दुनिया

तुर्किए में आए भीषण भूकंप के बाद हर दिन मरने वालों की संख्या का एक नया आंकड़ा सामने आ रहा है, अर्दोगान हुए भावुक

तुर्किए में आए 7.8 तीव्रता के भूकंप से होने वाले मौतों की संख्या 22 हज़ार के पार पहुंच गई है और अब धीरे धीरे मल्बे में फंसे लोगों को जीवित बाहर निकालने की आशाएं धूमिल पड़ती जा रही हैं।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, तुर्किए में आए भीषण भूकंप के बाद हर दिन मरने वालों की संख्या का एक नया आंकड़ा सामने आ रहा है। इस बीच तुर्किए के राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोगान शनिवार को बड़े भावुक मन से इस बात की पुष्टि की है कि उनके देश में भूकंप से मरने वालों की संख्या 21 हज़ार 43 पहुंच गई है। वहीं इस भूकंप से घायल होने वालों की संख्या दसियों हज़ार है जबकि कई लाख लोग इससे प्रभावित हुए हैं। अर्दोगान ने अपने बयान में कहा है कि आए भूकंप के बाद उनके देश को एक बड़ी आपदा का सामना करना पड़ रहा है। तुर्किए के राष्ट्रपति ने बताया कि भूकंप ने तुर्किए के 500 किलोमीटर से अधिक इलाक़े को प्रभावित किया है। उन्होंने कहा कि कुछ शहरों और क्षेत्रों में बचाव और खोज अभियान समाप्त हो गया है।

पांच दिन बीत जाने के बाद भी लगातार बचाव एवं राहत कार्य बिना रुके जारी है। इस बीच बचावकर्मियों का कहना है कि मलबे के नीचे से किसी के जीवित बचे रहने की उम्मी अब बहुत कम है, लेकिन अगर कोई चीवित निकल आता है तो वह किसी चमत्कार से कम नहीं होगा। वहीं विभिन्न देशों के सैकड़ों बचाव एवं राहत कर्मी अभी भी मलबे से और लोगों को बचाने के लिए कड़ी मेहनत और अत्यधिक ठंड में काम कर रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में तुर्किए में आए भूकंप में मरने वालों की संख्या काफ़ी ज़्यादा हो सकती है।