देश

आप की नेशनल एग्जीक्यूटिव और नेशनल काउंसिल की बैठक आयोजित : केजरीवाल ने कहा-जेल जाने के लिए तैयार हैं

नई दिल्ली।आम आदमी पार्टी के नेशनल एग्जीक्यूटिव और नेशनल काउंसिल की रविवार को आयोजित हुईं बैठकों में पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 12 साल में आप को अभूतपूर्व सफलता मिली है। हमने वह काम कर दिखाया है, जो 75 साल में भी दूसरी पार्टियां नहीं कर पाईं।

पिछले दो साल में पंजाब में किया गया आप सरकार का काम दिखाता है कि अगर पूर्ण राज्य में हमारी सरकार हो तो हम बहुत तेजी से काम कर सकते हैं। उन्होंने भाजपा के साथ-साथ इंडिया गठबंधन की अपनी साथी कांग्रेस पर भी निशाना साधा। वर्चुअल माध्यम से हुईं दोनों बैठकों में देशभर के पार्टी पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया, जबकि पंजाब के सीएम भगवंत मान और राष्ट्रीय संगठन महामंत्री डॉ. संदीप पाठक स्वयं मौजूद रहे।

केजरीवाल ने कहा कि आप ने 10 साल में ही राष्ट्रीय राजनीति में बहुत प्रभावशाली दस्तक दी है। देश में पहली बार विरोधी दल स्कूल-अस्पताल पर बात करने को मजबूर हुए हैं। अब तो विरोधी दलों ने हमारा गारंटी शब्द और घोषणा पत्र भी चुरा लिया है। अब वे मोदी की गारंटी और कांग्रेस की गारंटी कहने लगे हैं। इन लोगों ने जनता को गारंटियां तो दीं, लेकिन किसी ने पूरी नहीं कीं, क्योंकि इनकी नीयत ठीक नहीं है, जबकि हम अपनी सारी गारंटी पूरी कर रहे हैं।

 

इस दौरान उन्होंने ये भी कहा कि हमारे जो पांच नेता जेल में हैं, वे हमारे हीरो हैं और हमें उन पर गर्व है। अगर आप बच्चों को अच्छी शिक्षा देने और गरीबों का मुफ्त में इलाज कराने की बात करेंगे तो जेल जाना ही पड़ेगा और हमें इसके लिए तैयार रहना होगा।

हमारे काम में काफी अड़चनें लगाईं
केजरीवाल ने कहा कि अब तक जब भी कोई सरकार बनती है तो सबसे पहले वह सरकारी कंपनियां बेचना शुरू कर देती हैं। वह एयर लाइंस, एयरपोर्ट, कोयला खदान, भेल, रेल सब कुछ बेच देती हैं। सभी जानते हैं कि बेचने में किस तरह से भ्रष्टाचार होता है। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमारे काम में उपराज्यपाल और केंद्र सरकार ने काफी अड़चनें लगाईं और काफी जद्दोजहद के बाद आज दिल्ली में 500 मोहल्ला क्लीनिक हैं।

पंजाब में हो रहे काम का श्रेय मान को दिया
केजरीवाल ने कहा कि किसी भी पार्टी के इतिहास में 12 साल का समय कुछ भी नहीं होता है। एक आदमी की एमएलए की सीट जीतने में ही पूरी जिंदगी बीत जाती है और कई चप्पलें घिस जाती हैं। आम आदमी पार्टी को 12 साल में अभूतपूर्व सफलता मिली है।

आम आदमी पार्टी को लोगों ने पहले दिल्ली में और फिर पंजाब में मौका दिया। हमने जो काम किए, ऐसे काम किसी और पार्टी ने कभी करके ही नहीं दिखाए थे। केजरीवाल ने पंजाब में हो रहे काम का श्रेय भगवंत मान को देते हुए कहा कि पिछले 75 साल से पंजाब में दो पार्टियों ने एक-एक करके राज किया और राज्य का वह हाल कर दिया कि युवा, व्यापारी, जनता और किसान सभी दुखी थे। इन लोगों ने सरकारी खजाना लूटकर खाली कर दिया था।

 

 

इसके बाद करीब दो साल पहले दिल्ली के काम को देखकर पंजाब की जनता ने आम आदमी पार्टी को मौका दिया। दो साल के अंदर पंजाब में जो काम हुए हैं, वह ये दिखाता है कि अगर पूर्ण राज्य में हमारी सरकार हो तो आम आदमी पार्टी कितनी तेजी के साथ काम कर सकती है। हम शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, महंगाई और रोजगार की बात करने लगे, जो किसी और पार्टी ने कभी नहीं की थी।

लोकसभा और राज्यसभा चुनाव को बताया अहम
आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें पूरे देश में अपना संगठन बनाना और उसमे मजबूत करना बेहद जरूरी है। बिना मजबूत संगठन के चुनाव नहीं जीते जा सकते हैं। राज्यों में पार्टी का संगठन बनाने के लिए सभी लोगों को अपने-अपने राज्यों में मेहनत करनी पड़ेगी। लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी इंडिया गठबंधन का हिस्सा है। हमें सीट शेयरिंग में जो-जो सीटें मिलेंगी, उन सीटों पर हमें अच्छे से चुनाव लड़ना है और हमारा पूरा प्रयास रहेगा कि हम वो सारी सीटें जीतें।

आगे कहा कि जिन राज्यों में आम आदमी पार्टी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ रही होगी, उन राज्यों के पार्टी के वालेंटियर्स जहां चुनाव लड़ेंगे, वहां आकर मदद करेंगे। उन्होंने कहा कि लोकसभा के बाद हरियाणा विधानसभा का चुनाव हमारे लिए सबसे बड़ा चुनाव है। आम आदमी पार्टी सरकार बनाने के इरादे से हरियाणा का विधानसभा का चुनाव लेड़ेगी और उसमें हम अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे। अक्टूबर-नवंबर में हरियाणा का चुनाव होने की संभावना है।

हमने जनता की भलाई के लिए जिन रास्तों को चुना है, उसमें जेल जाना पड़ेगा- अरविंद केजरीवाल
आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारे देश में करीब 1350 राजनीतिक दल हैं। आम आदमी पार्टी इन 10 वर्षों में 1350 राजनीतिक दलों में तीसरे स्थान पर आ गई है। इसके अलावा देश के लोग 5-10 और राजनीतिक दलों को जानते होंगे। हमने अपनी पार्टी बनाई।

आगे कहा कि अगर हम भी उन 1350 राजनीतिक दलों की तरह सफल नहीं होते और कुछ अच्छा नहीं करते तो हमारी पार्टी का कोई नेता जेल नहीं जाता और आज सभी अपने घर-परिवार में खुश होते। हम लोगों ने जनता की भलाई के लिए जिन रास्तों को चुना है, उसमें जेल जाना ही पड़ेगा। आप अगर बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे तो आपको जेल जाना पड़ेगा, गरीबों का मुफ्त में इलाज कराओगे तो जेल जाना ही पड़ेगा। इसलिए हम सभी के लिए यह तय करना जरूरी है कि हमें जेल जाना है या नहीं जाना। अगर जेल जाने के लिए तैयार हैं तो बच्चों को अच्छी शिक्षा देने और गरीबों का मुफ्त इलाज कराने के रास्ते पर चलते रहो।