देश

मोदी सरकार ने स्मार्टफ़ोन मैन्युफैक्चरिंग करने वाली कंपनियों को संकेत दिया, 10,000 से ज़यादा क़ीमत वाले 4G स्मार्टफ़ोन का प्रोडक्शन बंद कर दें!

मोदी सरकार की तरफ से स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरिंग करने वाली कंपनियों के संकेत दे दिया गया है कि वो 10,000 से ज्यादा कीमत वाले 4G स्मार्टफोन का प्रोडक्शन बंद करना शुरू कर दें।

नई दिल्ली। पीएम मोदी सरकार और टेलिकॉम कंपनियों के बीच कल एक मीटिंग हुई। इस मीटिंग में 5G नेटवर्क और 5G स्मार्टफोन के लेकर कुछ फैसले हुए हैं। इसमें 5G स्मार्टफोन में जल्द से जल्द 5G सपोर्ट सॉफ्टवेयर अपडेट देने पर जोर दिया गया है। साथ ही 5G स्मार्टफोन की उपलब्धता बढ़ाने की बात कही गई। सरकार ने सुझाव दिया कि स्मार्टफोन कंपनियों को 10,000 रुपये से ज्यादा कीमत वाले सभी स्मार्टफोन में 5G कनेक्टिविटी ऑफर करनी चाहिए। इसके बाद साफ हो गया कि जल्द स्मार्टफोन कंपनियां भारत में 10,000 से ज्यादा कीमत वाले 4G स्मार्टफोन की मैन्यूफैक्चरिंग बंद कर देंगी। ऐसे में मार्केट में बिकने वाले 10,000 रुपये वाले सभी स्मार्टफोन 5G होंगे।

दूरसंचार विभाग (DoT) ने मीटिंग में सुझाव दिया कि स्मार्टफोन कंपनियों को धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से 10,000 रुपये से ज्यादा कीमत वाले स्मार्टफोन बनाने बंद करने चाहिए और इनकी जगह पर 5G स्मार्टफोन को लॉन्च करना चाहिए। जिससे यूजर्स को 4G से 5G स्मार्टफोन में शिफ्ट होने में आसानी हो सकेगी।

ग्राहकों को मिड रेंज में 5G कनेक्टिविटी वाले स्मार्टफोन्स पेश किए जाएंगे। जहां अभी तक कंपनियां 5G सपोर्ट में कटौती करके 4G अफोर्डेबल स्मार्टफोन पेश करत रही थी। ऐसे में स्मार्टफोन की कीमत बढ़ने की संभावना है।

Realme पहले ही कर चुकी है ऐलान
बता दें कि रियलमी (Realme) जैसी स्मार्टफोन कंपनियां पहले ही ऐलान कर चुकी है कि उसकी तरफ से 12,000 रुपये ज्यादा कीमत वाले सभी स्मार्टफोन में 5G कनेक्टिविटी ऑफर की जाएगी।

इन कंपनियों के लिए होगी मुसीबत
बजट स्मार्टफोन कैटेगरी की कंपनियों के लिए थोड़ी मुसीबत हो सकती है, क्योंकि उन्हें 4G से 5G में शिप्ट करने के लिए ज्यादा निवेश और हार्डवेयर सपोर्ट की जरूरत होगी। वही कुछ स्मार्टफोन कंपनियां 4G स्मार्टफोन के मार्केट में 10,000 रुपये से ज्यादा कीमत वाले मार्केट में अच्छा कारोबार कर रही है। ऐसी कंपनियों के लिए भी थोड़ी मुसीबत हो सकती है।