मध्य प्रदेश राज्य

देवास गाँव के चौराहे पर किसानों ने दिया धरना, नहर में शीघ्र पानी छोड़ने की मांग : माखन सिंह पटेल की रिपोर्ट!

Makhan Singh Patel
===========
*♦️देवास गाँव के चौराहे पर किसानों ने दिया धरना नहर में शीघ्र पानी छोड़ने की मांग♦️*
♦️विन्ध्य भारत बैकुण्ठपुर♦️

*बैकुण्ठपुर/गंगेव* किसान भाई फसल सिंचाई को लेकर चिंतित देवास चौराहे स्थित सड़क पर सैकड़ों से ज्यादा कृषकों ने दिया धरना बता दें कि देवास क्योटी कैनाल वितरिका उप संभाग क्रमांक 02 रीवा में पानी नहीं छोड़ने से किसानों के गेहूं सहित अन्य कई फसलें सिंचाई के अभाव में सूख रही हैं देखा जा रहा है फरवरी माह से ही मौसम गर्म हो गया है ऐसे में किसानों को फसलों के लिए पानी अत्यंत जरूरी हो गया है उक्त कैनाल में महीनों से पानी की आवक बंद है तथा किसान भाइयों के निजी ट्यूबेल पम्प में भी पानी की कमी आ गई है जिससे सिंचाई के साधन का कोई रास्ता नहीं बचा फसल सिंचाई नहीं हो पाने को लेकर किसान बन्धु धरना करने के लिए विवश हैं वही संयुक्त किसान मोर्चा के संयोजक शिव सिंह ने बताया कि देवास सहित आसपास के गांव के किसान दिनेश पटेल सिद्धमुनि पटेल अखिलेश पटेल रावेंद्र पटेल नीरज पटेल पूर्व सरपंच रामनरेश पटेल पूर्व सरपंच भोला प्रसाद पटेल पूर्व सरपंच नीलम दल प्रताप राकेश पटेल प्रमोद पटेल सुरेश पटेल संतोष सेन अतुल दुबे शिवेंद्र दुबे कमलेश सेन पिंटू सेन शिवम पटेल रोहित रावत राजेंद्र साहू कामता प्रसाद पटेल प्रतिमा पटेल अंकित पटेल बिहारी सेन छोटेलाल सेन रजनीश पटेल दीपक रजक रमेश साकेत रामाधार साकेत राघवेंद्र पटेल दल्लू साहू रामलखन साहू लवकुश तिवारी हीरामणि सिंह भगवानदीन पटेल सीटू पटेल सुनील पटेल सीताराम पटेल नागेंद्र पटेल विकास पटेल विश्वनाथ पटेल चंद्रमणि पटेल राकेश सेन दीपक विश्वकर्मा रामजी केवट वीरू केवट राजीव पटेल रामलाल पटेल आदर्श पटेल राजेश गुप्ता मनीष गुप्ता रामसुशील पटेल लगातार शासन प्रशासन से सिंचाई के लिए नहर में पानी छोड़े जाने की मांग करते रहे किसानों ने कलेक्टर एसडीएम सिरमौर एवं संबंधित विभाग के आला अधिकारियों को ज्ञापन भी प्रस्तुत किया था इसके बाद भी पानी नहीं छोड़ा गया जिससे नाराज आक्रोशित किसानों ने देवास चौराहे पर सड़क में बैठकर विरोध प्रदर्शन किया जिसको लेकर संयुक्त किसान मोर्चा के संयोजक शिव सिंह किसान नेता गया प्रसाद मिश्रा रामजीत सिंह इंद्रजीत सिंह शंखू अभिषेक कुमार पटेल शोभनाथ कुशवाहा आदि ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार किसानों से दुश्मन की तरह व्यवहार कर रही है यदि शीघ्र कैनाल में पानी नहीं छोड़ा जाता है तो संबंधित विभागों के कार्यालय में अधिकारियों को घेरने का काम किया जाएगा जिसकी जवाबदेही शासन प्रशासन की होगी अतएव किसान भाइयों ने अतिशीघ्र सिंचाई से प्रभावित क्षेत्र की नहर में पानी छोड़ने की मांग की है।