कहा कि निश्चित रूप से हम शीत युद्ध और उसके बाद के समय से निकल चुके हैं। यह युद्ध बहुत कुछ बदल देगा और निश्चित रूप से यूरोपीय संघ को बदल देगा। साथ ही उन्होंने कहा कि यूरोप राजनीतिक आज़ादी और आर्थिक सुख- सुविधा का बाग़ है और बाकी विश्व एक जंगल है।

इसी बीच नाटो के एक अधिकारी ने भी दावा किया है कि अगर रूस ने यूक्रेन पर परमाणु हमला किया तो नाटो की ओर से उसे अभूतपूर्व जवाब दिया जायेगा। नाटो के इस अधिकारी ने दावा किया कि रूस जो परमाणु हमले की धमकी दे रहा है तो उसका अधिकतर लक्ष्य व कारण नाटो और दूसरे देशों को सीधे तौर पर जंग में दाखिल होने से रोकना है।

यह एसी स्थिति में है जब कुछ रूसी टीकाकारों का मानना है कि अगर इस प्रकार का युद्ध होता है तो अधिक से अधिक आधे घंटे के अंदर नाटो खत्म हो जायेगा और रूस की परमाणु वार हेड्स मिसाइलों को ज़मीन, हवा और समुद्र से फायर किया जा सकता है और उनमें से कुछ गाइडेड हैं।

रूसी नेताओं और वरिष्ठ सैन्य कमांडरों व अधिकारियों ने कई बार कहा है कि देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए वे समस्त संभव संसाधनों व विकल्पों का प्रयोग करेंगे।