देश

भारत और कज्जाकिस्तान की सेनाओं ने महत्वपूर्ण संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया!

भारत और कज्ज़ाकिस्तान का संयुक्त सैन्य अभ्यास आरंभ

भारत और कज्जाकिस्तान की सेनाओं ने सोमवार 30 अक्टूबर से एक महत्वपूर्ण संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया है।

इस सैन्य अभ्यास में काउंटर टेररिज्म ऑपरेशंस, छापेमारी, खोज और विनाश ऑपरेशन का अभ्यास शामिल है। यह संयुक्त सैन्य अभ्यास कजाकिस्तान में हो रहा है, इसमें भारतीय थल और वायु सेना दोनों ही शामिल हैं।

भारतीय थलसेना और भारतीय वायु सेना की 120 सैन्‍य कर्मियों वाली टुकड़ी संयुक्त सैन्य अभ्‍यास काज़िंड-2023 के 7वें संस्करण में भाग लेने के लिए कजाकिस्तान में है। इस सैन्य अभ्यास का आयोजन 30 अक्टूबर से 11 नवंबर 2023 तक कतर और कजाकिस्तान में किया जा रहा है।

भारतीय रक्षा मंत्रालय के मुताबिक भारतीय सेना के दल में डोगरा रेजिमेंट की एक बटालियन के नेतृत्व में 90 सैन्‍य कर्मी हैं। कजाकिस्तान के सैन्‍य दल का प्रतिनिधित्व मुख्य रूप से कजाख ग्राउंड फोर्सेज के दक्षिण क्षेत्रीय कमान के सैन्‍य कर्मियों द्वारा किया जाता है। इस सैन्‍य अभ्यास के वर्तमान संस्करण में सेना की टुकड़ियों के साथ दोनों पक्षों से वायु सेना के 30 सैन्‍य कर्मी भी भाग ले रहे हैं।

भारत और कजाकिस्तान के बीच संयुक्त अभ्यास को वर्ष 2016 में एक्सरसाइज प्रबल दोस्‍तीक के रूप में शुरू किया गया था। दूसरे संस्करण के बाद, अभ्यास को कंपनी-स्तरीय अभ्यास में अपग्रेड किया गया और इसका नाम बदलकर ‘एक्सरसाइज काज़िंड’ कर दिया गया।

भारतीय रक्षा मंत्रालय के मुताबिक दोनों सैन्य पक्षों को युद्ध कौशल के व्यापक स्पेक्ट्रम पर अभ्यास करने और एक-दूसरे से पारस्परिक रूप से सीखने का अवसर प्राप्‍त होगा। यह अभ्यास प्रतिभागियों को विचारों का आदान-प्रदान करने और सर्वश्रेष्‍ठ अभ्‍यासों को साझा करने का अवसर प्रदान करेगा। एक्सरसाइज काज़िंड-2023’ दोनों सेनाओं के बीच संबंधों को और अधिक प्रबल करेगा।