देश

कल होगा पहला रोज़ा

Mosque

नई दिल्ली । मुस्लिमो का पवित्र माह रमजान का पहला रोज़ा कल होगा । दिल्ली सहित कई राज्यों में चाँद नहीं देखे जाने के बीच घोषणा की गई कि कल पहला रोज़ा होगा । इसके साथ ही मस्जिदो में एलान किया गया कि कल पहला रोज़ा होगा और आज से मस्जिदो में तरावीह पढ़ी जायेगी ।

उलेमाओं ने पुष्टि की है कि चांद का दीदार मुल्क में कहीं भी नहीं हुआ है। इसलिए अब रमज़ान मुबारक का पहला रोज़ा जुमे से शुरू होगा। जबकि तरावीह की नमाज आज रात से शुरू हो जाएंगी। रमजान का पहला रोजा करीब 16 घण्टे का होगा जबकि इफतार एवं सहरी के बीच करीब 8 घण्टे का फासला रहेगा।

ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली सहित कई उलमा हाथ में दूरबीन लिए आसमान पर टकटकी लगाए रहे। चांद की पुष्टी होने पर लोगों ने एक दूसरे को पाक महीनें के शुरू होने पर मुबारकबाद दी। कुछ यहीं नजारा हुसैनाबाद के सतखंडा में भी दिखाई दिया। यहां मरकजी शिया चांद कमेटी की ओर से चांद देखने लोगों की भीड़ जुटी रही।

दूरबीन से चांद को काफी देर तक नजरें तलाशती रहीं, लेकिन रमजान का चांद कहीं नजर नहीं आया। रमजान का इंतजार करने वालों के चेहरे मुरझा से गए। इस बीच बादलों के बीच से चांद की एक झलक दिखाई दी। चांद के दीदार से लोगों के चेहरे खुशी से खिल उठे। वहीं, काजी-ए-शहर मुफ्ती इरफान मियां फरंगी महली ने भी सोमवार को चांद होने के साथ मंगलवार को पहला रोजा होने का एलान कर दिया है।

इस बार रोजा रखने वालों की परीक्षा कड़ी होगी क्‍योंकि गर्मी के चलते रोजे 15 घंटे के होंगे। माना जा रहा है कि 21 जून को रमजान का सबसे बड़ा रोजा होगा जो कि 15 घंटे और 28 मिनट का होगा जबकि कोई भी रोजा 15 घंटे 21 मिनट से कम का नहीं होगा। रमजान के दौरान सहरी का वक्त सुबह 4 बजे के आसपास व इफ्तार शाम 7.20 के बाद होगा।

किसी भी सवाल का जवाब बस एक फोन कॉल करके हासिल कर सकते हैं। रमजान के दौरान शिया-सुन्नी दोनों समुदाय के लिए अलग-अलग हेल्पलाइन शुरू होगी। शिया समुदाय सुबह दस से दोपहर 12 बजे के बीच आयतुल्ला अल उजमा सैयद सादिक हुसैनी शिराजी हेल्पलाइन नंबर 9839097407, 9415580936 व 9335280700 पर फोन करके अपने सवालों के जवाब हासिल कर सकते हैं। जबकि, सुन्नी समुदाय के लोग दोपहर दो से शाम चार बजे के बीच इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के हेल्पलाइन नंबर 9415023970, 9335929670, 9415102947 व 9236064987 पर फोन कर अपने सवालों के जवाब हासिल कर सकते हैं।