देश

तमिलनाडू में साम्प्रदायिक हिंसा को हवा दे रहे हैं राज्यपाल, डीएमके सरकार ने राष्ट्रपति से राज्यपाल को हटाने की मांग की!

भारत की तमिलनाडू राज्य की सरकार और वहां के राज्यपाल के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है।

तमिलनाडू की डीएमके सरकार ने राष्ट्रपति से राज्यपाल आर एन रवि को हटाने की मांग की है।

डीएमके ने राष्ट्रपति मुर्मू को ज्ञापन भेजकर बताया है कि तमिलनाडू के राज्यपाल, राज्य में सांप्रदायिक हिंसा को भड़का रहे हैं, जो राज्य की शांति के लिए गंभीर ख़तरा है। राष्ट्रपति को भेजे गए इस ज्ञापन में कहा गया है कि राज्यपाल ने अपने कामों और आचरण से यह सिद्ध कर दिया है कि वे राज्यपाल जैसा संवैधानिक पद संभालने के योग्य नहीं रह गए हैं। इसलिए उनको तुरंत अपदस्त किया जाए।

दो नवंबर को डीएमके द्वारा राष्ट्रपति कार्यालय भेजे गए विस्तृत ज्ञापन में तमिलनाडू के भीतर सरकार और राज्यपाल के बीच कई मुद्दों पर टकरवा का उल्लेख किया गया है। इस ज्ञापन के अनुसार राज्यपाल आर एन रवि के सारे ही काम अशोभनीय रहे हैं। उन्होंने अपना पद संभालते समय संविधान और क़ानून के संरक्षण तथा तमिलनाडू की जनता की सेवा के लिए स्वयं को समर्पित करने की शपत ली थी किंतु आर एन रवि के व्यवहार में एसा कुछ भी नहीं दिखाई देता है।