दुनिया

उत्तरी कोरिया ने घोषणा की, वह भविष्य में भी अंतरिक्ष में सैन्य उपग्रह रवाना करता रहेगा, अमेरिका नाराज़!

उत्तरी कोरिया की ओर से अंतरिक्ष में सैन्य उपग्रह भेजे जाने से अमरीका बहुत नाराज़ हो गया है।

पियुंगयांग ने घोषणा की है कि वह भविष्य में भी अंतरिक्ष में सैन्य उपग्रह रवाना करता रहेगा।

कुछ समय पहले उत्तरी कोरिया ने अपने एक निगरानी करने वाले उपग्रहण को सफलतापूर्वक पृथ्वी की कक्षा में स्थापित किया था। पियुंगयांग से इस काम से अमरीका, जापान और दक्षिणी कोरिया बहुत नाराज़ हुए थे।

जब उत्तरी कोरिया के उपग्रह से चित्र भेजे जाने लगे तो इसने पियुंगयांग का विरोध करने वाले देशों को अधिक क्रोधित बना दिया। पियुंगयांग का यह कहना है कि उसने यह काम, क्षेत्र में अमरीका, जापान और दक्षिणी कोरिया की उकसावे वाली कार्रवाहियों का मुक़ाबला करने के उद्देश्य से किया है।

इसी बीच शुक्रवार को अमरीका, जापान और दक्षिणी कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों ने दक्षिणी कोरिया की राजधानी सियोल में एक संयुक्त बैठक का आयोजन किया। उत्तरी कोरिया की ओर से यह बात लंबे समय से कही जाती रही है कि कोरिया प्रायद्वीप में अमरीका, जापान और दक्षिणी कोरिया के संयुक्त सैन्य अभ्यास, इस क्षेत्र को तनावपूर्ण करने में सहायक बन रहे हैं।

पियुंगयांग का कहना है कि जबतक क्षेत्र में तनावपूर्ण माहौल रहेगा उस समय तक वह अपनी सैन्य सुरक्षा को मज़बूत बनाने के लिए कार्यवाहियां करता रहेगा।