दुनिया

यूक्रेन से अलग होने वाले चार हिस्से बनेंगे रूस का हिस्सा, शुक्रवार को होगा भव्य समारोह

रूस ने यूक्रेन के चार अन्य क्षेत्रों का अपनी धरती में विलय करने का फ़ैसला कर लिया है और शुक्रवार को राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन इस पर हस्ताक्षर करेंगे।

ये फ़ैसला यूक्रेन से अलग होने वाले क्षेत्रों में कराए गए जनमत संग्रह के बाद लिया गया है, जिसकी यूक्रेन और पश्चिम के देशों ने निंदा की है।

रूस ने बताया कि पांच दिन के जनमत संग्रह में उसे समर्थन मिला है, ये जनमत संग्रह लुहान्सक, दोनेत्स्क, जापोरिज्जिया और खेरसॉन में हुआ था।

हस्ताक्षर के मौके पर रूसी राष्ट्रपति क्रेमलिन में एक भाषण देंगे जिसके लिए मॉस्को के रेड स्क्वायर में एक मंच पहले से बना दिया गया है, इस मंच पर यूक्रेन से अलग होने वाले चार क्षेत्रों को रूसी हिस्से के रूप में बताते हुए चार होर्डिंग लगाए गए हैं।

2014 में जनमत संग्रह के बाद क्रीमिया को रूस ने अपने में मिला लिया था।