कश्मीर राज्य

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में भूस्खलन से जेसीबी चालक समेत चार लोगों की मौत, छह घायल

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में भूस्खलन से जेसीबी चालक समेत चार की मौत हो गई है और छह घायलों का बचाया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार रेस्क्यू अभियान संपन्न हो गया है। अभियान के तहत चार शवों को निकाला गया है। भूस्खलन के बाद मलबे में दबे छह घायलों को भी बचा लिया गया है। किश्तवाड़ के उपायुक्त देवांश गुप्ता के अनुसार बचाव अभियान पूरा हो गया है।

 

ANI
@ANI

Jammu and Kashmir | One JCB driver died in a landslide at the site of the under-construction Ratle Power Project. The rescue team, deputed to the site after the incident, also got trapped under the debris. Rescue operation going on: Devansh Yadav, Deputy Commissioner, Kishtwar

ANI
@ANI

“Spoke to DC Kishtwar,J&K on receiving report of a fatal landslide at the site of under-construction Ratle Power Project. JCB driver unfortunately died. Rescue team of about 6 persons, deputed to site after the incident, has also got trapped under the debris: Union Min Dr J Singh

महत्वाकांक्षी रतले पनबिजली परियोजना स्थल पर भूस्खलन से जेसीबी चालक की मौत की खबर पहले आई। चालक को निकालने के लिए रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची तो पहाड़ से और मलबा आ गिरा, जिससे छह कर्मी मलबे में दब गए। शनिवार शाम करीब छह बजे पहाड़ी का हिस्सा गिरने से हुए हादसे में दबे कर्मियों को बचाने के लिए बड़े स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया।

बचाव कार्य के दौरान भूस्खलन के खतरे को देखते हुए मशीनों का प्रयोग रोक दिया गया। चिनाब दरिया पर बनाई जा रही 850 मेगावाट क्षमता वाली बिजली परियोजना के स्थल द्रबशाला के रतले में देर शाम हादसा हुआ। परियोजना का काम इसी साल शुरू किया गया है। शनिवार को सड़क के लिए पहाड़ की कटाई का काम चल रहा था। यह हिस्सा पथरीला है।

जेसीबी मशीन के साथ चालक काम में जुटा था, इसी दौरान पहाड़ का एक हिस्सा दरकने से बड़े-बड़े पत्थरों के साथ मलबा नीचे आ गिरा। घटनास्थल पर भगदड़ मच गई। जेसीबी चालक को बचाने के लिए जैसे ही रेस्क्यू दल मौके पर पहुंचा तो पहाड़ से और मलबा आ गिरा, जिसमें छह लोग दब गए। पुलिस, सेना, रेडक्रॉस टीम के सदस्य रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे रहे। मलबा हटाने से भूस्खलन का खतरा बना हुआ था।