धर्म

नीतीश कुमार ने ‘इंडिया’ गठबंधन का संयोजक बनने से इनक़ार किया!

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ‘इंडिया’ गठबंधन का संयोजक बनने से इनकार कर दिया है.

जेडीयू नेता संजय झा ने मीडिया से कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि ‘इंडिया’ गठबंधन का संयोजक सिर्फ कांग्रेस से ही होना चाहिए.

‘इंडिया’ गठबंधन की शनिवार को हुई बैठक के बाद एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने पुणे में कहा, “हर किसी का सुझाव था कि नीतीश कुमार को संयोजक की ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए, लेकिन उनका मत था कि जो पहले से इस भूमिका में है, उसे ही इस पद पर बने रहना चाहिए.”

प्रधानमंत्री के चेहरे के बारे में उन्होंने कहा कि “चुनाव बाद अगर बहुमत मिलता है तो हम देश के सामने बेहतर विकल्प देने की स्थिति में होंगे.”

“मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता में इंडिया गठबंधन की एक बैठक हुई. तय हुआ कि जल्द से जल्द सीट साझेदारी पर फैसला लिया जाए. कुछ लोगों का सुझाव था कि गठबंधन की अगुवाई मल्लिकार्जुन खड़गे करें और इस पर सभी लोग सहमत थे.”

इसे लेकर बीजेपी नेताओं ने चुटकी ली है.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा, “क्या उन्हें संयोजक बनाने का ऑफ़र सीरियस था क्या? अगर सीरियस था तो पहले क्यों नहीं दिया. अगर नॉन सीरियस था तो अभी क्यों दिया. कभी कभी मुझे हंसी आती है कि कैसा गठबंधन है कि वैकेंसी है नहीं, कौन जीतने वाला है इसकी गारंटी है नहीं, उठापटक संयोजक बनाने पर हो रही है. एक कहावत है कि बड़े बेआबरू होकर तेरे कूचे से निकले.”

ANI
@ANI
Pune, Maharashtra: On INDIA alliance meeting held today NCP chief Sharad Pawar says, “A meeting of INDIA Alliance was held under the chairmanship of Mallikarjun Kharge. We had a discussion that we all will take a decision on seat sharing as soon as possible. It was suggested by some that the alliance should be headed by Mallikarjun Kharge and everyone agreed. We also formed a committee to make plans in the coming days. Everyone suggested that Nitish Kumar should take responsibility as the convenor, but his opinion is that the one who is already in charge should continue… (On PM’s face) After the elections, if we get the majority, then we would be able to give a better option to the country…”

 

बिहार बीजेपी के अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि बिहार के लोग उम्मीद कर रहे थे कि नीतीश कुमार को पीएम चेहरा घोषित किया जाएगा लेकिन गठबंधन ने उनका नाम नहीं घोषित किया. इंडिया गठबंधन के लोग चाहते ही नहीं हैं.