उत्तर प्रदेश राज्य

अलीगढ : कुख्यात भू-माफ़िया ”आतिफ़” गिरफ़्तार, पहुंचा जेल : क्या इस के ‘गॉडफादर’ पर भी पुलिस हाथ डालेगी!

अलीगढ। थाना जवां पुलिस के हाथ उस वक़्त बड़ी क़ामयाबी लगी जब लम्बे वक़्त से फ़रार ज़िले का नामी भू-माफिया उसके हत्थे चढ़ गया, जानकारी के मुताबिक अलीगढ जनपद में रियल स्टेट का बड़ा कारोबार है यहाँ लोग अपने बच्चों को शिक्षा दिलाने के लिए बसना चाहते हैं, इसी मकसद के तहत अनेक लोग अलीगढ में अपना निवास भी बनाने की खुहाईश रखते हैं, जिन लोगों के पास पैसा होता है वो कोई प्लॉट या मकान, फ़्लैट खरीद लेते हैं, ऐसे में यहाँ बहुत बार लोग उन लोगों के फंदे में भी फँस जाते हैं जो फ़र्ज़ी तरीके से ज़मीन/प्लॉट आदि बेचने/खरीदने का काम करते हैं


जानकारी के मुताबिक आतिफ नाम का ये भू-माफिया लम्बे समय से अलीगढ के सिविल लाइन्स इलाके में अपने साथियों के साथ मिल कर फ़र्ज़ी तरीके से लोगों को ठगी का शिकार बना रहा था, सेंट्रल डायरी फार्म की बहुत सारी ज़मीन इसने अपने साथियों की मदद से लोगों को बेच दी, यही नहीं किसानों से भी ये दबा धौंसा कर ज़मीन हासिल कर उसे ऊँचे दामों में बेचने का काम करता रहता है

आतिफ नाम का ये माफिया लम्बे समय से फरार चल रहा बताया जाता है, जिसे 16 अप्रैल को जवा थाने को पुलिस ने गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया है, आतिफ हेराफेरी के मामले में फरार था, इसकी लम्बी क्राइम हिस्ट्री बताई जाती है, जानकारी के मुताबिक ये हाथरस जनपद के सिकंदराराऊ का रहने वाला है वहां भी इसके खिलाफ कई मामले दर्ज हैं

भू माफिया आतिफ के साथ हमदर्द नगर, FM टॉवर, दोधपुर इलाके के कई लोग मिल कर भोले-भाले लोगों को ठगी का शिकार बनाते हैं, कहा जाता है कि आतिफ के ऊपर के एक बड़े व्यक्ति का हाथ है जिसकी पहुँच राजनीती में बहुत ऊपर तक है, इसी कारण से ये हर मामले में आसानी से बच निकलता था, मगर वो पुलिस को चकमा देने में नाकाम रहा और धर लिया गया है

भू माफिया आतिफ के पकडे जाने के बाद लोगों में चर्चा है कि क्या इस के गॉडफादर पर भी पुलिस हाथ डालेगी, या क्या इसके अन्य साथियों के खिलाफ भी कार्यवाही होगी?

 

Crime History Atif – Sharif

 

31622024240034_अब्दुल आहद

 

31622009240011_साजमा