खेल

भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाज़ों ने दक्षिण अफ़्रीकी सरज़मीं पर तहलका मचा दिया, भारत ने सिरीज़ की शुरुआत जीत के साथ की : रिपोर्ट

भारतीय टीम ने दक्षिण अफ़्रीका में वनडे सिरीज़ की शुरुआत जीत के साथ की है.

जोनानिसबर्ग में खेले गए पहले वनडे में भारत ने दक्षिण अफ़्रीका को आठ विकेट से हरा दिया है.

इस मैच में पहले भारतीय गेंदबाज़ों अर्शदीप सिंह और आवेश ख़ान ने ज़ोरदार गेंदबाज़ी की और अफ़्रीकी टीम को महज 116 रनों पर समेट दिया.

अर्शदीप ने पांच तो आवेश ने चार विकेट लिए. इसके बाद लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की ओर से साई सुदर्शन (नाबाद 55 रन) और श्रेयस अय्यर (52 रन) ने अर्धशतकीय पारी खेली और भारत को 17वें ओवर में जीत दिला दी.

दक्षिण अफ़्रीकी धरती पर भारत एक दिवसीय मैचों में पांच साल बाद जीत सका है.

इससे पहले भारत ने फरवरी 2018 में यहां दक्षिण अफ़्रीका को हराया था.

भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाज़ों ने दक्षिण अफ़्रीकी सरज़मीं पर रविवार को तहलका मचा दिया है. भारतीय गेंदबाज़ों अर्शदीप सिंह और आवेश ख़ान ने पूरी दक्षिण अफ़्रीका को अपनी नपी तुली गेंदबाज़ी से केवल 116 रनों पर समेट दिया है.

अर्शदीप सिंह ने पांच, आवेश ख़ान ने चार और कुलदीप यादव ने एक विकेट चटकाए.

वनडे वर्ल्ड कप के बाद अपना पहला एकदिवसीय मैच खेल रही टीम इंडिया ने शुरू से ही मैच पर अपनी पकड़ मजबूत बना लिया.

टॉस दक्षिण अफ़्रीकी टीम ने जीता और बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया लेकिन अर्शदीप सिंह ने अपने पहले ही ओवर में लगातार दो गेंदों पर दक्षिण अफ़्रीका के दो बल्लेबाज़ों को चलता किया. यह अर्शदीप सिंह का केवल चौथा वनडे मैच है और उन्होंने पहली बार एक दिवसीय मैचों में कोई विकेट लिया है.

मैच के इस दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर अर्शदीप ने रीज़ा हेंड्रिक्स को बोल्ड किया तो अगली ही गेंद पर रासी वान दर दुसें को एलबीडब्ल्यू आउट कर पवेलियन लौटाया.

दोनों में से कोई भी बल्लेबाज़ी अपना ख़ाता नहीं खोल सके.

इसके बाद टोनी डीज़ॉर्ज़ी और कप्तान एडन मार्करम ने तीसरे विकेट के लिए 39 रनों की साझेदारी निभाई लेकिन अर्शदीप सिंह ने मैच के आठवें ओवर में यह जोड़ी तोड़ दी.

उन्होंने डीज़ॉर्ज़ी को विकेट के पीछे कैच आउट करा कर दक्षिण अफ़्रीकी टीम को तीसरा झटका दिया.

अपने अगले ही ओवर में उन्होंने वर्ल्ड कप के दौरान अच्छे फॉर्म में चल रहे हेनरिक क्लासेन को भी बोल्ड कर दिया.

क्लासेन मैच के 10वें ओवर की आखिरी गेंद पर आउट हुए. यह अर्शदीप का चौथा विकेट था.

इसके बाद आवेश ख़ान ने विकेट लेना शुरू किया. 11वें ओवर की पहली और दूसरी गेंद पर दक्षिण अफ़्रीका के दो बल्लेबाज़ों को आउट कर उन्होंने भारतीय टीम को हैट्रिक विकेट दिलाया.

इस ओवर की पहली गेंद पर आवेश ने अफ़्रीकी कप्तान मार्करम को बोल्ड किया तो अगली गेंद पर वियान मुल्डर को एलबीडब्ल्यू आउट किया.

13वें ओवर की आखिरी गेंद पर आवेश ने डेविड मिलर को भी आउट कर दिया. सात विकेट आउट होने तक दक्षिण अफ़्रीका ने स्कोरबोर्ड पर केवल 58 रन जोड़े थे.

जिस तेज़ी से विकेट गिर रहे थे तो एक वक़्त लगा कि दक्षिण अफ़्रीका वनडे का अपना सबसे कम स्कोर भी नहीं बना पाएगा. लेकिन निचले क्रम में उतरे एंडिले फेहुक्वायो ने यहां से एक छोर संभाल लिया और 25वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार ले गए.

26वां ओवर डालने के लिए भारतीय कप्तान केएल राहुल ने अर्शदीप सिंह को बुलाया और उन्होंने पहली ही गेंद पर फेहुक्वायो को एलबीडबल्यू आउट कर वनडे क्रिकेट में पहली बार पांचवां विकेट लेने का कारनामा किया. फेहुक्वाया ने 33 रनों की पारी खेली.

अर्शदीप सिंह ने अपने 10 ओवरों में 37 रन देकर पांच विकेट लिए.

28वें ओवर में दक्षिण अफ़्रीका की पूरी टीम 116 रन बना कर आउट हो गई. आखिरी विकेट कुलदीप यादव ने लिया.