देश

रामनवमी के मौके पर हिंदुओं के जुलूस को मुस्लमानों ने कराया जलपान-पेश करी सौहार्द की मिसाल

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल होने वाली ये फ़ोटो भारतीय तहज़ीब और सांस्कृति की सदियों पुरानी रिवायत को याद दिला रही है,और सांप्रदायिक सौहार्द और सद्भावना की की जीती जागती तस्वीर है।

यह तस्वीर अपने आप में एक बेहद ही अनूठी कहानी बयां कर रही है, और वो कहानी है हिंदू-मुस्लिम एकता की। यह सच है कि एक अरसे से भारत में ना सिर्फ अलग-अलग धर्म और जाति के लोग सौहार्द पूर्ण रहते आए हैं बल्कि कई मौकों पर यहां विभिन्न धर्म के लोगों ने एक दूसरे के प्रति नेकी और भाईचारे की अनोखी मिसाल भी पेश की है। यह तस्वीर भी इसी आपसी प्रेम को दिखा रही है।

तस्वीर में आपको एक जगह पर दो धर्म के लोग नजर आ रहे होंगे और साथ ही नजर आ रहा है इनका आपसी सौहार्द। दरअसल यह तस्वीर एक आईना भी है धर्म के उन ठेकेदारों के लिए जो समाज में धर्म के नाम पर इंसान और इंसान के बीच नफरत पैदा करने की कोशिश करते हैं।

अब हम आपको बताते हैं कि इस बेहतरीन तस्वीर की पूरी कहानी। दरअसल यह तस्वीर है कोलकाता की। कोलकाता के खिदरपोर इलाके से यह तस्वीर ली गई है। हिंदुओं के प्रमुख पर्वों में से एक रामनवमी के मौके पर यह तस्वीर खींची गई है और सोशल साइट रेडिट (Reddit) के एक यूजर ने इस तस्वीर को सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर डाली है। इस तस्वीर को लोग काफी पसंद कर रहे हैं। इतना ही नहीं यह तस्वीर अब अन्य सोशल साइट्स पर वायरल भी हो चुकी है।

दरअसल तस्वीर में नजर आ रहा है कि रामनवमी के मौके पर निकले जुलूस के दौरान मुस्लिम भाइयों ने हिंदुओं के लिए ना सिर्फ पानी, शरबत का इंतजाम किया बल्कि उन्हें अपने हाथों से पानी पिलाकर आपसी एकता और एक-दूसरे के धर्मों के प्रति सम्मान की एक मिसाल पेश की। आपको बता दें कि रविवार (25-03-2018) को पूरे देश में रामनवमी का पर्व धूम-धाम से मनाया गया। इस दौरान पश्चिम बंगाल और बिहार के कुछ हिस्सों से हिंसा की खबरें भी आईं। लेकिन इन सब के बावजूद मुस्लिम संप्रदाय के लोगों द्वारा जुलूस में हिंदुओं को जलपान करानेे की इह तस्वीर के सामने आने के बाद भारत की अनेकता में एकता की पहचान और सुदृढ़ हो गई है।

इसमे कोई दो राय नहीं कि रह-रह कर देश के अलग-अलग हिस्सों में होने वाले सांप्रदायिक तनाव को रोकना आज देश के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। सोशल मीडिया से लेकर अन्य जगहों पर कई लोग सिर्फ अपने फायदे के लिए दो संप्रदायों के बीच तनाव फैलाने की कोशिश में जुटे रहते हैं। लेकिन रामनवमी के मौके आए हिंदु-मुसलमान आपसी सौहार्द की इस तस्वीर ने लोगों को आपसी प्रेम का पैगा़म दिया है।