दुनिया

दोहा : फ़ार्स खाड़ी सहयोग परिषद ने ग़ज़ा पर ज़ायोनी हमलों की आलोचना की, कहा तत्काल हो संघर्ष विराम

फ़ार्स खाड़ी सहयोग परिषद के देशों ने दोहा में अपनी बैठक में ग़ज़ा पट्टी पर इस्राईल के हमलों की निंदा करते हुए कहा कि ज़ायोनी शासन के हमले तत्काल बंद होने चाहिए।

बैठक के समापन घोषणापत्र में कहा गया कि ग़ज़ा पट्टी के लिए तत्काल मानवीय सहायता, बचाव अभियान के उपकरण और मेडिकल सहायताएं भेजी जाएं। बयान में अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं से मांग की गई है कि वे ग़ज़ा के लोगों को ज़रूरत की चीज़ों की सप्लाई करें।

बयान में यह भी कहा गया है कि ज़ायोनी शासन ने ग़ज़ा पट्टी की जो कई साल से नाकाबंदी कर रखी है उसे समाप्त किया जाना चाहिए और यह घेराबंदी सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 2417 के ख़िलाफ़ भी है।

बयान में कहा गया है कि विश्व समुदाय दोहरे मापदंडों से बचते हुए इस विषय में अपनी ज़िम्मेदारी पर अमल करे।

फ़ार्स खाड़ी सहयोग परिषद के बयान में ग़ज़ा में संघर्ष विराम और क़ैदियों के आदान प्रदान में इसी तरह ईरान र अमरीका के बीच बातचीत में क़तर की मध्यस्थ की भूमिका की सराहना की गई।