उत्तर प्रदेश राज्य

आज़म ख़ान व उनके करीबी लोगों पर सुबह से ही आईटी की छापेमारी जारी, अखिलेश यादव, रामगोपाल यादव ने कहा….

सपा नेता आजम खान व उनके करीबी लोगों पर सुबह से ही आईटी की छापेमारी जारी है. रामपुर से लेकर दिल्ली तक आईटी के कई अधिकारी छापेमारी कर रहे हैं. जिसको लेकर सियासत भी गर्म हो गई है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आईटी की छापेमारी पर निशाना साधते हुए केंद्र सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा कि ‘सरकार जितनी कमज़ोर होगी, विपक्ष पर छापे उतने बढ़ते जाएंगे’.

वहीं सपा के प्रमुख महासचिव रामगोपाल यादव ने भी सरकार पर बड़ा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि “ऐसा लगता है दिल्ली में बैठे लोग हताशा में कदम उठा रहे हैं. आज़म खान के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार के इशारे पर पहले ही सैकड़ों, फर्जी मुकदमे कायम किए गए हैं. जहां तक IT के छापे की बात है तो मुझे नहीं लगता की आज़म जैसे ईमानदार व्यक्ति के यहां ऐसी कार्रवाई होनी चाहिए… यह दुखद है.”

ANI_HindiNews

@AHindinews
समाजवादी पार्टी (सपा) नेता आज़म खान से जुड़े कई परिसरों पर आईटी की छापेमारी पर सपा सांसद राम गोपाल यादव ने कहा, “ऐसा लगता है दिल्ली में बैठे लोग हताशा में कदम उठा रहे हैं। आज़म खान के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार के इशारे पर पहले ही सैकड़ों, फर्जी मुकदमे कायम किए गए हैं। जहां तक IT के छापे की बात है तो मुझे नहीं लगता की आज़म जैसे ईमानदार व्यक्ति के यहां ऐसी कार्रवाई होनी चाहिए… यह दुखद है।”

वहीं सपा के हमलों का जवाब डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने दिया है. उन्होंने कहा “अगर सपा प्रमुख समझते हैं कि विपक्ष के लोग भ्रष्टाचार कर उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई नहीं होगी, तो ऐसा नहीं है. अगर सरकार को सूचना मिलेगी तो IT विभाग को छापा मारने का अधिकार है. अगर कोई संस्था अपनी जांच कर रही हो उस बीच किसी राजनेता का बयान, बाधा, अड़चन , माहौल खराब करने का प्रयास नहीं करना चाहिए.”