देश

कैथल, 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म व निर्मम हत्या को लेकर रणदीप सिंह सुरजेवाला ने खट्टर सरकार पर बोला हमला, बेटी को इंसाफ़ दो

Ravi Press
===========
बेटी को इंसाफ दो, फास्ट ट्रैक में केस चलाकर हत्यारे को मिले तुरंत फांसी की सजा : रणदीप सुरजेवाला
सुरजेवाला बोले – दरिंदगी की ऐसी हदें समाज के लिए अभिशाप, मासूम बच्ची व परिवार के प्रति रणदीप सुरजेवाला ने व्यक्त की संवेदना
कैथल, 11 अक्टूबर 2022

कलायत थाना क्षेत्र के गांव में हुई 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म व निर्मम हत्या को लेकर सांसद व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने खट्टर सरकार से अपील करते हुए कहा कि इस तरह के अपराध के लिए समाज में किसी व्यक्ति के लिए कोई जगह नहीं है। बेटी को तुरंत प्रभाव से इंसाफ मिलना चाहिए। केस को फ़ास्ट ट्रैक में चलाकर इस निर्दयी व निरंकुश आरोपी को तुरंत प्रभाव से फांसी की सजा दी जाए।
रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि आज हरियाणा में अपराध, हत्या, चोरी व बलात्कार का गंदा खेल खुले तौर से चल रहा है। अपराधी बेख़ौफ़ हैं। युवाओं में नशा का कारोबार इस कद्र हावी हो चुका है कि वहशी चोरी व बलात्कार के अपराध को खुलेआम अंजाम दे रहे हैं। हर रोज ऐसी भयानक व दर्दनाक खबरें अखबारों की सुर्खियां बन रही हैं। लेकिन भाजपा-जजपा सरकार हर तरह के अपराध पर अंकुश लगाने में विफल साबित हुई है।
रणदीप सुरजेवाला ने भाजपा-जजपा सरकार से जवाब मांगते हुए कहा, क्या कारण है कि :- 👇

● आज हरियाणा अपराध के मामले में नंबर 1 बन चुका है। प्रदेश में जंगलराज काबिज हो चुका है।
● कानून व्यवस्था का दिवालिया निकल चुका है।
● क्यों नशा पर अंकुश नहीं लग रहा जिस कारण वहशी अपराध को निरंतर अंजाम दे रहे हैं।
● खट्टर सरकार की न कोई नीति है और न कोई नियत। जिस कारण अपराधी बिना किसी डर व भय के वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।
● क्या खट्टर सरकार अपराधियों पर अंकुश लगाने में इतनी विफल व लाचार हो चुकी है कि जिसका खामियाजा जनता को इस तरह से भुगतना पड़ेगा।

सांसद रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि जल्द से जल्द केस को फास्ट ट्रैक में चलाकर अपराधी को फांसी दी जाए ताकि भविष्य में जनता का भरोसा पुलिस प्रशासन व सरकार पर बन पाए और अपराधी इस तरह का अपराध करने से गुरेज करे। रणदीप सुरजेवाला ने खट्टर सरकार से परिवार को उचित मुवावजा देने की भी अपील की।

गौरतलब है कि 3 दिन पहले 7 वर्षीय मासूम लड़की की दुष्कर्म के बाद हत्या करके शव जला दिया गया था। पेट्रोल डालकर आग लगाने की वजह से 80 प्रतिशत से ज्यादा शव जल चुका था ।