देश

लंदन में हाई कोर्ट ने नीरव मोदी के भारत प्रत्यर्पण किए जाने को दी हरी झंडी Nirav #Modi

लंदन में हाई कोर्ट ने आज हीरा व्यापारी नीरव मोदी की उस याचिका को खारिज़ कर दिया है जिसमें उन्होंने भारत प्रत्यर्पण के आदेश के खिलाफ रोक लगाने की मांग की थी.

नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक से क़रीब 13 हज़ार करोड़ रुपए का कर्ज़ लेकर न चुकाने के आरोप हैं. इसे भारत का सबसे बड़ा बैंक घोटाला भी माना जाता है.

भारत प्रत्यर्पण किए जाने का फैसला लॉर्ड जस्टिस जेरेमी स्टुअर्ट स्मिथ और जस्टिस रॉबर्ट जे ने सुनाया है.

51 साल के नीरव मोदी फिलहाल लंदन में वांड्सवर्थ जेल में हैं. नीरव मोदी की मानसिक स्थिति खराब बताते हुए वकीलों ने हाई कोर्ट में अपील दायर की थी और कहा था कि उनका प्रत्यर्पण करना दमनकारी होगा.

नीरव मोदी को मार्च 2019 में लंदन के होल्बोर्न इलाक़े से गिरफ्तार किया गया था. वे 2018 से​ ब्रिटेन में हैं

नीरव डायमंड का कारोबार करने वाले परिवार से आते हैं और बेल्जियम के एंटवर्प शहर में उनका पालन-पोषण हुआ है.

Pradeep Bhandari(प्रदीप भंडारी)🇮🇳
@pradip103

BIG WIN AGAINST CORRUPTION!

India wins in UK court.. Nirav Modi will be extradited soon. Big win for Modi government and India.