देश

भगोड़े, बलात्कारी संत नित्यानंद के हिंदू राष्ट्र ”#कैलासा” की UN में परमानेंट एंबेसडर ने भाषण दिया और भारत को टारगेट किया : रिपोर्ट

बलात्कार का आरोपी और खुद को भगवान का दर्जा देने वाला भारत से भगोड़ा घोषित नित्यानंद के देश ‘कैलासा’ ने संयुक्त राष्ट्र की एक बैठक में शामिल होने का दावा किया है। नित्यानंदपर भारत में रेप सहित कई बड़े आरोप लगे हुए है। वह भारत में वॉन्टेड घोषित है। इस सबके बीच नित्यानंद के देश ‘कैलासा’ ने दावा किया कि उसके प्रतिनिधि ने UN में हिस्सा लिया। जिनेवा में हुई इस बैठक में कैलासा की प्रतिनिधि ने कहा कि नित्यानंद को भारत ने ‘सताया’ है।

भारत ने नित्यानंद पर काफी जुर्म किए हैं। बैठक में खुद को विजयाप्रिया नित्यानंद कहने वाली महिला ने कैलासा का प्रतिनधित्व किया। उसने CESCR (कमेटी ऑन इकोनॉमिक, सोशल एंड कल्चरल राइट्स) की बैठक में खुद को राजदूत बताया। उसका वीडियो संयुक्त राष्ट्र की वेबसाइट पर भी पोस्ट किया गया है।


IANS Hindi
@IANSKhabar
भगोड़े स्वयंभू संत नित्यानंद के काल्पनिक राष्ट्र ‘कैलासा’ के प्रतिनिधियों ने जिनेवा में सतत विकास पर संयुक्त राष्ट्र समिति की चर्चा में अपना रास्ता बनाया। कैलासा को संयुक्त राष्ट्र द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है।

Jaiky Yadav
@JaikyYadav16
बागेश्वरधाम हिंदू राष्ट्र बनाना चाहता है मगर नित्यानंद हिन्दू राष्ट्र बना चुका है मगर देश से बाहर शायद किसी टापू पर।

ये औरत विजयप्रिया है जिसने उसके हिंदू राष्ट्र कैलासा की UN में परमानेंट एंबेसडर के नाते भाषण दिया और भारत को टारगेट किया। नित्यानंद दुष्कर्म के मामले में फरार है।

महिला ने कहा, ‘कैलासा हिंदुओं के लिए पहला संप्रभु देश है, जिसे हिंदू धर्म के सर्वोच्च पुजारी, नित्यानंद परमशिवम ने स्थापित किया है, जो हिंदू सभ्यता और हिंदू धर्म की 10,000 स्वदेशी परंपराओं को पुनर्जीवित कर रहे हैं, जिसमें आदि शैव स्वदेशी कृषि जनजातियां भी शामिल हैं। महिला के बोलने के बाद कैलासा के पुरुष प्रतिनिधि ने अपना नाम ईएन कुमार बताया और खुद को ‘छोटा सा किसान’ कहने वाले इस व्यक्ति ने किसानों के खिलाफ संसाधनों को बाहरी दलों द्वारा नियंत्रित किए जाने को लेकर सवाल पूछा।

कहां है कैलासा देश
दावा किया जाता है कि कैलासा इक्वाडोर के तट पर स्थित देश है, जिसका अपना झंडा, पासपोर्ट और रिजर्व बैंक भी है। दिसंबर 2020 में नित्यानंद ने यहां के लिए फ्लाइट तक का ऐलान कर दिया था। कैलासा की वेबसाइट पर इसे धरती का ‘सबसे बड़ा हिंदू राष्ट्र’ बताया गया है। एक ऐसा देश ‘जिसकी सीमाएं नहीं हैं’ और जिसे उन बेदखल हिंदुओं ने बनाया गया, जिन्होंने अपने ही ‘देशों में हिंदू धर्म का पालन करने का अधिकार खो दिया।

नित्यानंद पर कई आरोप
नित्यानंद पर भारत में बच्चों का रेप, शोषण और अपहरण जैसे आरोप है। वह भारत से 2019 में भाग गया था, जनवरी 2020 में इंटरपोल ने उसके खिलाफ ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया। यह नोटिस सदस्य देशों से अपराध में शामिल व्यक्ति की पहचान, लोकेशन और गतिविधियों की जानकारी जुटाने के लिए जारी किया जाता है।