दुनिया

हमास और इस्राईल की जंग के 43वे दिन की ख़बरें : अब तक इस्राईल के कम से कम 2,985 सैनिकों की मौत, 11,600 घायल : रिपोर्ट

जायोनी सैनिकों ने आज सुबह गज्जा पट्टी के दक्षिण में स्थित खान युनूस पर बमबारी की जिसमें 28 फिलिस्तीनी शहीद और दसियों घायल हो गये।

इसी प्रकार गज्जा पट्टी के अस्पतालों पर भी जायोनी सैनिकों के अपराध जारी हैं। आज सुबह जो तस्वीरें प्रकाशित हुई हैं वे इस बात की सूचक हैं कि जायोनी सैनिकों ने इंडोनेशिया अस्पताल के प्रागंण में बमबारी की।

अवैध जायोनी सरकार ने गज्जा पट्टी के खिलाफ जो हमला आरंभ कर रखा है उसमें अब तक शहीद होने वाले फिलिस्तीनियों की संख्या 12 हज़ार से अधिक जबकि घायलों की संख्या 32000 हज़ार हो गयी है।

शहीद होने वालों में 5 हज़ार से अधिक केवल बच्चे और तीन हज़ार से अधिक महिलायें हैं। प्राप्त समाचारों के अनुसार 3600 फिलिस्तीनी अभी भी लापता हैं। जायोनी सरकार मानवता प्रेमी सहायता को गज्जा पट्टी नहीं पहुंचने दे रही है इस वजह से वहां की स्थिति बहुत चिंताजनक व दयनीय हो गयी है।

जायोनी सैनिकों के निरंतर अपराधों की प्रतिक्रिया में फिलिस्तीन के प्रतिरोधक बल ने एलान किया है कि फिलिस्तीनियों की हत्या, जायोनी सैनिकों के समर्थन से कालोनियों में रहने वाले जायोनियों के हमले और मस्जिदे अक्सा के अपमान की प्रतिक्रिया में अक्सा तूफान आप्रेशन आरंभ किया गया है।

ग़ज़्ज़ा को जलाकर राख कर दोः इस्राईली सांसद की मांग

फ़िलिस्तीनियों के विरुद्ध ज़ायोनियों की नफ़रत का अनुमान एक इस्राईली सांसद के बयान से लगाया जा सकता है।

अवैध ज़ायोनी शासन के एक सांसद ने ग़ज़्ज़ा को जलाकर राख कर देने की मांग की है। अश्शरक़ुल औसत के अनुसार अवैध ज़ायोनी शासन की संसद, क्नैसेट के एक सदस्य ने अपनी संसद से ग़ज़्ज़ा को जलाकर राख कर देने का आह्वान किया है।

नीसीम फ़ातूरी नामक इस्राईली सांसद ने यह दावा किया है कि ज़ायोनी अधिकारी, ग़ज़्ज़ा वासियों के साथ इंसानियत से पेश आ रहे हैं। उसने कहा कि ग़ज़्ज़ा को ईंधन उपलब्ध करवाने के बजाए उसी से उसको जला दिया जाना चाहिए। इस्राईली सांसद फ़ातूरी के अनुसार जिस समय तक हमारे बंधक स्वतंत्र न कर दिये जाएं उस समय तक ग़ज़्ज़ा के लिए पानी और ईंधन की सप्लाई को बंद रखना चाहिए।

इससे पहले नेतनयाहू के मंत्रीमण्डल में सांस्कृतिक मामालों के मंत्री ने ग़ज़्ज़ा पर परमाणु बम मारने की मांग की थी। जब इस बारे में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर तीखी प्रतिक्रियाएं आने लगीं तो उसने फिर मौन धारण कर लिया।

फ़िलिस्तीनियों विशेषकर ग़ज़्ज़ावासियों के विरुद्ध ज़ायोनियों की दुर्भावना का अंदाज़ा इसी बात से हो जाता है कि ग़ज़्ज़ा युद्ध के आरंभ होने के 43 दिनों के बाद भी वे किसी भी सूरत में वहां पर संघर्ष विराम नहीं होने दे रहे हैं। जो लोग या देश ग़ज़्ज़ा में संघर्ष विराम का समर्थन कर रहे हैं उसका ज़ायोनी कड़ा विरोध कर रहे हैं।

आईआरजीसी की क़ुद्स फ़ोर्स के कमांडर का क़स्साम ब्रिगेड के प्रमुख के नाम महत्वपूर्ण संदेश

 

ईरान की इस्लामी क्रांति के संरक्षक बल आईआरजीसी की क़ुद्स फोर्स के कमांडर जनरल ने हमास आंदोलन की सैन्य शाखा क़स्साम ब्रिगेड के कमांडर को एक महत्वपूर्ण संदेश में कहा है कि आपने यह साबित कर दिया है कि अवैध ज़ायोनी शासन मकड़ी के जाल से भी ज़्यादा कमज़ोर है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, सिपाहे पासदाराने इंक़ेलाब आईआरजीसी की क़ुद्स फोर्स के कमांडर ब्रिगेडियर जनरल इस्माईल क़आनी ने फ़िलिस्तीन के इस्लामी आंदोलन हमास की सैन्य शख़ा क़स्साम ब्रिगेड के कमांडर को एक संदेश में लिखा कि उन्होंने अल-अक़्सा तूफ़ान अभियान अंजाम देकर एक बड़ा कारनामा किया है, जिसने अवैध ज़ायोनी शासन की कमज़ोरी को साफ़-साफ़ उजागर कर दिया है और यह साबित कर दिया है उस आसानी से पराजित किया जा सकता है। जनरल क़आनी ने कहा कि अब यह बात किसी से भी छिपी नहीं रह गई है कि अवैध ज़ायोनी शासन मकड़ी के जाल से भी ज़्यादा कमज़ोर है। आईआरजीसी की क़ुद्स फ़ोर्स के कमांडर ब्रिगेडियर जनरल इस्माईल क़आनी ने इस बात पर ज़ोर दिया कि अल-अक़्सा तूफ़ान के बाद फ़िलिस्तीन और क्षेत्र की स्थिति काफ़ी परिवर्तन आएगा। उन्होंने कहा कि अब हालात पूरी तरह बदल चुके हैं।

जनरल क़आनी ने कहा कि दुश्मन की सेना और उनके बख़्तरबंद वाहनों के खिलाफ प्रतिरोधक बलों के हमलों ने यह साबित कर दिया है कि ग़ज़्ज़ा प्रतिरोध करने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि अल-अक़्सा तूफ़ान ऑपरेशन और उसके बाद होने वाले संघर्षों ने यह दुनिया का साम्राज्यवादी शक्तियों को दिखा दिया है कि प्रतिरोधक बल दुश्मनों को पूरी मज़बूती के साथ टक्कर देने और उनका मुक़ाबला करने की ताक़त रखते हैं। जनरल क़आनी ने क़स्साम ब्रिगेड के कमांडर को संबोधित करते हुए कहा कि आपके भाई प्रतिरोध की धुरी में आपके साथ एकजुट हैं और ज़ायोनी दुश्मन को ग़ज़्ज़ा और फ़िलिस्तीन में उसके नापाक लक्ष्यों तक पहुंचने की अनुमति नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि हम अपनी भाईचारे की प्रतिज्ञा पर क़ायम हैं जो हमें एकजुट करती है और हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि इस ऐतिहासिक लड़ाई में जो कुछ भी करना होगा हम करेंगे।

Sulaiman Ahmed

@ShaykhSulaiman
BREAKING: JORDAN VOTED TO REVIEW PEACE TREATY AND GAS DEAL WITH ISRAEL

Sulaiman Ahmed

@ShaykhSulaiman
BREAKING: DIRECTOR GENERAL OF THE MINISTRY OF HEALTH STATEMENT

“Al-Shifa Hospital is still subject to a siege targeting medical personnel, food and medicine

The occupation blew up an MRI machine and medical equipment after it entered

The occupation has not proven that there is a headquarters for the Hamas leadership in the hospital

The occupation blew up the medicine warehouses in the hospital basement

The occupation forces are drilling and blasting the basement of the complex

Premature babies are dying, and today we bid farewell to a fourth baby

The occupation claims that it brought nurseries for us, and this is not true.

5 premature babies are suffering from severe fatigue and we expect them to die at any moment.

5 premature babies are suffering from severe fatigue and we expect them to die at any moment.

The occupation forces kidnapped the bodies of a number of martyrs yesterday.

The occupation forces kidnapped the bodies of 18 martyrs yesterday.

We had to bury 82 martyrs in the hospital courtyard

The occupation forces prevented us from burying a number of martyrs and kidnapped them.

We buried the unidentified martyrs in 4 mass graves

The occupation forces kidnapped the martyrs who we could not bury

The occupation forces kidnapped the martyrs who we could not bury.

The occupation kidnapped all the bodies from the refrigerator and the cemetery to an unknown destination.”

Sulaiman Ahmed

@ShaykhSulaiman
BREAKING: HAMAS OFFICIAL STATEMENT

Military spokesman:

“During the last four days, our mujahideen managed to damage 62 vehicles

During the last four days, our mujahideen managed to damage 62 vehicles

Yesterday, our mujahideen managed to destroy an apartment in which special forces were holed up in Beit Hanoun

Yesterday, our mujahideen managed to destroy an apartment in which special forces were holed up in Beit Hanoun

Our mujahideen were able to finish off all the occupation soldiers who were stationed in a building in Beit Hanoun.

We killed 9 Israeli soldiers, destroyed two military vehicles, destroyed an apartment in which enemy soldiers were holed up, and killed those who were in it.

Our mujahideen are in the field pursuing the enemy’s forces and vehicles from street to street

We have prepared ourselves for a long defense, and every time the occupation spends in Gaza increases its losses.

The occupation continues its violations and crimes against premature babies and civilians

We are forcing the occupation forces to retreat on many fronts

What Netanyahu is looking for in the Shifa complex is ridiculous

The entry of enemy forces into the Shifa Medical Complex is a scandal to the international system

What the occupation is looking for in Al-Shifa Hospital is ridiculous and a search for a mirage

We tell the enemy public that your soldiers killed in the field will reach you news of them sooner or later.

We tell the enemy masses that the numbers of your dead are much greater than you expect.”

Hend F Q
@LadyVelvet_HFQ
Israeli journalist:
“The number of dead among our soldiers is no less than 2,985 soldiers, and the number of wounded is 11,600 soldiers. I was shocked and cried. Curse you, Netanyahu, and Biden have involved Israel in a war that everyone warned them about.”
“I advise all my brothers, relatives and friends to leave Palestine, as it is the curse of God upon the children of Israel because we killed innocent people and committed massacres, even massacres, against the children of Gaza.”
“The curse of Gaza will haunt us???
“When I leave, I will publish the scandals of Netanyahu, Gavier, and Biden.”

@Misra_Amaresh
@misra_amaresh
#AlShifaHospital मे हालात बहुत खराब हैं। वहां #Israeli जो भयंकर जुल्म कर रहे हैं मरीजों के साथ, उसको रोकना
@UNO
और Aid agencies कि जिम्मेदारी है, #Hamas कि नही। #IDF सैनिक फिलिस्तीनियों को human shield बना रहे हैं! और दुनिया चुप है! वहां के हालात पढ़िये:
“इजराइली सेना ने अस्पताल खाली करने का हुक्म दिया, लेकिन हर कोई वहां से निकलने में सक्षम नहीं था। जो लोग अस्पताल में थे उनमें से कई लोग चले गए, लेकिन घायलों और मरीजों सहित अन्य लोग वहीं रुके रहे। अब हम दक्षिण की ओर जा रहे हैं। IDF ने विस्थापितों को अल-वहदा स्ट्रीट की ओर जाने के लिए कहा, और कई बच्चे और वयस्क पैदल चलना जारी रखने में असमर्थ थे। समय से पहले जन्मे शिशु अभी भी अस्पताल के अंदर हैं और हम उनके संबंध में रेड क्रॉस के संपर्क में हैं। छह किडनी डायलिसिस रोगियों और गहन चिकित्सा इकाई के 22 रोगियों की मृत्यु हो गई है। घायलों को निकालने के समन्वय की निगरानी के लिए 5 डॉक्टर अल-शिफ़ा कॉम्प्लेक्स में बने हुए हैं। मूल 650 में से 120 घायल अभी भी अल-शिफा कॉम्प्लेक्स के अंदर हैं। इस क्षण तक, हम 2 किलोमीटर की दूरी पैदल पार कर चुके हैं। क्षेत्र पूरी तरह से नष्ट हो गया है। हम समय से पहले जन्मे दो शिशुओं को अन्य अस्पतालों में स्थानांतरित करने के बाद एक इनक्यूबेटर में रखेंगे। दर्जनों घायल रास्ते में ही अपनी जान गंवा देंगे। हम घायलों कि सहायता करने में असमर्थ हैं और लोग मर रहे हैं। IDF सौनिक अस्पताल के अंदर घूम रहे हैं, और उनके निशानेबाज़ (snipers) चारों ओर तैनात हैं!”
#IsraeliTerrorists