देश

हल्द्वानी में एकतरफ़ा पुलिस की कार्रवाई के डर से बनभूलपुरा से मुसलमानों का पलायन लगातार जारी, अब तक करीब 300 परिवारों ने छोड़ा घर : रिपोर्ट

हल्द्वानी पुलिस की कार्रवाई के डर से लोगों का बनभूलपुरा को छोड़ना जारी है। अब तक करीब 300 परिवार घर में ताला लगाकर यूपी चले गए हैं। क्षेत्र से लोगों का पलायन लगातार जारी है। रविवार सुबह वाहन नहीं मिलने के कारण लोग पैदल ही लालकुआं पहुंच गए। यहां से वे ट्रेन से बरेली के लिए रवाना हुए।

शनिवार को पुलिस ने पूछताछ के लिए बनभूलपुरा क्षेत्र से कई लोगों को हिरासत में लिया था। आरोप है कि पुलिस ने इस दौरान हल्का बल प्रयोग भी किया। कई दिनों तक कर्फ्यू रहने की आशंका और पुलिस से डरकर लोगों ने पलायन तेज कर दिया है।

रविवार सुबह पांच बजे से बरेली रोड पर कई परिवार सामान लेकर पैदल जाते दिखाई दिए। सवारी वाहन नहीं होने के कारण लोग 15 किलोमीटर पैदल चलकर लालकुआं पहुंचे। यहां से वे बरेली की ट्रेन पकड़कर यूपी के अलग-अलग शहरों को निकल गए।

पुलिस निर्दोष को कर रही परेशान : यासिन

अमर उजाला ने इलाके के मोहम्मद यासिन से बात की। उसने बताया कि वह हल्द्वानी में फर्नीचर का काम करता है। बनभूलपुरा में हुए उपद्रव के बाद पुलिस की सख्ती बढ़ गई है। पुलिस निर्दोष लोगों को परेशान कर रही है। पुलिस के डर से वह अपने रिश्तेदार के पास बहेड़ी जा रहे हैं।

कहा कि सवारी वाहन नहीं मिलने के कारण वह पैदल ही जा रहे हैं। वहीं, सलमान अंसारी ने बताया कि तीन बच्चों के साथ वह बरेली जा रहे हैं। कहा कि वहीं रिश्तेदार के घर रहेंगे। उधर बनभूलपुरा क्षेत्र में करीब 300 घरों में ताला लग गया है। पड़ोसियों ने बताया कि ये सभी घर छोड़कर जा चुके हैं।

अब नहीं आऊंगा हल्द्वानी

रामपुर निवासी यासिन ने कहा कि वह परिवार के साथ काम की तलाश में हल्द्वानी आया था। बनभूलपुरा में दो कमरे किराये पर लिए थे। यहां वह हाईटेक किचन बनाने का काम करता है। कहा कि अब दोबारा हल्द्वानी काम करने नहीं आऊंगा। कहा- दो पैसे कम कमाऊंगा लेकिन चैन से रहूंगा।

गिरफ्तार 25 पर दंगा, डकैती में केस दर्ज

पुलिस ने गिरफ्तार किए गए 25 उपद्रवियों के खिलाफ दंगा करने, डकैती करने, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, जान से मारने सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। एसएसपी प्रहलाद नारायण मीणा ने बताया कि उपद्रवियों के खिलाफ तीन मुकदमें दर्ज किए गए थे। इसमें से नामजद और 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। कहा कि पुलिस ने सीसीटीवी और अन्य साक्ष्यों की मदद से एक नामजद और 11 अज्ञात लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है। लगातार दबिशें दी जा रही हैं। जल्द ही इन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

थाने से लूटे कारतूस मामले में ये गिरफ्तार

– जुनैद पुत्र असलम निवासी इंद्रानगर से एक तमंचा, आठ कारतूस।
– मोहम्मद निजाम पुत्र असलम निवासी इंद्रानगर एक तमंचा आठ कारतूस।
– महबूब उर्फ माकू पुत्र मुख्तार अहमद निवासी गफूर बस्ती एक तमंचा छह कारतूस।
– शहजाद उर्फ कनकडा पुत्र दिलशाद निवासी इंद्रानगर से एक तमंचा 10 कारतूस।
– अब्दुल माजिद पुत्र अब्दुल खालिद निवासी नई बस्ती ठोकर पुराने चील घर के पास।
– शाजिद पुत्र अब्दुल खालिद निवासी नई बस्ती ठोकर पुराने चील घर के पास।
– मोहम्मद नईम पुत्र मोहम्मद फईम निवासी नई बस्ती ठोकर पुराने चील घर के पास।
– शाहनवाज पुत्र जुम्मा निवासी नैनीताल पब्लिक स्कूल के सामने छोटी रोड बनभूलपुरा से एक तमंचा सात कारतूस।
– शकीर अहमद पुत्र शब्बीर अहमद निवासी मोहम्मदी चौक के पास, पप्पू का बगीचा।
– इशरार अली पुत्र अजगर अली निवासी मोहम्मदी चौक के पास, पप्पू का बगीचा
– शानू उर्फ राजा पुत्र मोहम्मद याकूब निवासी गफूर बस्ती बनभूलपुरा।
– रईस उर्फ बिट्टू पुत्र अनीस अहमद निवासी स्प्रिंग फील्ड स्कूल के पास किदवई नगर बनभूलपुरा।
मुकदमा संख्या 22 में ये आरोपी गिरफ्तार हुए
– गुलजार अहमद पुत्र सरदार अहमद निवासी गोपाल मन्दिर, नई बस्ती, बनभूलपुरा।
– रईस अहमद पुत्र अब्दुल हमीद निवासी गोपाल मन्दिर, नई बस्ती, बनभूलपुरा।
-मोहम्मद फरीद पुत्र अब्दुल हमीद निवासी गोपाल मन्दिर, नई बस्ती, बनभूलपुरा से एक तमंचा पांच कारतूस बरामद किए।
– जावेद पुत्र अब्दुल हमीद निवासी गोपाल मन्दिर, नई बस्ती, बनभूलपुरा के पास से एक तमंचा और छह जिन्दा कारतूस बरामद किए।
– मोहम्मद साद पुत्र रईश अहमद निवासी नई बस्ती, बनभूलपुरा।
– मोहम्मद तसलीम पुत्र मोहम्मद हनीफ निवासी नई बस्ती ताज मस्जिद के पास सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान बनभूलपुरा।
नगर निगम के चालक की ओर से किए गए मुकदमें में ये गिरफ्तार किए गए
– अहमद हसन पुत्र मेहन्दी हसन निवासी मलिक का बगीचा, बनभूलपुरा।
– . शाहरूख पुत्र महबूब निवासी मलिक का बगीचा, बनभूलपुरा।
– अरजना पुत्र इरफान निवासी मलिक का बगीचा, बनभूलपुरा।
– रिहान पुत्र अशफाक निवासी पानी की टंकी के पास, मलिक का बगीचा।
– जिशान पुत्र हाफिज शकील अहमद निवासी नई बस्ती गोपाल मन्दिर के पास बनभूलपुरा।
– मुजम्मिल पुत्र खलील निवासी वार्ड नंबर 31 इन्द्रानगर, बनभूलपुरा।
– माजिद पुत्र मलिक निवासी इन्द्रानगर, बनभूलपुरा।

अस्थायी जेल में 90 से अधिक संदिग्धों को डाला

पुलिस ने उपद्रवियों को चिह्नित करने की कार्रवाई में पूरी ताकत झोंक दी है। हल्द्वानी हिंसा में पूछताछ के लिए हिरासत में लिए 90 से अधिक संदिग्धों को पुलिस ने गौलापार में बनाई अस्थायी जेल में डाला है। पुलिस इन सभी के चेहरे सीसीटीवी फुटेज, फोटो, वीडियो से मिला रही है। इसके साथ अन्य साक्ष्य भी जुटाए जा रहे हैं।

पुलिस लगातार उपद्रवियों की पहचान में जुटी है। उपद्रवियों को हिरासत में लेने का सिलसिला जारी है। रविवार को 30 लोगों को पुलिस ने पूछताछ के बाद छोड़ दिया। उधर दोबारा दबिश देकर 30 से अधिक लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पुलिस ने इन्हें रखने के लिए गौलापार कुवंरपुर के एक स्कूल में एक अस्थायी जेल बनाई है। इस जेल में 90 से अधिक लोगों को रखा गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार कई उपद्रवियों ने पुलिस को कुछ साक्ष्य भी उपलब्ध कराए हैं। पुलिस इन उपद्रवियों का लिंक तलाश कर रही है। एसएसपी पीएन मीणा का कहना है कि 12 टीमें लगातार धरपकड़ कर रही है। जल्द ही उपद्रवियों और मास्टमाइंड को पुलिस गिरफ्तार कर लेगी।

कॉल डिटेल खंगाल रही पुलिस

पुलिस कॉल डिटेल और संदिग्धों के मोबाइल को खंगाल रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार मोबाइल से 150 से अधिक फोटो, वीडियो पुलिस ने कब्जे में ली है। गिरफ्तार आरोपियों की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। पुलिस को कुछ मोबाइल में बरेली, यूपी में रहने वाले लोगों के नंबर भी मिले हैं। इन नंबरों से हिंसा से पहले और बाद में लगातार बात हो रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *