विशेष

हैकर्स के निशाने पर हैं आपके फ़ोन

इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम (CERT-In) ने एंड्रॉयड यूजर्स के लिए हाई सिक्योरिटी अलर्ट जारी किया है। CERT-In ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि एंड्रॉयड 14 और इससे पुराने वर्जन की फोन और डिवाइस में एक बड़ा सिक्योरिटी बग है जिसका फायदा उठाकर हैकर्स आपके फोन को अपने कब्जे में ले सकते हैं।

CERT-In ने कहा है कि इस बग का फायदा उठाकर हैकर्स आपके फोन का पूरा डाटा तो ले ही सकते हैं, साथ ही फोन को रिमोटली कंट्रोल भी कर सकते हैं। CERT-In की रिपोर्ट के मुताबिक ये बग एंड्रॉयड के फ्रेमवर्क, सिस्टम, गूगल प्ले सिस्टम अपडेट, आर्म कंम्पोनेंट, इमेजिनेशन टेक्नोलॉजी, मीडियाटेक कंपोनेंट, क्वॉलकॉम कंपोनेंट आदि में मौजूद हैं।

इस बग से क्या-क्या हैं खतरे?
CERT-In की रिपोर्ट के मुताबिक इन बग की मदद से हैकर्स आपके फोन में मैलवेयर भी इंस्टॉल कर सकते हैं।

आपके निजी डाटा तक उनकी पहुंच हो सकती है।
हैकर्स आपके पासवर्ड, कॉन्टेक्ट, फोटो, बैंकिंग डाटा और फोन में मौजूद सभी जानकारी ले सकते हैं।

फोन को पूरी तरह से अपने कंट्रोल में ले सकते हैं।
आपकी एक्टिविटी पर नजर रख सकते हैं।

एंड्रॉयड के इन वर्जन के साथ है दिक्कत?
यदि आपके पास भी ऐसा कोई एंड्रॉयड फोन है जिसमें एंड्रॉयड वर्जन 11, 12, 12L, 13 या 14 है तो आपको बहुत ही सतर्क रहने की जरूरत है। इस बग के कारण भारत में कारोबार करने वाली तमाम कंपनियों के फोन प्रभावित हैं।

क्या है समाधान?
यहां एक बड़ा सवाल सामने आ रहा है कि इस बग से निपटने का रास्ता क्या है। सबसे सटीक और बेहतर तरीका यही है कि अपने फोन को तुरंत अपडेट करें। यदि कोई सॉफ्टवेयर अपडेट आया है तो उसे नजरअंदाज ना करें, उसे इंस्टॉल करें। इसके अलावा यदि आपके फोन में ऐसा कोई एप दिख रहा है जिसे आपने डाउनलोड नहीं किया है तो उसे फौरन डिलीट करें। किसी भी थर्ड पार्टी स्टोर से एप डाउनलोड ना करें।