दुनिया

यूरोपीय संघ के विदेश मंत्री ने यूरोप को गार्डन और बाक़ी दुनिया को ”जंगल” बताया

यूरोपीय संघ के विदेश नीति प्रभार जोज़ेप बोरेल ने सोमवार को बड़ा बेतुका बयान देने के बाद आलोचना होने पर ज़ाहिर किया कि उन्हें कोई ख़ास फ़र्क़ नहीं पड़ता।

बोरेल ने कुछ ही दिनो के भीतर लगातार कई बेतुके बयान दे डाले। उन्होंने यूरोप को गार्डन और दुनिया को जंगल कहा। बोरेल ने कहा कि अगर रूस ने यूक्रेन युद्ध में परमाणु बम इस्तेमाल किया तो रूसी सेना को मिटा दिया जाएगा।

कूटनैतिक परम्पराओं को ताक़ पर रखते हए बोरेल ने कहा कि पुतीन कहते हैं कि वो धोखा नहीं दे रहे हैं तो धोखा देना उनके बस की बात है ही नहीं, उन्हें साफ़ समझ लेना चाहिए कि यूक्रेन का समर्थन करने वाले लोग, यूरोपीय संघ, अमरीका और नैटो भी धोखा नहीं दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ से बाहर की दुनिया जंगल की तरह है। इस बयान पर तो बोरेल की बड़ी थू थू हुई क्योंकि यह इम्पेरियलिज़्म के ज़माने की भाषा मानी जा रही है।

बोरेल पहले स्पेन के विदेश मंत्री थे और अटपटे बयान देने के लिए पहले भी बदनाम रह चुके हैं।