खेल

फ़ुटबॉल विश्व कप शुरू होने से एक दिन पहले फ़ीफ़ा ने पश्चिम को बताया ‘पाखंडी’, क़तर का किया बचाव!

फ़ुटबॉल विश्व कप शुरू होने से एक दिन पहले फ़ीफ़ा के अध्यक्ष जियानी इन्फ़ेंटिनो ने क़तर के मानवाधिकार रिकॉर्ड को रिपोर्ट करने को लेकर पश्चिम पर ‘पाखंड’ करने का आरोप लगाया है.

दोहा में प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान इन्फ़ेंटिनो ने तक़रीबन एक घंटे तक अपनी बात रखी और मज़बूत तरीक़े से टूर्नामेंट और क़तर का बचाव किया.

प्रवासी मज़दूरों की मौतों और एलजीबीटी समुदाय के साथ व्यवहार को लेकर क़तर पर आरोप लगते रहे हैं और इसकी छाया विश्व कप के आयोजन पर देखी जा चुकी है.

इन्फ़ेंटिनो ने कहा, “आज मेरा ये मज़बूती से मानना है. आज मैं क़तरी, अरब, अफ़्रीकी, गे, विकलांग और प्रवासी मज़दूर महसूस कर रहा हूं.”

क़तर इस विश्व कप का आयोजन कर रहा है और रविवार की शाम 4 बजे इक्वाडोर के साथ अल बैत स्टेडियम में उसका उद्घाटन मैच है.

इन्फ़ेंटिन ने कहा, “मैं यूरोपीय हूं. दुनियाभर में 3,000 सालों से हमने जो कुछ भी किया उसके लिए नैतिक पाठ देने से पहले हमें अगले 3,000 सालों तक माफ़ी मांगनी चाहिए.”

“अगर यूरोप उन लोगों के भाग्य की चिंता करता है तो उसे क़तर की तरह एक क़ानूनी चैनल बनाना चाहिए. जहां पर ये मज़दूर यूरोप में काम करने जा सकते हैं. उन्हें कुछ भविष्य और कुछ उम्मीदें दीजिए.”