देश

चुनाव से पहले केरल में EVM की टेस्टिंग हो रही थी, आरोप है-EVM में कोई भी बटन दबाने पर वोट BJP को जा रहा था, EC ने SC में दिया जवाब!

Sandeep Chaudhary commentary
@newsSChaudhry

चुनाव से पहले केरल में EVM की टेस्टिंग हो रही थी.

आरोप है कि वहां EVM में कोई भी बटन दबाने पर वोट BJP को जा रहा था.

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से जांच करने को कहा है.

मुझे यकीन है निष्पक्ष चुनाव आयोग अच्छे से जांच करेगा.

दिल्ली

➡सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से जांच के लिए कहा

➡केरल में मॉकपोल के दौरान EVM में अतिरिक्त वोट

➡बीजेपी को ईवीएम में अतिरिक्त वोट मिलने की जांच

Gurpreet Garry Walia
@garrywalia_
लेटेस्ट बेवक़ूफ़ बनाने की ट्रिक 👇🏻

कांग्रेस राज होता तो मोबाइल का बिल
3000-4000 रुपये आता मोदी आपको सस्ता डेटा दे रहा है आपका बिल 400-500 आ रहा है

अब आप कहोगे भाई इसमें कैसे बेवक़ूफ़ बनाया

चलो अब बताता हूँ

मोबाइल का बिल दिखा दिया जो गैस का सिलेंडर इतना महँगा हो गया उसका क्या

मोबाइल का बिल दिखा दिया जो तेल के दाम 100 पार कर दिया उसका क्या

मोबाइल का बिल दिखा दिया जो दूध महँगा हो गया उसका क्या

मोबाइल का बिल दिखा दिया जो फल सब्ज़िया महँगी हो गई उसका क्या

अब अंत में ये बताओ मोबाइल का बिल कैसे सस्ता हुआ 😂

Puneet Kumar Singh
@puneetsinghlive

केरल में ‘Mock Poll’ के दौरान EVM से भाजपा को मिले ‘एक्स्ट्रा वोट’

डिस्क्लेमर : ट्वीट्स में लोगों के निजी विचार/जानकारियां हैं

 

चुनाव आयोग ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि केरल में ईवीएम के मॉक टेस्ट के दौरान बीजेपी को एक अतिरिक्त वोट दिखाने वाली रिपोर्ट गलत है.

चुनाव आयोग ने कहा है कि “ये न्यूज़ रिपोर्ट गलत है हम कोर्ट में विस्तृत रिपोर्ट जमा करेंगे.”

जस्टिस संजीव खन्ना और दीपांकर दत्ता की बेंच के सामने याचिकाकर्ता एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स की ओर से पेश वकील प्रशांत भूषण की उन रिपोर्टों का ज़िक्र किया जिसमें दावा किया गया है कि चार ईवीएम का 17 अप्रैल तो केरल में मॉक टेस्ट हो रहा था जिसमें इन मशीनों ने बीजेपी के चिन्ह वाली अतिरिक्त पर्चियां निकालीं.

2 बजे जब लंच ब्रेक के बाद बेंच दोबारा बैठी तो चुनाव आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी नितेश कुमार व्यास ने अदालत को बताया कि ये “खबरें झूठी हैं.”

उन्होंने कोर्ट में कहा, “हमने ज़िला कलेक्टर से आरोपों को वैरिफ़ाई किया है और ऐसा लग रहा है कि ये रिपोर्ट झूठी है.हम कोर्ट को एक विस्तृत रिपोर्ट सौंपेंगे.”

17 अप्रैल को ऑनमनोरमा ने एक रिपोर्ट की थी कि केरल में ईवीएम ने गलती से मॉक टेस्ट में बीजेपी के पक्ष में वोट रजिस्टर किये.

===========
उमंग पोद्दार

लीगल संवाददाता, बीबीसी