दुनिया

वेस्ट बैंक के नबलूस और जेनिन शहरों में इसराइली सेना ने छह फ़लस्तीनियों की हत्या की, अब तक वेस्ट बैंक में 230 फलस्तीनी मारे गए!

फ़लस्तीनी स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि रविवार सुबह वेस्ट बैंक के नबलूस और जेनिन शहरों में इसराइली सैन्य बलों ने दो फ़लस्तीनी नागरिकों को मार दिया है.

बीती रात से अब तक इसराइली सैन्य बलों की कार्रवाई में मरने वाले फ़लस्तीनियों की संख्या छह हो गई है.

वहीं इसराइली सेना के प्रवक्ता का कहना है कि वो इन मौतों की रिपोर्टों की जांच कर रहे हैं.

फ़लस्तीनी अधिकारियों का कहना है कि 7 अक्तूबर को इसराइल पर हमास के हमले के बाद से अब तक वेस्ट बैंक में इसराइली सेना की कार्रवाई में 230 फलस्तीनी मारे गए हैं जिनमें क़रीब 50 बच्चे हैं.

वेस्ट बैंक फ़लस्तीनी क्षेत्र है जिस पर इसराइल का क़ब्ज़ा है. 7 अक्तूबर के बाद से यहां इसराइली सेना लगातार कार्रवाइयां कर रही है. अब तक तीन हज़ार से अधिक लोगों को हिरासत में भी लिया गया है.

उधर ग़ज़ा में हमास और इसराइली सेना के बीच चार दिनों का संघर्ष विराम जारी है. रविवार को इसराइली सेना ने बताया है कि उसे तीसरे चरण में छोड़ने जाने वाले बंधकों की सूची प्राप्त हुई है. अब तक हमास ने दो बार बंधकों को रिहा किया है, रविवार को तीसरे चरण में बंधकों को रिहा किया जाना है. इसराइली इसके बदले में फ़लस्तीनी क़ैदियों को रिहा कर रहा है.

इसराइल ने बताया है कि रविवार को रिहा होने वाले बंधकों के बारे में जानकारी उनके परिजनों को दे दी गई है.

शनिवार को, कई घंटे की देरी के बाद, हमास ने 13 इसराइली बंधकों को रिहा किया था. इन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाने के बाद परिजनों से मिलवाया जा रहा है.

इनके बदले में 39 फ़लस्तीनी क़ैदियों को रिहा किया गया है. इनमें 6 महिलाएं हैं और बाक़ी बच्चे हैं. इनमें से कई सालों से जेल में बंद थे. अभी भी ग़ज़ा में हमास के क़ब्ज़े में 195 इसराइली बंधक हैं.