दुनिया

शर्मनाक:16 वर्षीय बहादुर फिलिस्तीनी लड़की का इज़राईल पूछताछ के नाम पर कर रहा है यौन उत्पीडन

नई दिल्ली:फिलिस्तीन की बहादुर लड़की जिसको बहादुरी पर तुर्की की तरफ से अवॉर्ड भी मिल चुका है पिछले आठ महीनों से इज़राईल की क़ैद में है,तमीमी ने एक इज़रायली सैनिक को थप्पड़ मारा था जिसके कारण उसके खिलाफ मुकदमा चलाया जारहा है।

अल तमीमी की आयु 17 वर्ष है जिसको इज़राईल ने क़ैद किया हुआ से पूछताछ के नाम टॉर्चर किया जारहा है ,तमीमी के अधिवक्ता ने बताया कि पूछताछ के दौरान उसका यौन उत्पीड़न किया गया है।

तमीमी के वकील गेबी लास्की ने अटॉर्नी जनरल को एक औपचारिक शिकायत में कहा कि तमीमी से पूछताछ के दौरान “अनुचित व्यवहार” किया गया है किया, जिसमें कहा गया था कि वह “एक परी की तरह आँखें” थीं।

लास्की ने यह भी कहा कि तमीमी से पूछताछ करने वालों ने उसके परिवार के अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने की धमकी भी दी है

16 वर्षीय फिलिस्तीनी लड़कीं अल तमीमी को इज़रायली जेल में रखा गया है जिस पर लोगों को भड़काने और सैनिकों पर हमले करने के मुक़दमा चल रहा है, तमीमी का एक वीडीयो पूरी दुनिया मे वायरल हुआ था जिसमें वो एक इज़राईली सैनिक को थप्पड़ मारती हुई नज़र आरही है,जिसके बाद तमीमी को गिरफ्तार किया गया था।

इंटरनेशनल एनजीओ और संयुक्त राष्ट्र जैसे निकायों ने तामिमी के इलाज के लिए इजरायल की निंदा की है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि सेना ने अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत उनके अधिकारों का उल्लंघन किया है। विशेषज्ञों ने नोट किया कि कानूनी वकील तक उनकी पहुंच से इनकार किया गया था और इसराइल ने बाल अधिकारों के सम्मेलन का उल्लंघन किया है और उन्हें व्यापक समय के लिए हिरासत में लिया है।