दुनिया

आतंकी इस्राईली सैनिकों पर अलअक़्सा बटालियन का जवाबी हमला, मस्जिदुल अक़्सा में नमाज़ पढ़ने पर पूरे शहर की घेराबंदी!

वेस्ट बैंक के अरिहा शहर पर जब आतंकी इस्राईली सेना हमला कर रही थी, उसी समय शोहदाए अलअक़्सा बटालियन के जियालों जवाबी कार्यवाही करते हुए ज़ायोनी आतंकियों को निशाना बनाया है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, शुक्रवार की सुबह आतंकी ज़ायोनी सेना ने वेस्ट बैंक के अरिहा शहर पर हमला कर दिया। इस्राईली सेना ने आम लोगों पर गोलिया चलाई और आंसू गैस के गोले दाग़े। इस हमले में कई फ़िलिस्तीनियों के घायल होने की सूचना है। वहीं शोहदाए अलअक़्सा बटालियन के जियालों ने अरिहा शहर के दक्षिण में स्थित अक़्बा जबर कैम्प के प्रवेश द्वार पर आतंकी इस्राईली सैनिकों का रास्ता रोक लिया। स्थानीय लोगों के अनुसार, फ़िलिस्तीनी जियालों ने आतंकी ज़ायोनी सैनिकों के ख़िलाफ़ जवाबी कार्यवाही करते हुए उनपर गोलिया बरसाईं।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक़, शोहदाए अलअक़्सा बटालियन की जवाबी कार्यवाही के बाद आतंकी इस्राईली सैनिकों को वहां से भागना पड़ा, लेकिन कुछ देर बाद आतंकी ज़ायोनियों ने ड्रोन का इस्तेमाल किया। ग़ौरतलब है कि आतंकी इस्राईली सेना ने 6 दिनों से अरिहा शहर की घेराबंदी कर रखी है। जगह-जगह पर सैन्य चेक पोस्ट और सीमेंट ब्लॉक लगाकर सभी मुख्य रास्तों के साथ-साथ बाइपास भी बंद कर दिए हैं। अवैध ज़ायोनी शासन ने अरिहा शहर की घेराबंदी केवल इसलिए की है क्योंकि इस शहर के लोगों ने भारी बारिश और हर तरह के प्रतिबंधों के बावूजद हज़ारों की संख्या में मस्जिदुल अक़्सा पहुंचकर नमाज़ अदा की।